Menu

Career in Telecommunication in 2021-22

Contents hide
2 (1.)इंटरनेट डाटा खपत से बढ़ती आशाएं (Rising Expectations from Internet Data Consumption):

1.2021-22 में टेलीकम्युनिकेशन में करियर (Career in Telecommunication in 2021-22),टेलीकम्युनिकेशन में करियर (Career in Telecommunications):

  • 2021-22 में टेलीकम्युनिकेशन में करियर (Career in Telecommunication in 2021-22) की अपार संभावनाएं हैं।पिछले 2 वर्ष में कोरोनावायरस से फैली महामारी कोविड-19 के कारण लोगों की भौतिक गतिविधियां बंद की हो गई थी।ऐसी स्थिति में आपसी संवाद तथा कार्यकलाप का माध्यम टेलीकम्युनिकेशन के द्वारा ही संभव हुआ है।वर्क फ्रॉम होम,वर्चुअल मीटिंग,वेबीनार,ऑनलाइन लर्निंग,ऑनलाइन पेमेंट,ऑनलाइन गेमिंग,ऑनलाइन टीचिंग,ऑनलाइन एग्जामिनेशन तथा विभिन्न सेवाओं के लिए ऑनलाइन आवेदन,ऑनलाइन इंटरव्यू ये सभी कार्य टेलीकम्युनिकेशन के कारण संभव हुआ है।इन विगत 2 वर्षों में टेलीकम्युनिकेशन कितना महत्वपूर्ण और उपयोगी सिद्ध हुआ है यह हम देख चुके हैं।
  • महामारी के इस दौर में हमारे अधिकांश कार्य बिना किसी अड़चन के होते रहे हैं।इसलिए भारतीय टेलीकॉम इंडस्ट्री तेजी से आगे बढ़ रही है।टेलीकम्युनिकेशन के केरियर का स्काॅप बढ़ता जा रहा है।सरकार को भी टेलीकम्युनिकेशन का महत्त्व समझ में आ गया है।इसलिए मेडिकल और पुलिस सेवा की तरह ही सरकार ने टेलीकॉम सेक्टर को भी आवश्यक सेवा की श्रेणी में रख दिया है।हाल ही में केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा 16 राज्यों के गांवों को इंटरनेट से जोड़ने के लिए 19000 करोड रुपए की मंजूरी दिए जाने से शीघ्र ही ग्रामीण क्षेत्रों में भी अच्छी कनेक्टिविटी की आशा की जा रही है।
  • केंद्र सरकार की ओर से वर्तमान में भारत नेट प्रोजेक्ट के तहत उपलब्ध कराए गए फंड से 360000 गांवों को ब्रॉडबैंड सेवाओं से जोड़ने की तैयारी चल रही है।इससे पूर्व 1.56 लाख ग्राम पंचायतों को ब्रॉडबैंड से जोड़ा जा चुका है।
  • इससे स्पष्ट है कि शहरों के बाद सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में भी सरकार का जोर नेट कनेक्टिविटी बढ़ाने पर है।सरकार इस सेक्टर को बढ़ावा दे रही है।इसके लिए टेलीकॉम सेक्टर में कलपुर्जे के घरेलू उत्पादन को बढ़ावा देने हेतु प्रोत्साहन योजना को मंजूरी दी गई जिससे भारत आत्मनिर्भर हो सकें।इससे युवाओं के लिए बड़ी संख्या में नौकरियों के अवसर पैदा होंगे।
  • आपको यह जानकारी रोचक व ज्ञानवर्धक लगे तो अपने मित्रों के साथ इस गणित के आर्टिकल को शेयर करें।यदि आप इस वेबसाइट पर पहली बार आए हैं तो वेबसाइट को फॉलो करें और ईमेल सब्सक्रिप्शन को भी फॉलो करें।जिससे नए आर्टिकल का नोटिफिकेशन आपको मिल सके ।यदि आर्टिकल पसन्द आए तो अपने मित्रों के साथ शेयर और लाईक करें जिससे वे भी लाभ उठाए ।आपकी कोई समस्या हो या कोई सुझाव देना चाहते हैं तो कमेंट करके बताएं।इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें।

Also Read This Article:IIIT Hyderabad Launches Special Channel for Admission to BTech Without JEE Main

(1.)इंटरनेट डाटा खपत से बढ़ती आशाएं (Rising Expectations from Internet Data Consumption):

  • एरिक्सन मोबिलिटी की हाल ही की रिपोर्ट के अनुसार 2026 तक भारत में कुल मोबाइल में 98% के पास स्मार्टफोन होगा और तब तक प्रति व्यक्ति डाटा खर्च बढ़कर करीब 3 गुना तक बढ़ जाएगा जो अभी औसतन 14.6 GB  लगभग है।कोविड-19 के दौर में मोबाइल पर डाटा का उपयोग कई गुना तेजी से बढ़ा है।घर की तमाम जरूरत की चीजों की खरीदारी,ऑनलाइन स्टडी जैसी सभी तरह की गतिविधियां अब ऑनलाइन होने लगी है।
  • सिनेमा हॉल और मल्टीप्लेक्स बंद होने से लोग और ओटीटी (ओवर द टाॅप) के जरिए फिल्में,वेब सीरीज भी देख रहे हैं।बच्चे वीडियो गेमिंग से ऑनलाइन गेमिंग की तरफ डायवर्ट हो गए हैं।लोग रेल टिकट,हवाई टिकट ऑनलाइन बुक करा रहे हैं।यानी लोग ज्यादा से ज्यादा गतिविधियां ऑनलाइन कर रहे हैं।
  • एक आंकड़े के अनुसार आज की तुलना में 2026 तक वीडियो का उपयोग भी 66% से बढ़कर 77% तक पहुंच जाएगा यानी मैसेजिंग से लेकर इंटरनेट मीडिया पर प्रचार-प्रसार के लिए भी इसी का ज्यादा प्रयोग होगा। दूरदराज के क्षेत्रों में ब्रॉडबैंड की कवरेज बढ़ाने के लिए फाइबर बिछाने से ग्रामीण क्षेत्रों में भी टेलीकम्युनिकेशन सेक्टर की भूमिका ओर बढ़ जाएगी।

(2.)केरियर के अवसर (Career Opportunities):

  • स्मार्टफोन अधिक से अधिक लोगों द्वारा उपयोग करने और इंटरनेट डाटा की खपत बढ़ने से इस क्षेत्र में रोजगार के अवसर पैदा हो रहे हैं।निकट भविष्य में यह सेक्टर रोजगार प्रदान करने वाले शीर्ष सेक्टर में होगा।
  • टेलीकॉम सेक्टर में टेक्निकल और नॉन टेक्निकल पदों के लिए करियर के मौके हैं।यदि आपने टेलीकम्युनिकेशन सेक्टर में कोर्स कर रखा है तो टेलीकॉम सॉफ्टवेयर इंजीनियर,टेलीकॉम सिस्टम साॅल्युशन इंजीनियर,कम्युनिकेशन इंजीनियर,नेटवर्क इंजीनियर जैसे पदों पर जॉब प्राप्त कर सकते हैं।वहीं नाॅन-टेक्निकल पृष्ठभूमि के लोग ऑपरेटिंग,इंस्टाॅलिंग और मेंटिनेन्स जैसे एरिया से जुड़कर अपना करियर बना सकते हैं। टेलीकम्युनिकेशन बीई/बीटेक कोर्स करने वालों की आजकल इससे जुड़े दूसरे सेक्टर में भी डिमांड है।जैसे कि टेलीफोन/मोबाइल इंडस्ट्री,कंप्यूटर इंडस्ट्री,सेटेलाइट कम्युनिकेशन,फाइबर ऑप्टिक्स कम्युनिकेशन सिस्टम इत्यादि तथा डिप्लोमा,आईटीआई जैसे कोर्स करके भी युवा यहां टेक्निशियन के रूप में अपना करियर शुरू कर सकते हैं।

(3.)तकनीकी योग्यता (Technical Ability):

  • टेलीकम्युनिकेशन जैसे तकनीकी फील्ड में आने के लिए कम्युनिकेशन स्किल,कंप्यूटर हार्डवेयर,सॉफ्टवेयर नेटवर्किंग,टेक्निकल राइटिंग जैसी स्किल्स होनी चाहिए।
  • देश के विभिन्न संस्थानों द्वारा टेलीकम्युनिकेशन में स्नातक, स्नातकोत्तर,डिप्लोमा,पीजी डिप्लोमा स्तर के कोर्स कराए जा रहे हैं।
  • बीई/बीटेक में कोर्स करने हेतु 12वीं परीक्षा पीसीएम विषयों से पास होना आवश्यक है।जबकि 2 वर्षीय पोस्टग्रेजुएट कोर्स के लिए उसी स्ट्रीम में बीई या बीटेक की डिग्री आवश्यक है।डिप्लोमा या पीजी डिप्लोमा के लिए भी छात्र का स्नातक होना आवश्यक है।इसके अलावा स्टूडेंट्स नेटवर्क इन वॉयरलैस कम्युनिकेशन,नेटवर्क सिक्योरिटी,टेलिकॉम लाॅ एंड पॉलिसी जैसे कोर्स करके इस फील्ड में जा सकते हैं।

Also Read This Article:HCL Technologies to Hire 20000 Fresher

(4.)वेतन (Salary):

  • टेलीकॉम इंडस्ट्री की बढ़ती जरूरत को पूरा करने के लिए युवाओं की डिमांड बढ़ रही है।इसलिए अच्छी सैलरी पैकेज ऑफर मिलने लगे हैं।किसी भी टेलीकॉम इंजीनियर को यहां प्रारम्भ में 40 से ₹50000 तक वेतन मिल रहा है।गैर तकनीकी पृष्ठभूमि के प्रोफेशनल्स भी शुरू में 20 से 25 हजार तक प्राप्त कर रहे हैं।

(5.)कोर्स करने के लिए मुख्य संस्थान (Main Institute for Course):

  • आईआईटी खड़कपुर,खड़कपुर/दिल्ली (http://www.iitkgp.ac.in)
    बिड़ला इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी एंड साइंस पिलानी (www.bits.pilani.ac.in)
    एनआईटी ग्रेटर नोएडा (www.niet.co.in)
    सिम्बाॅयोसिस इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेलीकॉम मैनेजमेंट पुणे (www.sitm.ac.in)

(6.)मुख्य बातें (Highlights):

  • देश में अगले 5 वर्ष में प्रति व्यक्ति डाटा खपत 3 गुना बढ़ जाएगी।
  • वर्ष 2026 तक स्मार्टफोन यूजर्स की संख्या 120 करोड़ हो जाएगी।अभी यह संख्या 81 करोड़ के लगभग है।
    अभी 4G नेटवर्क यूजर्स 61 प्रतिशत प्रयोग कर रहे हैं।
  • तेज नेटवर्क अर्थात् 5G से अगले 10-15 वर्षों तक भारतीय टेलीकॉम इंडस्ट्री बूम पर रहने वाली है।
  • मैन्युफैक्चरिंग यूनिट से लेकर टावर मेंटेनेंस एवं ऑपरेशन से जुड़ी कंपनीज के साथ-साथ सर्विस प्रोवाइडिंग कंपनीज में भी रोजगार के अवसर बढ़ेंगे।
  • देश में अगले वर्ष तक 5G नेटवर्क शुरू होने की तैयारियां चल रही है।
  • 5G नेटवर्क के लिए अलग टेक्नोलॉजी,उपकरण और टावर आदि की आवश्यकता पड़ेगी।इसलिए इन सब कार्यों के लिए युवाओं की आवश्यकता रहेगी।
  • कुल मिलाकर भारत में टेलीकम्युनिकेशन का ग्राफ तेजी से विस्तार पाने वाला है।इसमें जाॅब्स के काफी अवसर पैदा होंगे।

(7.)2021-22 में टेलीकम्युनिकेशन में करियर का निष्कर्ष (Conclusion of Career in Telecommunication in 2021-22):

  • टेलीकम्युनिकेशन सेक्टर में केरियर के अपार अवसर है। किंतु इन अवसरों का लाभ तभी उठाया जा सकता है जबकि युवाओं में आवश्यक स्किल भी हो।अक्सर आजकल के युवाओं का लक्ष्य बीई/बीटेक में डिग्री हासिल करने का रहता है।परंतु डिग्री केवल सैद्धांतिक ज्ञान का सर्टिफिकेट है।इसके आधार पर आप टेलीकम्युनिकेशन सेक्टर में अप्लाई कर सकते हैं।परन्तु डिग्री के आधार पर आप जाॅब प्राप्त कर लेंगे,यह निश्चित रूप से नहीं कहा जा सकता है।क्योंकि टेलीकॉम कंपनियों को डिग्री के साथ-साथ स्किल वाले युवाओं की आवश्यकता रहती है अर्थात् सम्बन्धित क्षेत्र में आपको प्रैक्टिकल नोलेज भी होना चाहिए।
    जब कम्पनियों के निदेशकों को स्किल वाले युवा नहीं मिलते हैं तो वे कम्पनी में डिग्री वाले युवाओं की भर्ती करने के बजाय पदों को रिक्त रखने में फायदा महसूस करती है।
  • इसलिए बहुत सी कंपनियों में पद खाली पड़े रहते हैं और उन पदों के योग्य स्किल वाले युवा नहीं मिल पाते हैं।
  • इसलिए युवाओं को चाहिए कि यदि आप टेलीकम्युनिकेशन में बीई/बीटेक या अन्य कोर्स कर रहे हैं तो पार्टटाइम में सम्बन्धित क्षेत्र में स्किल को डेवलप भी करते रहें जिससे डिग्री मिलने पर जॉब पाने के लिए आपको संघर्ष नहीं करना पड़ेगा।

2.2021-22 में टेलीकम्युनिकेशन में करियर (Career in Telecommunications in 2021-22),टेलीकम्युनिकेशन में करियर (Career in Telecommunications) के सम्बन्ध में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न:

प्रश्न:1.क्या दूरसंचार एक अच्छा करियर है? (Is telecommunications a good career?):

उत्तर:दूरसंचार (Telecommunications) को एक अच्छा करियर मार्ग माना जाता है क्योंकि उद्योग नई तकनीक के उछाल के साथ विकसित और विकसित हो रहा है।वायरलेस उपकरण (Wireless equipment) अधिक विश्वसनीय सेवाएं प्रदान करते हैं और व्यवसाय सबसे तेज़ इंटरनेट और सर्वोत्तम सौदों (best deals) की पेशकश करने के लिए प्रतिस्पर्धा कर रहे हैं।
2021-22 में टेलीकम्युनिकेशन में करियर (Career in Telecommunications in 2021-22) में विभिन्न पदों का विवरण:
टेलीकॉम और टेलीकम्युनिकेशन इंजीनियर के लिए अलग-अलग जॉब रोल्स में नेटवर्क इंजीनियर (Network Engineer),रिसर्च टेलीकॉम (Research Telecom),टेलीकॉम सेल्स इंजीनियर (Telecom Sales Engineer),टेलीकम्युनिकेशन इंजीनियर (Telecommunications Engineer),प्रोफेसर (Professor) आदि शामिल हैं।टेलीकॉम और टेलीकॉम इंजीनियर (Telecom and Telecommunications Engineer) का औसत वेतनमान 4,00,000 रुपये से 6,00,000 रुपये है।
नौकरी की भूमिका (Job Role): औसत प्रारंभिक वेतन
टेलीकॉम इंजीनियर (Telecom Engineer): रु. 4,00,000-5,00,000 प्रतिमाह
व्याख्याता / प्रोफेसर (Lecturer/ Professor): रु।3,00,000-6,00,000 प्रतिमाह

प्रश्न:2.दूरसंचार के लिए किन कौशलों की आवश्यकता है? (What skills are needed for telecommunication?):

उत्तर:यहां शीर्ष दूरसंचार कौशल हैं जो उद्योग की मांगों को पूरा करने में आपकी सहायता के लिए आवश्यक हैं।
(1.)क्लाउड कंप्यूटिंग कौशल (Cloud Computing Skills)।
(2.)आईटी सपोर्ट स्किल्स या नेटवर्क इंजीनियरिंग (IT Support Skills or Network Engineering)।
(3.)प्रोग्रामिंग (Programming)।
(4.)सॉफ्ट स्किल्स (Soft Skills)।
(5.)मूल्य वर्धन और प्रमाणन (Value Adding and Certification)।

प्रश्न:3.कौन सा बेहतर टेलीकॉम या नेटवर्किंग है? (Which is better telecom or networking?):

उत्तर:दूरसंचार के विपरीत,नेटवर्किंग में अधिक गुण हैं, जैसा कि नीचे बताया गया है:
सॉफ़्टवेयर को नेटवर्क के भीतर साझा किया जा सकता है, इस प्रकार स्रोत से मैन्युअल रूप से स्थापित करने के तनाव को कम किया जा सकता है।एक ही नेटवर्क में डिवाइस आसानी से एक दूसरे के साथ संवाद कर सकते हैं, काम करने और साझा करने के लिए उपयुक्त माध्यम प्रदान करते हैं।

प्रश्न:4.दूरसंचार कैसे पैसा कमाते हैं? (How do Telecommunications make money?):

उत्तर:टेलीकॉम ऑपरेटर अन्य टेलीकॉम कंपनियों को नेटवर्क कनेक्टिविटी प्रदान करके और इंटरनेट सेवा प्रदाताओं और बड़े निगमों जैसे भारी नेटवर्क उपयोगकर्ताओं को सर्किट थोक करके भी पैसा कमाते हैं। इंटरकनेक्टेड और थोक बाजार दूरगामी नेटवर्क वाले खिलाड़ियों का पक्ष लेते हैं।

प्रश्न:5.दूरसंचार की मूल बातें क्या हैं? (What are the basics of telecommunications?):

उत्तर:बुनियादी अवयव (Basic elements)
कुल मिलाकर हालांकि,एक बुनियादी दूरसंचार प्रणाली में तीन मुख्य भाग होते हैं जो हमेशा किसी न किसी रूप में मौजूद होते हैं:एक ट्रांसमीटर (transmitter) जो जानकारी लेता है और इसे सिग्नल में परिवर्तित करता है।एक संचरण माध्यम (transmission medium),जिसे भौतिक चैनल (physical channel) भी कहा जाता है जो संकेत देता (carries the signal) है।

प्रश्न:6.मैं दूरसंचार में कैसे जा सकता हूं? (How can I get into telecommunications?):

उत्तर:दूरसंचार में नौकरी पाने के लिए कुछ सबसे महत्वपूर्ण कदम यहां दिए गए हैं:
एक दूरसंचार तकनीशियन शिक्षा प्राप्त करें (Get a telecommunications technician education)।
दूरसंचार को करियर के रूप में अपनाएं (Career in Telecommunications in 2021-22)।
दूरसंचार में नौकरी प्राप्त करें (Obtain a job in telecommunications)।
दूरसंचार प्रशिक्षण प्राप्त करें (Get telecommunications training)।
प्रमाणन अर्जित करें (Earn certification)।
अपने करियर को आगे बढ़ाएं (Advance your career)।

प्रश्न:7.5 बुनियादी संचार कौशल क्या हैं? (What are the 5 basic communication skills?):

उत्तर:कार्यस्थल या निजी जीवन में सफल संचार के लिए ये 5 कौशल नितांत आवश्यक हैं।
सुनना (Listening)।सुनना संचार के सबसे महत्वपूर्ण पहलुओं में से एक है।
सीधी बात करें (Straight talking)।
अशाब्दिक संचार (Non-verbal communication)।
तनाव प्रबंधन (Stress management)।
भावना नियंत्रण (Emotion control)।

प्रश्न:8.दूरसंचार और नेटवर्किंग में क्या अंतर है? (What is difference between telecommunication and networking?):

उत्तर:दूरसंचार एक दूसरे के ग्रहणशील छोर (receptive ends of one another) पर विद्युत चुम्बकीय संकेतों (electromagnetic signals) के रूप में दूरी के माध्यम से सूचना या डेटा का हस्तांतरण है।दूसरी ओर,नेटवर्किंग उपकरणों को एक मुख्य प्रणाली से जोड़ने की प्रक्रिया है जिसे सर्वर के रूप में भी जाना जाता है (Networking is the process of interconnecting devices to a main system also known as the server)।

प्रश्न:9.दूरसंचार नेटवर्क कितने प्रकार के होते हैं? (What are the types of telecommunication networks?):

उत्तर:दूरसंचार नेटवर्क के प्रकार
कंप्यूटर नेटवर्क (Computer networks)।अर्पानेट (ARPANET)।ईथरनेट (Ethernet)।इंटरनेट (Internet)।बेतार तंत्र (Wireless networks)।
सार्वजनिक स्विच्ड टेलीफोन नेटवर्क (PSTN) [Public switched telephone networks (PSTN)]
पैकेट स्विच्ड नेटवर्क (Packet switched networks)।
रेडियो नेटवर्क (Radio network)।

प्रश्न:10.क्या इंटरनेट एक दूरसंचार है? (Is Internet a telecommunication?):

उत्तर:दूरसंचार सेवाएं वे हैं जो एक संचार कंपनी द्वारा प्रदान की जाती हैं जो एक बड़े क्षेत्र में आवाज और डेटा सेवाएं प्रदान करती हैं।
अन्य सेवाओं में व्यवसायों और घरों के लिए इंटरनेट,टेलीविजन और नेटवर्किंग शामिल हो सकते हैं।

प्रश्न:11.हमें दूरसंचार की आवश्यकता क्यों है? (Why do we need telecommunication?):

उत्तर:यह हमारी बुनियादी जरूरतों को पूरा करता है।सूचना प्रौद्योगिकी और जुड़ने और संवाद करने की क्षमता हमारे समाज के संचालन का एक मूलभूत हिस्सा है।आज के डिजिटल पारिस्थितिकी तंत्र (digital ecosystem) में,दूरसंचार व्यवसायों (businesses),सरकारों (governments), समुदायों (communities) और परिवारों (families)के लिए मूल रूप से सूचनाओं को जोड़ने और साझा करने का आधार बन गया है।

प्रश्न:12.दूरसंचार कंपनियां कैसे काम करती हैं? (How do telecommunication companies work?):

उत्तर:आधुनिक दूरसंचार उद्योग के खिलाड़ी संचार उपकरण का उत्पादन करते हैं और केबल (cables),नेटवर्क (networks),सर्वर (servers),कंप्यूटर और उपग्रहों (computers and satellites) के वायरलाइन (wireline) या वायर्ड बुनियादी ढांचे (wired infrastructure of cables) का उपयोग करके आवाज,डेटा और ब्रॉडबैंड सेवाओं का एक सेट प्रदान करते हैं।

प्रश्न:13.दूरसंचार क्षेत्र के बुनियादी कार्य क्या हैं? (What are the basic functions of telecommunication sector?):

उत्तर:दूरसंचार नेटवर्क के बुनियादी कार्य:
सूचना प्रसारित करना (Transmit information);दूरसंचार प्रणालियों का प्राथमिक कार्य दूर-दूर तक सूचना प्रसारित करना और प्रेषक और रिसीवर के बीच किसी माध्यम या तरीके से एक इंटरफेस स्थापित करना है।
प्रेषक और रिसीवर के बीच इंटरफेस स्थापित करें (Establish the interface between the sender and receiver)।

प्रश्न:14.दूरसंचार प्रौद्योगिकियां क्या हैं? (What are telecommunication technologies?):

उत्तर:दूरसंचार दूरियों पर सूचना के इलेक्ट्रॉनिक प्रसारण (electronic transmission of information) का साधन है।जानकारी वॉयस टेलीफोन कॉल (voice telephone calls),डेटा (data),टेक्स्ट (text),इमेज (images) या वीडियो (video) के रूप में हो सकती है।आज,दूरसंचार नेटवर्क में कम या ज्यादा दूरस्थ कंप्यूटर सिस्टम को व्यवस्थित करने के लिए दूरसंचार का उपयोग किया जाता है।

प्रश्न15.दूरसंचार इंजीनियर क्या करता है? (What does telecommunication engineer do?):

उत्तर:एक दूरसंचार इंजीनियर जटिल इलेक्ट्रॉनिक स्विचिंग सिस्टम और अन्य सादे पुराने टेलीफोन सेवा सुविधाओं, ऑप्टिकल फाइबर केबलिंग (optical fiber cabling),आईपी नेटवर्क (IP networks) और माइक्रोवेव ट्रांसमिशन सिस्टम (microwave transmission systems) जैसे दूरसंचार उपकरण और सुविधाओं की स्थापना के डिजाइन और देखरेख के लिए जिम्मेदार है।

प्रश्न:16.7 सॉफ्ट स्किल्स क्या हैं? (What are the 7 soft skills?):

उत्तर:आज के कार्यबल में आपको आवश्यक 7 सॉफ्ट स्किल्स की आवश्यकता है।
नेतृत्व कौशल (Leadership Skills)।कंपनियां ऐसे कर्मचारी चाहती हैं जो अन्य कर्मचारियों की देखरेख और निर्देशन कर सकें।
टीम वर्क (Teamwork)।
संचार कौशल (Communication Skills)।
समस्या समाधान करने की कुशलताएं (Problem-Solving Skills)।
कार्य नीति (Work Ethic)।
लचीलापन (Flexibility)/अनुकूलनशीलता (Adaptability)।
पारस्परिक कौशल (Interpersonal Skills)।

प्रश्न:17.दूरसंचार मीडिया क्या है? (What is telecommunication media?):

उत्तर:दूरसंचार मीडिया,उपकरण और सिस्टम- धातु के तार (metal wire),स्थलीय (terrestrial) और उपग्रह रेडियो (satellite radio) और ऑप्टिकल फाइबर (optical fibre)-विद्युत चुम्बकीय संकेतों के संचरण में कार्यरत हैं।

प्रश्न:18.किसी भी व्यवसाय में दूरसंचार क्यों महत्वपूर्ण है? (Why telecommunication is important in any business?):

उत्तर:आज के डिजिटल युग में,व्यावसायिक सफलता और निरंतरता के लिए दूरसंचार सेवाएं महत्वपूर्ण हैं।वे न केवल अधिक प्रभावी संचार सक्षम करते हैं बल्कि कार्यस्थल में लचीलापन भी बढ़ाते हैं और कंपनियों को अपनी पहुंच का विस्तार करने की अनुमति देते हैं।

प्रश्न:19.दूरसंचार में नवीनतम तकनीक क्या है? (What is the latest technology in telecommunication?):

उत्तर:2021 में शीर्ष 10 दूरसंचार उद्योग के रुझान
5G नेटवर्क और प्रौद्योगिकी (5G Network & Technology)।
आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) [Artificial Intelligence (AI)]
उच्च-रिज़ॉल्यूशन सामग्री (High-Resolution Content)।
साइबर सुरक्षा (Cybersecurity)।
क्लाउड कम्प्यूटिंग (Cloud Computing)।
संचार मॉडल (Communication Models)।
सॉफ्टवेयर-परिभाषित नेटवर्क (एसडीएन) [Software-Defined Networks (SDNs)]
एज कंप्यूटिंग (Edge Computing)।

प्रश्न:20.लड़कियों के लिए कौन सी इंजीनियरिंग सबसे अच्छी है? (Which engineering is best for girls?):

उत्तर:लड़कियों के लिए कौन सी इंजीनियरिंग सबसे अच्छी है
आर्किटेक्चर (Architecture): यह उन लड़कियों के लिए एक संभावित क्षेत्र है जो डिजाइनिंग (designing),प्लॉटिंग (plotting) और इंटीरियर (interiors) में रुचि रखते हैं।
कंप्यूटर विज्ञान (Computer Science)/सूचना प्रौद्योगिकी (Information Technolgy):यह धारा सबसे अधिक मांग वाली शाखा है।
जैव प्रौद्योगिकी (Biotechnology):यह एक आगामी क्षेत्र है जिसके अच्छी दर से बढ़ने की उम्मीद है।

प्रश्न:21.दूरसंचार क्या है और इसके क्या फायदे हैं? (What is Telecommunication and its advantages?):

दूरसंचार के लाभ:
त्वरित और सुलभ संचार (Quick and accessible communication)।समय अवधि का अभाव।समय बचाता है।गैसोलीन बचाता (Saves gasoline) है (दूरी चलाने की आवश्यकता नहीं है) दो से अधिक लोग एक ही समय में कम से कम एक दूसरे के साथ संवाद कर सकते हैं।

प्रश्न:22.दूरसंचार के फायदे और नुकसान क्या हैं? (What are the advantages and disadvantages of telecommunication?):

उत्तर:संक्षेप में,कार्य स्थानों और समय में लचीलापन (flexibility in work locations and time),यात्रा लागत और समय में कमी (reduction of travelling costs and time),पेशेवर लचीलापन (professional flexibility),कार्यालय को कम करता है और स्वास्थ्य में वृद्धि सबसे महत्वपूर्ण लाभ प्रतीत होता है।हालांकि, दूरसंचार के नुकसान भी हैं:अलगाव और सुरक्षा जोखिम (isolation and security risks)।

प्रश्न:23.मुझे दूरसंचार इंजीनियरिंग का अध्ययन क्यों करना चाहिए? (Why should I study telecommunication engineering?):

उत्तर:दूरसंचार में इंजीनियरिंग विभिन्न क्षेत्रों के दरवाजे खोलती है: टेलीफोनी,सुरक्षा कंपनियां,टेलीविजन,प्रक्रिया स्वचालन (process automation),कई अन्य।साथ ही,यह करियर आपको जो ज्ञान देता है,वह आपको अनुसंधान, नई प्रक्रियाओं के विकास, हार्डवेयर के निर्माण आदि में काम करने की अनुमति देता है।

उपर्युक्त प्रश्नों के उत्तर द्वारा 2021-22 में टेलीकम्युनिकेशन में करियर (Career in Telecommunications in 2021-22),टेलीकम्युनिकेशन में करियर (Career in Telecommunications) के बारे में ओर अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

No.Social MediaUrl
1.Facebookclick here
2.you tubeclick here
3.Instagramclick here
4.Linkedinclick here
5.Facebook Pageclick here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *