Menu

Statistics Archive

Harmonic Mean

1.हरात्मक माध्य (Harmonic Mean),गुणोत्तर माध्य (Geometric Mean): हरात्मक माध्य (Harmonic Mean):-किसी समंकश्रेणी में मूल्यों की संख्या को उनके व्युत्क्रमों (Reciprocals) के योग से भाग देने पर जो मूल्य प्राप्त होता है वही उस श्रेणी का हरात्मक माध्य (Harmonic Mean) कहलाता है।दूसरे शब्दों में मूल्यों के व्युत्क्रमों के समान्तर माध्य के व्युत्क्रम को उनका हरात्मक माध्य

Geometric Mean in Statistics

1.सांख्यिकी में गुणोत्तर माध्य (Geometric Mean in Statistics),गुणोत्तर माध्य (Geometric Mean): किसी समंक श्रेणी का सांख्यिकी में गुणोत्तर माध्य (Geometric Mean in Statistics) उसके सभी मूल्यों के गुणनफल का वह मूल (Root) होता है जितनी उस श्रेणी में इकाइयां हैं।उदाहरणार्थ यदि दो संख्याओं के मूल्य 3 और 27 हैं तो उनका गुणोत्तर माध्य 9 होगा।इसी

Crude and standardized Death Rates

1.सामान्य व प्रमापित मृत्यु व जन्म दरें (Crude and standardized Death Rates),जनरल एण्ड स्टैंडर्ड डैथ रेट (General and standardised Death Rates): भारित समांतर माध्य का प्रयोग दो स्थानों पर सामान्य व प्रमापित मृत्यु व जन्म दरें (Crude and standardized Death Rates) ज्ञात करने के लिए भी किया जाता है अथवा एक ही आयु ग्रुप की

Weighted Arithmetic Mean

1.भारित समान्तर माध्य (Weighted Arithmetic Mean),भारित समान्तर माध्य सूत्र (Weighted Arithmetic Mean Formula): भारित समान्तर माध्य (Weighted Arithmetic Mean) समांतर माध्य का ही एक प्रकार है।समांतर माध्य दो प्रकार के होते हैं:(i)सरल समांतर माध्य (Arithmetic Mean)(ii)भारित समांतर माध्य (Weighted Arithmetic Mean)भारित समान्तर माध्य (Weighted Arithmetic Mean):व्यवहार में अनेक श्रेणियों में विभिन्न मूल्यों का अलग-अलग सापेक्षिक

Combined Arithmetic Mean

1.सामूहिक समान्तर माध्य (Combined Arithmetic Mean),सामूहिक समान्तर माध्य सूत्र (Combined Arithmetic Mean Formula): सामूहिक समान्तर माध्य (Combined Arithmetic Mean):-यदि किसी समूह के दो या अधिक भागों के अलग-अलग समांतर माध्य और उन भागों में पदों की संख्या ज्ञात हो तो उनकी सहायता से पूरे समूह का सामूहिक समान्तर माध्य (Combined Arithmetic Mean) ज्ञात किया जा

How to Find Missing Frequencies?

1.अज्ञात आवृत्तियों को कैसे ज्ञात करें? (How to Find Missing Frequencies?),मध्यका में अज्ञात आवृत्तियाँ (Missing Frequencies in Median): अज्ञात आवृत्तियों को कैसे ज्ञात करें? (How to Find Missing Frequencies?)किसी आवृत्ति श्रेणी में यदि मध्यका और बहुलक के मान दिए हों और कुछ आवृत्तियाँ अज्ञात हों तो M और Z के सूत्रों का प्रयोग करके ज्ञात

Quantiles in Statistics

1.सांख्यिकी में क्वांटाइल्स (Quantiles in Statistics),सांख्यिकी में विभाजन मूल्य (Quantiles Statistics): सांख्यिकी में क्वांटाइल्स(Quantiles in Statistics) मध्यका के सिद्धान्त पर आधारित हैं।मध्यका समंक श्रेणी को दो बराबर भागों में विभाजित करता है।मध्यका के सिद्धान्त के आधार पर समंक माला को चार, पाँच, आठ, दस या सौ बराबर भागों में बाँटा जा सकता है।श्रेणी को अनेकों

How to Find Mean Mode and Median?

1.माध्य, बहुलक और मध्यका कैसे ज्ञात करें? (How to Find Mean Mode and Median?),समान्तर माध्य, बहुलक और मध्यका (Arithmetic Mean Mode and Median): माध्य, बहुलक और मध्यका कैसे ज्ञात करें? (How to Find Mean Mode and Median?):-समान्तर माध्य, बहुलक और मध्यका (Arithmetic Mean Mode and Median) सभी प्रकार के माध्यों में सबसे अधिक लोकप्रिय हैं।समान्तर

Median

1.मध्यका (Median): मध्यका (Median): किसी समंक-श्रेणी की आरोही (बढ़ते हुए) या अवरोही (घटते हुए) क्रम में व्यवस्थित करने पर उस श्रेणी के मध्य में जो मूल्य आता है वही मध्यका (Median) कहलाता है।कौनर के शब्दों में, ‘मध्यका समंक-श्रेणी का वह चर मूल्य है जो समूह को दो बराबर भागों में इस प्रकार बाँटता है कि

Mode

1.बहुलक (Mode): बहुलक (Mode):सांख्यिकी में बहुलक (या भूयिष्ठक) उस मूल्य को कहते हैं जो समंकमाला में सबसे अधिक बार आता हो अर्थात् जिसकी सबसे अधिक आवृत्ति हो।यह सर्वाधिक घनत्व की स्थिति (Position of Greatest Density) या मूल्यों का अधिक संकेन्द्रण का बिन्दु (Point of Highest Concentration of Values) कहलाता है।क्राक्सटन एवं काउडेन के अनुसार एक