Menu

Who can teach mathematics?

Contents hide
1 1.गणित कौन पढ़ा सकता है? ( Who can teach mathematics?)-
1.2 (2.)गणित पढ़ाने के लिए दीवानगी की जरूरत (Need madness to teach mathematics)-

1.गणित कौन पढ़ा सकता है? ( Who can teach mathematics?)-

  • गणित कौन पढ़ा सकता है (Who can teach mathematics?),आज इसके बारे में जानने की कोशिश करेंगे।गणित विषय कठिन विषय है तथा अधिकतर विद्यार्थी गणित से डरते हैं।परंतु गणित पढ़ाने (teach mathematics) वालों का भी अभाव है क्योंकि गणित विषय ऐच्छिक विषय बहुत कम विद्यार्थी लेते हैं इसलिए गणितज्ञों, गणित के अध्यापकों की कमी होती जा रही है। गणित पढ़ाना (teach mathematics) हर किसी के बस की बात नहीं है।गणित पढ़ाने (teach mathematics) के लिए जुनून, प्रतिभा और गणित के प्रति दीवानगी की जरूरत है।आधुनिक युग में गणित का डिफिकल्टी लेवल धीरे-धीरे बढ़ता जा रहा है।कुछ समय पूर्व जो गणित बीएससी प्रथम वर्ष में पढ़ाई जाती थी उसका कुछ अंश कक्षा-12 की पढ़ाई में शामिल कर दिया गया है।इसी प्रकार कक्षा 12 में पढ़ाई जाने वाली गणित कक्षा-11 में पढ़ाई जाने लगी है।इस प्रकार गणित का स्तर बढ़ता जा रहा है।
  • यदि विद्यालय तथा शिक्षा संस्थान में गणित का एक ही अध्यापक है तथा गणित का अध्यापक छुट्टी पर चले जाए तो गणित अध्यापक की अनुपस्थिति में गणित पढ़ना हर किसी के लिए मुश्किल कार्य हो जाता है।गणित अध्यापक की अनुपस्थिति में उनकी क्लास के लिए अन्य अध्यापक को केवल खानापूर्ति के लिए भेजा जाता है।
  • आपको यह जानकारी रोचक व ज्ञानवर्धक लगे तो अपने मित्रों के साथ इस गणित के आर्टिकल को शेयर करें ।यदि आप इस वेबसाइट पर पहली बार आए हैं तो वेबसाइट को फॉलो करें और ईमेल सब्सक्रिप्शन को भी फॉलो करें जिससे नए आर्टिकल का नोटिफिकेशन आपको मिल सके ।यदि आर्टिकल पसन्द आए तो अपने मित्रों के साथ शेयर और लाईक करें जिससे वे भी लाभ उठाए ।आपकी कोई समस्या हो या कोई सुझाव देना चाहते हैं तो कमेंट करके बताएं। इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें।

Also Read This Article-How to make India a leading country in mathematics?

(1.)गणित पढ़ाने का विरोधाभास (Paradox of to teach mathematics)-

  • कई शिक्षा संस्थानों तथा विद्यालयों में गणित अध्यापक की नियुक्ति ही नहीं है ऐसी स्थिति में गणित विषय अन्य विषय के अध्यापक पढ़ाते हैं।हालांकि अन्य विषय के अध्यापक के लिए ठीक से गणित पढ़ाना (teach mathematics) तो मुश्किल है परंतु ऐसा विरोधाभास भी देखने को मिलता है। दरअसल गणित शिक्षण (teach mathematics) के प्रति युवाओं द्वारा प्राथमिकता सबसे बाद में दी जाती है। डिग्रीधारी युवा सर्वप्रथम आईएएस,डॉक्टर ,इंजीनियर आरएएस जैसी सेवाओं में जाने के इच्छुक होते हैं।शिक्षण अथवा गणित शिक्षण (teach mathematics) को इन सेवाओं के बाद ही चयन करते हैं अर्थात् उपर्युक्त सेवाओं में चयन न होने पर ही शिक्षण अथवा गणित शिक्षण (to teach mathematics )का चुनाव करते हैं।
  • इस प्रकार युवाओं में जो क्रीमी लेयर है उनका चयन उच्च प्रतिष्ठित सेवाओं में हो जाता है।शिक्षण में मध्यम तथा निम्नस्तर की प्रतिभाओं का चयन होता है अर्थात् मध्यम तथा निम्न स्तर की प्रतिभाएं शिक्षण अथवा गणित शिक्षण (teach mathematics) के कार्य का चुनाव करती है।
  • गणित पढ़ाना (teach mathematics) शिक्षा संस्थानों में जरूरी है क्योंकि गणित विषय को विद्यार्थी स्वयं नहीं पढ़ सकता है।इसलिए अन्य विषय के शिक्षकों को गणित पढ़ाने (teach mathematics) के लिए तैयार किया जाता है। परंतु अन्य विषय के शिक्षक गणित विषय के प्रति न्याय नहीं कर सकते हैं। फलस्वरूप गणित में होनहार विद्यार्थी तैयार नहीं हो पाते हैं।विद्यार्थियों की गणितीय प्रतिभा सुप्त ही रह जाती है।इस प्रकार देश में अच्छे गणितज्ञ तैयार नहीं हो पाते हैं।

Also Read This Article-Let the Children Play so That They are Sharp in Mathematics

(2.)गणित पढ़ाने के लिए दीवानगी की जरूरत (Need madness to teach mathematics)-

  • गणित पढ़ाने के लिए अध्यापक में जुनून की जरूरत होती है।जो अध्यापक गणित से प्रेम करता है ,वही अध्यापक गणित को ठीक से पढ़ा सकता है।गणित पढ़ाने (teach mathematics) के लिए आधुनिक युग के अनुसार अपडेट रहना होता है।विद्यार्थियों को आधुनिक युग में प्रतिस्पर्धा योग्य तैयार करने के लिए अध्यापक को कोई भी टॉपिक पढ़ाने के लिए ठीक तरह से पूर्व तैयारी की जरूरत होती है।जो अध्यापक कक्षा में टॉपिक की पूर्व तैयारी किए बिना ही कक्षा में पढ़ाने जाते हैं वे विद्यार्थियों को पूरी तरह संतुष्ट नहीं कर पाते हैं।
  • कक्षा में विभिन्न प्रकार के विद्यार्थी होते हैं अतः गणित पढ़ाते समय कौन सा विद्यार्थी किस प्रकार का प्रश्न पूछ ले इसके लिए पूरी तरह से अध्यापक को पूर्ण तथा पूर्व तैयारी की जरूरत होती है।जो अध्यापक विद्यार्थियों को गणित की समस्याओं का समाधान नहीं बताता है या अगले दिन पर टाल देता है, ऐसा अध्यापक विद्यार्थियों पर अच्छा प्रभाव नहीं डाल सकता है।

(3.)गणित पढ़ाने के लिए आवश्यक गुण (Essential Qualities for Teaching Mathematics)-

  • इस प्रकार यदि गणित पढ़ाने ( teach mathematics) के लिए किन गुणों की आवश्यकता है इसको संक्षिप्त रूप में कहा जाए तो यह कहा जा सकता है कि गणित पढ़ाने (teach mathematics) के लिए समर्पण, ईमानदारी, कठिन परिश्रम, विवेक , धैर्य जैसे गुणों की आवश्यकता है हालांकि ये सभी गुण सभी में एक साथ प्रकट नहीं हो सकते हैं लेकिन धीरे-धीरे अभ्यास से इन सब गुणों का विकास हो जाता है।
  • इस आर्टिकल में गणित कौन पढ़ा सकता है (Who can teach mathematics?) के बारे में बताया गया है।

(3.)गणित कौन पढ़ा सकता है (Who can teach mathematics?) के सम्बन्ध में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न:

प्रश्न:1.गणित पढ़ाने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए? (What qualifications do you need to teach math?):

उत्तर:गणित शिक्षक बनने के लिए आमतौर पर गणित या माध्यमिक शिक्षा में स्नातक की डिग्री और शिक्षक तैयारी कार्यक्रम (teacher preparation program) को पूरा करने की आवश्यकता होती है।प्रशिक्षकों को पारंपरिक या वैकल्पिक मार्ग के माध्यम से राज्य शिक्षक प्रमाणन (state teacher certification) भी अर्जित करना होगा।

प्रश्न:2.क्या मैं बिना टीचिंग डिग्री के गणित पढ़ा सकता हूँ? (Can I teach math without a teaching degree?):

उत्तर:हां,लेकिन जब एक निजी स्कूल में बीएस (Bachler of Science) के साथ गणित पढ़ाने के लिए काम पर रखना अपेक्षाकृत आसान था,आजकल अधिक से अधिक निजी स्कूल अब केवल राज्य-लाइसेंस प्राप्त शिक्षकों (hire state-licensed teachers) को ही नियुक्त करेंगे।तो,आपके लिए दो विकल्प: 1.11 राज्य आपको योग्यता-आधारित गणित क्रेडेंशियल (competency-based Math credential) अर्जित करने की अनुमति देते हैं।

प्रश्न:3.क्या मैं गणित की डिग्री वाला शिक्षक बन सकता हूँ? (Can I be a teacher with a mathematics degree?):

उत्तर:यदि आप अपने स्नातक (bachelor’s) या स्नातक डिग्री (graduate degree) के भीतर सभी विषय वस्तु आवश्यकताओं को पूरा कर चुके हैं,तो आप कैलिफोर्निया (California) में एक गणित शिक्षक के रूप में काम करना शुरू कर सकते हैं,जब आप एक स्वीकृत वैकल्पिक प्रमाणन (approved alternative certification)/प्रशिक्षु कार्यक्रम (intern program) पूरा करते हैं।

प्रश्न:4.क्या कोई गणित सीख सकता है? (Can anyone learn mathematics?):

उत्तर:अध्ययनों से पता चलता है कि हर कोई थोड़े से काम से गणित सीख सकता है।कुछ लोगों में गणित के लिए जन्मजात प्रतिभा (inborn talent) होती है।हालांकि,अधिकांश अध्ययनों से संकेत मिलता है कि कड़ी मेहनत आपके गणित कौशल को उतना ही बेहतर कर सकती है जितना कि एक प्राकृतिक झुकाव (natural inclination)।वास्तव में,कड़ी मेहनत जन्मजात प्रतिभा (innate talent) की तुलना में अधिक दीर्घकालिक भुगतान कर सकती है।

प्रश्न:5.एक अच्छे गणित शिक्षक के क्या गुण हैं? (What are qualities of a good math teacher?):

उत्तर:एक महान गणित शिक्षक के 5 लक्षण
गणित का गहरा ज्ञान (Sound Knowledge of Mathematics):गणित का गहरा और विस्तृत ज्ञान रखनेवाला गणित शिक्षक छात्र-छात्राओं को कठिनाइयों का हल कर सकता है तथा उन्हें सन्तुष्ट कर सकता है।
आकर्षक (Engaging)।
अच्छा प्रेरक (Good Motivator):गणित विषय को अन्य विषयों की तरह पढ़कर पारंगत नहीं हो सकते हैं।गणित में औसत छात्र-छात्रा गणित की समस्याओं से घबराकर हतोत्साहित हो जाते हैं इसलिए उनको प्रेरित करने की आवश्यकता होती है।
लगातार सीखना:आधुनिक युग में नए-नए अनुसंधान होते रहते हैं इसलिए गणित शिक्षक को हमेशा तथा लगातार सीखते रहना चाहिए।
देखभाल।

प्रश्न:6.गणित की डिग्री क्या कहलाती है? (What is a math degree called?):

उत्तर:गणित स्नातक (Bachelor of Mathematics)
गणित स्नातक एक स्नातक शैक्षणिक डिग्री है जो गणित या संबंधित विषयों,जैसे अनुप्रयुक्त गणित (applied mathematics),एक्टुरियल विज्ञान (actuarial science),कंप्यूटर विज्ञान (computer science) या सांख्यिकी (statistics) में अध्ययन के एक कार्यक्रम को सफलतापूर्वक पूरा करने के लिए प्रदान की जाती है।गणित स्नातक की डिग्री को अक्सर बी.गणित या बीमैथ (Bachelor Mathematics) के रूप में संक्षिप्त किया जाता है।

प्रश्न:7.गणित के शिक्षक की क्या भूमिका होती है? (What is the role of a mathematics teacher?):

उत्तर:एक गणित शिक्षक वह होता है जो अपने छात्रों को समस्या समाधानकर्ता (problem solvers) और आलोचनात्मक विचारक (critical thinkers) बनने के लिए पाठ्यपुस्तक के पन्नों से परे देखने के लिए प्रेरित करता है।हर दिन आपका असीम जुनून (boundless passion) और समर्पण (dedication) आपके प्रत्येक छात्र को प्रभावित करता है।गणित शिक्षक में यों तो कई गुणों का होना आवश्यक है परन्तु मुख्यरूप से गणित शिक्षक में समर्पण तथा जुनूनी होना चाहिये वह अपने छात्र-छात्राओं को बहुत आगे बढ़ा सकता है।

प्रश्न:8.गणित का शिक्षक और कौन-कौन से काम कर सकता है? (What other jobs can a math teacher do?):

उत्तर:पूर्व गणित शिक्षकों के लिए करियर के बारे में जानकारी
व्यक्तिगत वित्तीय सलाहकार (Personal Financial Advisor)।
बजट विश्लेषक (Budget Analyst)।
बीमा हामीदार (Insurance Underwriter)।
एक्चुअरी (Actuary)।
गणितज्ञ (Mathematician)/सांख्यिकीविद् (Statistician)।

प्रश्न:9.SPED शिक्षक क्यों छोड़ते हैं? (Why do SPED teachers quit?):

उत्तर:इस कहानी के लिए साक्षात्कार किए गए विशेष शिक्षा शिक्षकों ने कहा कि उन्होंने अपना व्यवसाय छोड़ने या छोड़ने का प्राथमिक कारण अत्यधिक काम का बोझ (overwhelming workload) है।अन्य कारकों में उच्च आवश्यकता वाले छात्रों और मांग करने वाले माता-पिता के साथ काम करने का तनाव (stress of working) शामिल है।
Definition. SPED. Special Education. SPED. Sistema Público de Escrituração Digital (Portuguese: Public System of Digital Bookkeeping)

प्रश्न:10.एक गणित शिक्षक को क्या विशिष्ट बनाता है? (What makes a math teacher unique?):

उत्तर:”मुझे लगता है कि मेरे गणित शिक्षण का सबसे अनूठा हिस्सा यह है कि मैं छात्रों को जल्द से जल्द उत्तर देने के लिए तकनीकों को खोजने की कोशिश करता हूं।इससे उन्हें सफलता की भावना महसूस करने में मदद मिलती है।एक चुनौती भरा प्रश्न।मैं हमेशा छात्रों को सीखने का आनंद लेने में मदद करने के तरीकों की तलाश में रहता हूं।

प्रश्न:11.मैं गणित शिक्षण को रोचक कैसे बना सकता हूँ? (How do I make maths teaching interesting?):

उत्तर:शिक्षकों के लिए 10 टिप्स:गणित को रचनात्मक तरीके से कैसे पढ़ाएं
समस्या समाधान प्राप्त करें (Get problem solving)।
और ज्यादा गेम खेलो (Play more games)।
मिनी गणित की कहानियां पढ़ें (Read mini maths stories)।
अपनी खुद की गणित की कहानियाँ सुनाएँ (Tell your own maths stories)।
कुछ गणितीय नाटक का प्रयास करें (Try some mathematical drama)।
दृश्य कला के साथ गणित को मिलाएं (Combine maths with visual arts)।
मॉडल बनाना प्राप्त करें (Get model making)।
एक गणित उत्सव चलाएं (Run a maths festival)।

प्रश्न:12.गणित पढ़ाने का सबसे आसान तरीका क्या है? (What is the easiest way to teach math?):

उत्तर:गणित कक्षा में समझने के लिए पढ़ाने के छह तरीके यहां दिए गए हैं:
एक प्रभावी क्लास ओपनर बनाएं (Create an effective class opener)।
एकाधिक अभ्यावेदन का उपयोग करके विषयों का परिचय दें (Introduce topics using multiple representations)।
समस्याओं को कई तरह से हल करें (Solve the problems many ways)।
आवेदन दिखाओ (Show the application)।
क्या छात्र अपने तर्कों को संप्रेषित करते हैं (Have students communicate their reasoning)।
सारांश के साथ कक्षा समाप्त करें (Finish class with a summary)।

प्रश्न:13.दुनिया में सबसे अच्छा कैलकुलस शिक्षक कौन है? (Who is the best calculus teacher in the world?):

उत्तर:Jaime Alfonso Escalante Gutiérrez (31 दिसंबर,1930-30,मार्च,2010) एक बोलिवियाई-अमेरिकी शिक्षक थे,जिन्हें 1974 से 1991 तक पूर्वी लॉस एंजिल्स (East Los Angeles) के गारफ़ील्ड हाई स्कूल (Garfield High School) में छात्रों की गणना सिखाने के लिए जाना जाता था।
1993 में,क्षुद्रग्रह 5095 Escalante का नाम उनके नाम पर रखा गया था।
Escalante का जन्म 1930 में ला पाज़ (La Paz),बोलीविया (Bolivia) में हुआ था।

उपर्युक्त प्रश्नों के उत्तर द्वारा गणित कौन पढ़ा सकता है (Who can teach mathematics?) के बारे में ओर अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

No.Social MediaUrl
1.Facebookclick here
2.you tubeclick here
3.Twitterclick here
4.Instagramclick here
5.Linkedinclick here
6.Facebook Pageclick here
No Responses

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *