Menu

10th Mathematics Archive

Surface Area and Volume of Cylinder

1.बेलन का पृष्ठीय क्षेत्रफल एवं आयतन (Surface Area and Volume of Cylinder): बेलन का पृष्ठीय क्षेत्रफल एवं आयतन (Surface Area and Volume of Cylinder):मापन जार,गोल खम्भे,गोल पाइप,टेस्ट ट्यूब इत्यादि ऐसी वस्तुएं हैं जिसमें एक पार्श्व वक्र पृष्ठ (Lateral Curved Surface) और सर्वांगसम वृत्तीय अनुप्रस्थ काट (Cross Section) हो, वृत्तीय बेलन (Circular Cylinder) कहलाता है।वृत्तीय अनुप्रस्थ

Surface Area and Volume of Cuboid

1.घनाभ का पृष्ठीय क्षेत्रफल और आयतन (Surface Area and Volume of Cuboid),घन और घनाभ का पृष्ठीय क्षेत्रफल और आयतन (Surface Area and Volume of Cube and Cuboid): घनाभ का पृष्ठीय क्षेत्रफल और आयतन (Surface Area and Volume of Cuboid):एक माचिस की डिब्बी,कमरा,चाक का डिब्बा,ईंट आदि घनाभ के उदाहरण हैं।घनाभ को समकोणिक समांतर षट्फलक भी कहा

Properties of Circle

1.वृत्त के गुणधर्म (Properties of Circle): वृत्त के गुणधर्म (Properties of Circle) से पहले कुछ परिभाषाओं का अध्ययन करना आवश्यक है।वृत्त (Circle): वृत्त एक समतल में स्थित बिन्दुओं का समुच्चय होता है जो उस समतल में दिए गए एक बिन्दु (Fixed Point) से दी हुई नियत दूरी (Constant Distance) पर होते हैं।स्थिर बिन्दु को वृत्त

Pythagoras Theorem

1.पाइथागोरस प्रमेय (Pythagoras Theorem),पाइथागोरस प्रमेय सूत्र (Pythagoras Theorem Formula): पाइथागोरस प्रमेय (Pythagoras Theorem):पाइथागोरस समीकरण एक समकोण त्रिभुज की भुजाओं को सरल तरीके से जोड़ता है,ताकि यदि किन्हीं दो भुजाओं की लंबाई ज्ञात हो तो तीसरी भुजा की लंबाई को ज्ञात किया जा सकता है।(1.)पाइथागोरस प्रमेय कथन (Pythagoras Theorem Statement):किसी भी समकोण में,कर्ण का वर्ग शेष

Ratio of Areas of Similar Triangles

1.समरूप त्रिभुजों के क्षेत्रफलों का अनुपात (Ratio of Areas of Similar Triangles),समरूप त्रिभुजों का क्षेत्रफल प्रमेय कक्षा 10 (Area of Similar Triangles Theorem Class 10): समरूप त्रिभुजों के क्षेत्रफलों का अनुपात (Ratio of Areas of Similar Triangles) उनकी संगत भुजाओं के वर्गों के अनुपात अथवा ऊंचाइयों के वर्गो के अनुपात अथवा उनकी माध्यिकाओं के वर्गों

Similarity of Triangles

1.त्रिभुजों की समरूपता (Similarity of Triangles),समरूप त्रिभुज (Similar Triangles)- त्रिभुजों की समरूपता (Similarity of Triangles) को समझने के लिए समरूपता को समझना आवश्यक है।समरूपता (Similarity)-दो आकृतियां समान हों परन्तु माप समान न हों समरूप आकृतियां कहलाती हैं।दो सर्वांगसम आकृतियां समरूप होती है परन्तु दो समरूप आकृतियां सर्वांगसम नहीं होती है।जैसे-दो रेखाएं समरूप होती हैं?,दो वृत्त

Circle with Tangents

1.वृत्त की स्पर्श रेखाएं (Circle with Tangents),एक वृत्त में कितनी स्पर्शरेखाएं हो सकती हैं?(How Many Tangents Can a Circle Have?)- यहां वृत्त की स्पर्श रेखाओं (Circle with Tangents)से संबंधित विभिन्न प्रमेयों को सिद्ध किया गया है जिनके आधार पर प्रश्नों को हल किया जा सकता है।छेदक रेखा (Secant)-रेखा AB वृत्त को दो भिन्न-भिन्न बिंदुओं पर

Basic Proportionality Theorem

1.आधारभूत आनुपातिकता प्रमेय (Basic Proportionality Theorem),थेल्स प्रमेय (Thales Theorem)- आधारभूत आनुपातिकता प्रमेय (Basic Proportionality Theorem) को थेल्स प्रमेय (Thales Theorem) भी कहते हैं।क्योंकि थेल्स (लगभग 600 ई.पू.) जिन्होंने यूनान में ज्यामिति के अध्ययन की शुरुआत की,ने समरूप त्रिभुजों से सम्बद्ध एक महत्त्वपूर्ण तथ्य,”समरूप त्रिभुजों में सदैव किन्हीं दो संगत भुजाओं की लम्बाइयों का अनुपात समान

Loci And Concurrent Lines

1.बिन्दुपथ और संगामी रेखाएं (Loci And Concurrent Lines)- बिन्दुपथ और संगामी रेखाएं (Loci And Concurrent Lines) में बिन्दुपथ का अर्थ होता है बिन्दुओं का मार्ग। जिसका अर्थ है कि गतिमान बिन्दु का बिन्दुपथ वह वक्र है,जो दिए गए प्रतिबन्धों के अधीन अनुरेखित हो।फिर भी ज्यामितीय दृष्टिकोण से उपर्युक्त कथन से विस्तृत है।हम बिन्दुपथ को अधिक

Height and Distance in Trigonometry

1.त्रिकोणमिति में ऊँचाई और दूरी (Height and Distance in Trigonometry)- त्रिकोणमिति में ऊँचाई और दूरी (Height and Distance in Trigonometry) का अध्ययन करने के लिए त्रिकोणमिति सर्वसमिकाओं और कुछ विशेष कोणों के लिए त्रिकोणमितीय अनुपातों का अध्ययन आवश्यक है।इस आर्टिकल में त्रिकोणमितीय परिणामों का प्रयोग कर ऊंचाई एवं दूरी पर आधारित सरल समस्याओं के बारे