Menu

What are 7 benefits of reading books?

1.पुस्तकें पढ़ने के 7 फायदे क्या हैं?(What are 7 benefits of reading books?)-

  • पुस्तकें पढ़ने के 7 फायदे (7 benefits of reading books) बताएंगे जो न केवल विद्यार्थी जीवन बल्कि आम आदमी की जीवन शैली में परिवर्तन लाते हुए उनकी सोच व समझ को निखारने में मदद करेंगे।
  • आधुनिक युग विज्ञान और टेक्नोलॉजी का युग है ।इस युग में किताबों को पढ़ने का शौक खत्म होता जा रहा है। विद्यार्थी तथा आम आदमी इंटरनेट और टेक्नोलॉजी का अधिक से अधिक प्रयोग करता जा रहा है।स्कूल की पढ़ाई तथा दैनिक क्रियाकर्मों के खत्म होते ही ज्योंही समय मिलता है विद्यार्थी मोबाइल फोन ,कंप्यूटर या लैपटॉप पर व्यस्त हो जाते हैं। मोबाइल फोन के माध्यम से दोस्तों से चैट करना ,सोशल मीडिया साइट्स जैसे फेसबुक ,ट्विटर पर लोगों की पोस्ट देखना तथा इंटरनेट पर ब्राउजिंग करना ,ये पसंद के कार्य है।इससे छात्रों की पुस्तकों से दूरियां बढ़ती जा रही है।छात्र पुस्तकों में रुचि लेना पसंद नहीं करते हैं।
  • छात्र-छात्रा तथा आम आदमी पुस्तक से दूर होता जा रहा है। इसका मुख्य कारण यह है कि वे यह जानते ही नहीं हैं कि किताबें कितनी लाभदायक है।स्कूल में पढ़ी जाने वाली किताबों के अलावा अन्य पुस्तकें छात्रों के व्यक्तित्व को निखारने में कितनी महत्वपूर्ण भूमिका है ,यह वे जानते ही नहीं है।अन्य किताबों जैसे ज्ञानवर्धक पुस्तकें कहानियों की किताबें ,महत्वपूर्ण व्यक्तियों की जीवनी उनकी सोच व समझ को विकसित करती है ,इसके बारे में छात्र अनजान हैं।
  • इस आर्टिकल में पुस्तकें पढ़ने के 7 फायदे (7 benefits of reading books) बताए गए हैं।इन महत्त्वपूर्ण पुस्तकें पढ़ने के 7 फायदे (7 benefits of reading books) जानकर छात्रों की रुचि पुस्तकों के प्रति जागृत हो सकेगी।
  • आपको यह जानकारी रोचक व ज्ञानवर्धक लगे तो अपने मित्रों के साथ इस गणित के आर्टिकल को शेयर करें ।यदि आप इस वेबसाइट पर पहली बार आए हैं तो वेबसाइट को फॉलो करें और ईमेल सब्सक्रिप्शन को भी फॉलो करें जिससे नए आर्टिकल का नोटिफिकेशन आपको मिल सके ।यदि आर्टिकल पसन्द आए तो अपने मित्रों के साथ शेयर और लाईक करें जिससे वे भी लाभ उठाए ।आपकी कोई समस्या हो या कोई सुझाव देना चाहते हैं तो कमेंट करके बताएं। इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें।

Also Read This Article-7 tips to stay mentally strong

2.पुस्तकें पढ़ने के 7 फायदे में पहला फायदा यह है कि इससे तनाव दूर होता है (The first benefit in 7 benefits of reading books is that it removes stress)-

  • छात्रों पर परीक्षा का दबाव, अच्छा रिजल्ट का दबाव तथा माता-पिता ,अभिभावकों व शिक्षकों के दबाव के कारण छात्रों के जीवन में तनाव बना रहता है।इस तनाव को दूर करने में पुस्तके सहायक हो सकती हैं।जब आप कोई मनोरंजक पुस्तक पढ़ते हैं तथा उसको पढ़ने में इतने तल्लीन व एकाग्र हो जाते हैं कि आप अपने वास्तविक जीवन के दबाव व तनावों को भूल जाते हैं।मनोरंजक कहानियों ,जीवनी को पढ़ने पर आप अपने आपको उनसे इतना जुड़ा हुआ मान लेते हैं और रोमांचित हो जाते हैं कि आपको अपने निजी जीवन की चिंताएं व तनाव का पता ही नहीं लगता है।इस प्रकार पुस्तकें पढ़ने से आपका मनोरंजन तो होगा ही साथ ही आप अपने व्यक्तित्व में सुधार करने के तरीके भी जान सकेंगे।इस दौरान आपका दिमाग हर उलझन, थकान ,चिंता इत्यादि को भूल जाएगा।

3.रचनात्मक सोच को बढ़ावा दें (Promote creative thinking)-

  • आज का युग प्रतिस्पर्धा का युग है।इस प्रतिस्पर्धा के युग में आपको आगे बढ़ने के लिए नए-नए विचारों की खोज करते रहना चाहिए।आपके दिमाग में नए-नए आईडियाज तभी आ सकेंगे जबकि आपकी सोच क्रिएटिव होगी।आपकी सोच क्रिएटिव तभी हो सकेगी जब आप तनावग्रस्त न हो। या यह कह लीजिए कि आप तनावग्रस्त होंगे तो क्रिएटिव नहीं हो सकेंगे।इसलिए अपने आप को रचनात्मक सोच में व्यस्त रखें जिससे तनाव आप पर हावी नहीं होगा। तनाव तथा चिंताग्रस्त दिमाग रचनात्मक तरीके से नहीं सोच पाएगा।
  • रचनात्मक सोच के अभाव में अच्छे सुझावों और आइडियाज की कमी हो जाएगी। इसलिए पुस्तकें पढ़ने से आपकी रचनात्मक सोच बढ़ेगी।पुस्तकों में नए-नए आईडियाज पढ़ने को मिलेंगे जो आपके अंदर अलग-अलग स्थितियों में सोचने की क्षमता में वृद्धि करेगी। पुस्तकें पढ़ने के 7 फायदे (7 benefits of reading books) में यह दूसरा फायदा है।

4.स्मरणशक्ति तथा मानसिक स्वास्थ्य में सहायक (Helpful in memory and mental health)-

  • जैसे शरीर को स्वस्थ और चुस्त रखने के लिए योगासन-प्राणायाम की जरूरत होती है उसी प्रकार मस्तिष्क को स्मरणशक्ति व मानसिक स्वास्थ्य की आवश्यकता होती है।मानसिक स्वास्थ्य ,स्मरणशक्ति हमारी पढ़ने की आदत से बढ़ती है।इसलिए हमें अच्छी-अच्छी पुस्तकें पढ़ना चाहिए।जब आप पुस्तकें पढ़ते हैं तो पुस्तक के सभी पात्र, उनकी पृष्ठभूमि ,उनका उद्देश्य तथा उनके चारित्रिक गुणों को याद रखना पड़ता है जिसके कारण आपका मस्तिष्क अपनी पूर्ण क्षमता का उपयोग करते हुए चीजों को याद रखना सीखता है।
  • इस प्रकार पुस्तकें पढ़ने से आपकी स्मरणशक्ति में तो वृद्धि होती ही है साथ ही दिमागी कौशल भी बढ़ता है।पुस्तकें पढ़ने के 7 फायदे (7 benefits of reading books) में यह तीसरा फायदा है।

5.शब्दकोश में वृद्धि (Dictionary enhancement)-

  • आपने अक्सर अनुभव किया होगा कि मोबाइल पर चैट करते हुए, ईमेल लिखते हुए या किसी प्रश्न का उत्तर लिखते हुए आपके पास उचित शब्दों की कमी हो जाती है। आप अपने मस्तिष्क पर जोर डालकर याद करने की बहुत कोशिश करते हैं परंतु उचित शब्द प्राप्त नहीं होता है।इस प्रकार की कठिनाई आप पुस्तकें पढ़ने की हैबिट से दूर कर सकते हैं।विभिन्न प्रकार की पुस्तकें पढ़ने से आपको अलग-अलग शब्दों की जानकारी होती है।आप यह जान पाते हैं कि किस शब्द का प्रयोग कब करना है।इस प्रकार पुस्तकें पढ़ने से आपके ज्ञानकोष में वृद्धि होती है। पुस्तकें पढ़ने के 7 फायदे (7 benefits of reading books) में यह चौथा फायदा है कि आपके शब्दकोश में वृद्धि होती जाती है।

Also Read This Article-How to avoid peer pressure?

6.आप प्रभावशाली वक्ता बन सकते हैं (You can be an effective speaker)-

  • पुस्तकें पढ़ने के 7 फायदे (7 benefits of reading books) में पांचवा फायदा है कि आप एक सफल वक्ता बन सकते हैं।पुस्तकों में विभिन्न लेख पढ़ते हैं। बहुत से वक्ताओं के भाषण पढ़ते हैं।जिससे आपको विभिन्न स्थितियों का अन्वेषण व विश्लेषण करना आ जाता है।इस प्रकार धीरे-धीरे आपके अंदर विशाल ज्ञान का स्रोत इकट्ठा हो जाता है।इस ज्ञान का उपयोग किसी भी मौके पर बोलने में सीख सकते हो।लोगों को अच्छे-अच्छे शब्दों का प्रयोग करके अपने साथ जोड़ते हुए आकर्षित कर सकते हो।
  • विभिन्न विद्वानों, दार्शनिकों तथा वक्ताओं ने किस समय किस प्रकार जनसमूह को संबोधित किया है।इसे आप अच्छी पुस्तकें पढ़कर जान जाते हो।इसका प्रयोग किसी भी सार्वजनिक समूह, स्कूल के विभिन्न कार्यक्रमों में कर सकते हो।

7.मन को एकाग्र करने में सहायक (Helpful in concentrating the mind)-

  • पुस्तकें पढ़ने के 7 फायदे (7 benefits of reading books) में अगला फायदा है कि पुस्तकों के आधार पर आप मन को एकाग्र कर सकते हो।किसी भी पुस्तक को ठीक से समझने तथा आनंद लेने के लिए आपको पूरा ध्यान पुस्तक को पढ़ने में लगाना होता है।इस प्रकार आप मन को बाहरी दुनिया से हटाकर अपने आपको पुस्तक पढ़ने के साथ एकाकार कर लेते हो।इससे धीरे-धीरे आपकी एकाग्रता सधने लगती है।इसके अलावा पुस्तकों में ध्यान व योग करने की विधियां जानकर आप व्यावहारिक रूप से सुबह दैनिक नित्यकर्मों से निवृत्त होकर ध्यान व योग कर सकते हो।
    इस प्रकार पुस्तकें पढ़ने से आपकी एकाग्रता में वृद्धि होने लगती है।पुस्तकें पढ़ते समय आप अपने आपको भूल जाते हो ,आपको अपने शरीर का बोध भी नहीं रहता है।यही तो ध्यान व योग की क्रियाएं है।

8.शांत व संयमित रहना सीखते हैं (Learn to be calm and restrained)-

  • पुस्तकें पढ़ने के 7 फायदे (7 benefits of reading books) में अंतिम फायदा यह है कि पुस्तकें पढ़ने से आप शांत व संयमित रहना सीखते हैं।आजकल की व्यस्तता भरी जिंदगी में पुस्तकें पढ़ने से पूर्ण शांति व सुकून मिलता है।वैज्ञानिक अनुसंधान में भी यह बात सामने आई है कि आध्यात्मिक तथा धार्मिक पुस्तकें पढ़ने से ब्लड प्रेशर ,हायपर टेंशन ,टेंशन कम होता है और आपमें शांति व सहजता आती है।इसलिए सांसारिक भागदौड़ ,उलझन से मुक्त होना चाहते हैं तो मनपसंद आध्यात्मिक व धार्मिक पुस्तकें पढ़ें।
  • एकांत में बैठकर इन पुस्तकों का अध्ययन करें।इस प्रकार की पुस्तकें पढ़ने से मिलने वाली शांति व सुकून को अनुभव करें।
    तो देखा आपने पुस्तकें पढ़ने से कितने फायदे हैं। पुस्तकें छात्रों की सच्ची मित्र हैं। ये बिना बेंत मारे आपको अच्छा व सच्चा मार्ग दिखाती है।आपकी जिंदगी में अच्छे या बुरे वक्त में पुस्तकें सच्ची मित्र हैं। पुस्तकों से एक बार प्रेम करके देखें। अपनी आदत पुस्तकों को पढ़ने में लगाएं।शायद कुछ छात्र यह सोचते हो कि उन्हें कोर्स की पुस्तकें पढ़ने में ही समय नहीं मिलता है।जो लोग आगे बढ़ते हैं और महान कार्य करते हैं उनको और हमें उतना ही समय मिलता है। दरअसल अच्छी आदत को अपनाने के लिए समय इतना महत्व नहीं रखता है जितना महत्त्व आपकी लगन और आपका उत्साह रखता है।ये हैं पुस्तकें पढ़ने के 7 फायदे (7 benefits of reading books)। पुस्तकें पढ़ने के 7 फायदे (7 benefits of reading books) आपकी जीवनशैली को बिल्कुल बदल कर रख देंगे।
No.Social MediaUrl
1.Facebookclick here
2.you tubeclick here
3.Twitterclick here
4.Instagramclick here
5.Linkedinclick here
6.Facebook Pageclick here
No Responses

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *