Menu

Aryabhatta National Maths Competition

Contents hide
2 2.आर्यभट राष्ट्रीय गणित प्रतियोगिता (Aryabhatta National Maths Competition):

1.आर्यभट राष्ट्रीय गणित प्रतियोगिता का परिचय (Introduction to Aryabhatta National Maths Competition),आर्यभट राष्ट्रीय गणित प्रतियोगिता 2021(Aryabhatta National Maths Competition 2021):

  • आर्यभट राष्ट्रीय गणित प्रतियोगिता 2021(Aryabhatta National Maths Competition 2021) के लिए रजिस्ट्रेशन की तारीख आगे बढ़ा दी गई है।पूर्व निर्धारित प्रोग्राम के अनुसार यह परीक्षा 10 जून,2021 को आयोजित की जाने वाली थी।परंतु अब यह परीक्षा 30 जून,2021 को आयोजित की जाएगी।
  • ऑल इंडिया काउंसिल फॉर टेक्निकल स्किल डेवलपमेंट [All India Council For Technical Skill Development (AICTSD)] अर्थात् अखिल भारतीय तांत्रिक कौशल्य विकास परिषद ने आर्यभट राष्ट्रीय गणित प्रतियोगिता 2021(Aryabhatta National Maths Competition 2021) के लिए आवेदन की अंतिम तिथि को आगे बढ़ा दिया है।अब स्टूडेंट्स 30 मई,2021 तक ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।इसलिए जो स्टूडेंट्स इस प्रतियोगिता में भाग लेना चाहते हैं वे अधिकारिक वेबसाइट aictsd.com पर लॉगिन करके अप्लाई कर सकते हैं।
  • उपर्युक्त तिथि को कोविड-19 महामारी के बढ़ते संक्रमण के कारण आगे बढ़ाया गया है।परीक्षा परिणाम की घोषणा 15,जुलाई 2021 को की जाएगी।
  • विजेताओं के चयन के लिए पहले ऑनलाइन परीक्षा का आयोजन किया जाएगा।इसके आधार पर शीर्ष 20 स्टूडेंट्स का ऑनलाइन इंटरव्यू के लिए चयन किया जाएगा। ऑनलाइन इंटरव्यू के आधार पर 20 स्टूडेंट्स में से 3 स्टूडेंट्स को विजेता घोषित किया जाएगा।
  • इस प्रतियोगिता का आयोजन अखिल भारतीय तांत्रिक कौशल्य परिषद (AICTSD) और आईआईटी बॉम्बे के पूर्व छात्र कर रहे हैं।
  • औद्योगिक पेशेवरों के साथ अखिल भारतीय तांत्रिक कौशल्य विकास परिषद (AICTSD) देश के बीच एक अकादमिक संस्थागत स्तर पर तकनीकी कौशल विकास और तकनीकी नेताओं के निर्माण के एक सामान्य एजेंडे के लिए काम कर रही है।
  • आर्यभट राष्ट्रीय गणित प्रतियोगिता (Aryabhatta National Maths Competition) देश के बीच छात्र समुदाय के नेताओं को आगे बढ़ाने और तैयार करने के लिए एआईसीटीएसडी के मिशन का एक हिस्सा है।
  • आपको यह जानकारी रोचक व ज्ञानवर्धक लगे तो अपने मित्रों के साथ इस गणित के आर्टिकल को शेयर करें।यदि आप इस वेबसाइट पर पहली बार आए हैं तो वेबसाइट को फॉलो करें और ईमेल सब्सक्रिप्शन को भी फॉलो करें।जिससे नए आर्टिकल का नोटिफिकेशन आपको मिल सके ।यदि आर्टिकल पसन्द आए तो अपने मित्रों के साथ शेयर और लाईक करें जिससे वे भी लाभ उठाए ।आपकी कोई समस्या हो या कोई सुझाव देना चाहते हैं तो कमेंट करके बताएं।इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें।

Also Read This Article-International Youth Maths Challenge

2.आर्यभट राष्ट्रीय गणित प्रतियोगिता (Aryabhatta National Maths Competition):

  • नीचे आर्यभट राष्ट्रीय गणित प्रतियोगिता की पात्रता मानदंड,आवेदन करने का तरीका,विजेता उम्मीदवारों को क्या-क्या पुरस्कार और सुविधाएं दी जाएगी तथा अन्त में इसका सारांश प्रस्तुत किया गया है।

(1.)आर्यभट राष्ट्रीय गणित प्रतियोगिता की पात्रता मानदंड (Aryabhatta National Maths Competition 2021 Eligibility Criteria):

  • कोई भी कॉलेज और स्कूल का छात्र या जो गणित में रुचि रखता है तथा जो अपने गणितीय कौशल को राष्ट्रीय स्तर पर प्रस्तुत करना चाहता है और भविष्य के भारत का प्रौद्योगिकी वैज्ञानिक बनना चाहता है वे इस प्रतियोगिता में भाग ले सकते हैं।शर्त यह है कि उसकी आयु 10 वर्ष से 24 वर्ष तक होनी चाहिए अर्थात् 10 वर्ष से 24 वर्ष आयु वर्ग के लोग आवेदन कर सकते हैं।

(2.)कुल स्वीकृत आवेदन (Total Application Allowed):

  • हर वर्ष लगभग 2,00,000 छात्र इस परीक्षा के लिए आवेदन करते हैं परन्तु 10,000 पहले आवेदन करने वालों को ही प्रतियोगिता में भाग लेने की अनुमति दी जाती है।शेष आवेदन पत्र खारिज कर दिए जाते हैं तथा उनकी फीस रिफंड कर दी जाती है।

(3.)पुरस्कार (Reward):

  • पहला पुरस्कार (First Prize):
    पुरस्कार राशि ₹1,50,000+राष्ट्रीय स्तर का औद्योगिक प्रमाणित प्रमाण पत्र+राष्ट्रीय गणित वैज्ञानिक ट्राफी+₹1,00,000 मूल्य के औद्योगिक पेशेवरों के साथ रोबोटिक ऑटोमेशन और साॅफ्टवेयर पर 1 वर्ष का नि:शुल्क प्रशिक्षण और अनुसंधान एवं विकास नि:शुल्क
    (टिप्पणी-प्रशिक्षण ऑनलाइन लाइव प्रशिक्षण होगा इसलिए यात्रा करने की आवश्यकता नहीं है।)
    +AICTSD द्वारा आयोजित अंतरराष्ट्रीय स्तर की परियोजना प्रतियोगिता में भाग लेने का मौका+राष्ट्रीय गणित वैज्ञानिक छात्रवृत्ति प्राप्त करें।
  • द्वितीय पुरस्कार (Second Prize):
    पुरस्कार राशि ₹50,000+राष्ट्रीय स्तर का औद्योगिक प्रमाणित AICTSD प्रमाण पत्र+राष्ट्रीय गणित वैज्ञानिक ट्राफी+ ₹50,000 के औद्योगिक पेशेवरों के साथ रोबोटिक्स ऑटोमेशन और सॉफ्टवेयर पर 6 मास का नि:शुल्क प्रशिक्षण और अनुसंधान एवं विकास नि:शुल्क
    (टिप्पणी-प्रशिक्षण ऑनलाइन लाइव होगा इसलिए यात्रा की कोई आवश्यकता नहीं है)
    +AICTSD द्वारा आयोजित अन्तर्राष्ट्रीय स्तर की परियोजना प्रतियोगिता में भाग लेने का मौका+राष्ट्रीय गणित वैज्ञानिक छात्रवृत्ति प्राप्त करें।
  • तीसरा पुरस्कार (Third Prize):
    पुरस्कार राशि ₹10,000+राष्ट्रीय स्तर का औद्योगिक प्रमाणित AICTSD प्रमाण पत्र+राष्ट्रीय गणित वैज्ञानिक ट्राफी+ 30,000 रुपए मूल्य के औद्योगिक पेशेवरों के साथ रोबोटिक्स ऑटोमेशन और सॉफ्टवेयर पर 3 माह का नि:शुल्क प्रशिक्षण और अनुसंधान एवं विकास नि:शुल्क
    (टिप्पणी-प्रशिक्षण ऑनलाइन लाइव प्रशिक्षण होगा इसलिए यात्रा की कोई आवश्यकता नहीं है।)
    +AICTSD द्वारा आयोजित अंतरराष्ट्रीय स्तर की परियोजना प्रतियोगिता में भाग लेने का मौका+राष्ट्रीय गणित वैज्ञानिक छात्रवृत्ति प्राप्त करें।
  • अतिरिक्त लाभ (Additional Profit):
    औद्योगिक पेशेवरों के साथ अखिल भारतीय तांत्रिक कौशल्य विकास परिषद (AICTSD) के स्थाई सदस्य बनें।
    AICTSD द्वारा आयोजित विभिन्न तकनीकी कार्यक्रम में भाग लेने का अवसर।
    AICTSD वेबसाइट पर अपने नवाचार का प्रतिनिधित्व करें।
    प्रौद्योगिकी में अपने भविष्य के नवाचार में एआईसीटीएसडी से मुफ्त सहायता प्राप्त करें।
    AICTSD के इंडस्ट्रियल सर्टिफिकेट के साथ अपने रिज्यूमें को ओर मजबूत बनाएं।
    अपने नवाचार और भविष्य के प्रौद्योगिकी नवाचारों के बारे में औद्योगिक पेशेवरों के साथ बातचीत करने का मौका।
    सेमिनार में भाग लेने और सेमिनार देने का मौका।

(4.)परीक्षा प्रारूप (Examination format):

  • ऑनलाइन परीक्षा-केवल घर पर
    ऑनलाइन लाइव साक्षात्कार-घर पर ही (ऑनलाइन परीक्षा से केवल शीर्ष 20 छात्रों को ऑनलाइन लाइव साक्षात्कार के लिए चुना जाएगा।इन 20 छात्रों में से 3 छात्रों को साक्षात्कार के आधार पर विजेता घोषित किया जाएगा।
    परीक्षा प्रारूप (Exam format)-लघुउत्तरीय प्रश्नोत्तर (MCQ)[Multiple Choice Questions]
    परीक्षा अनुसूची (Exam Schedule):आपको परीक्षा तिथि से पहले परीक्षा तिथि और समय स्लाॅट और ऑनलाइन परीक्षा लिंक एसएमएस‌ के माध्यम से आपके पंजीकृत संपर्क मोबाइल नंबर पर मिल जाएगा,इसलिए जब भी यह मैसेज आपके पास आए तो हमेशा एसएमएस की जांच करते रहें।
  • परीक्षा अवधि(Exam Duration)-45 मिनट
  • प्रश्नों की संख्या (Number of Questions)-30
  • कुल अंक(Total Marks)-60
  • नकारात्मक अंकन(Negative Marking)-हां (प्रत्येक गलत उत्तर के लिए एक अंक काटा जाएगा।)

(5.)आवेदन कैसे करें? (How to Apply?),आर्यभट राष्ट्रीय गणित प्रतियोगिता 2021 पंजीकरण (Aryabhatta National Maths Competition 2021 Registration):

  • स्टेप:1.ऑनलाइन आवेदन फार्म भरें (ऑफिशियल वेबसाइट aictsd.com पर जाकर)
  • स्टेप:2.आवेदन प्रक्रिया शुल्क 290 रुपए का भुगतान करें।
  • स्टेप:3.ऑनलाइन आवेदन पत्र और आवेदन प्रक्रिया शुल्क भुगतान करने के बाद आपको 48 घंटे के भीतर एआईसीटीएसडी से हॉल टिकट नंबर (केवल हॉल टिकट नंबर) के साथ आपके पंजीकृत ईमेल आईडी पर पंजीकरण पुष्टिकरण पावती(Acknowledgement) मिल जाएगी।
  • ऑनलाइन परीक्षा लिंक आपको आपके पंजीकृत मोबाइल नंबर पर ऊपर दी गई तालिका में उल्लेखित कार्यक्रम के अनुसार एसएमएस के माध्यम से प्रदान किया जाएगा।
    आपको घर बैठे ही ऑनलाइन परीक्षा देनी है।
  • अंतिम परिणाम अनुसूची के अनुसार घोषित किया जाएगा।

(6.)महत्वपूर्ण तिथियां (Important Dates):

  • पंजीकरण की अंतिम तिथि(Last Date of Registration)-30 मई,2021
  • ऑनलाइन परीक्षा तिथि (Date of Online Examination)-30 जून,2021
  • अंतिम परिणाम दिनांक(Date of Final Result)-15 जुलाई,2021

(7.)पाठ्यक्रम (Syllabus),आर्यभट राष्ट्रीय गणित प्रतियोगिता 2021 पाठ्यक्रम (Aryabhatta National Maths Competition 2021 Syllabus):

  • ग्रुप 1(Group 1) (10 से 13 वर्ष आयु वर्ग) के लिए:
    श्रृंखला नियम (Chain Rule),प्रतिशत (Percentage),गति और दूरी (Speed and Distance),औसत (Average),नंबर सिस्टम (Number System),समय और कार्य (Time and Work),लाभ और हानि (Profit and Loss),समय और कैलेंडर (Time and Calendar)
  • ग्रुप 2 (Group) (14 से 17 वर्ष आयु वर्ग) के लिए:
    तुलनात्मक मात्राएं (Comparing Quantities),आयु (Age),ट्रेन (TRAINS),समय और कार्य (Time and Work),छूट (True Discount),श्रृंखला नियम (Chain Rule),एचसीएफ और एलसीएम (HCF and LCM)
  • ग्रुप 3 (Group 3) (18 से 24 वर्ष आयु वर्ग) के लिए:
    लाभ और हानि (Profit and Loss),अनुपात और समानुपात (Ratio and Proportion),गति और दूरी (Speed and Distance),साधारण ब्याज (Simple Interest),समय और काम (Time and Work),ट्रेन (TRAINS),श्रृंखला नियम (Chain Rule),आयु (Age)

Also Read This Article-Which subject to choose after 10th?

3.आर्यभट राष्ट्रीय गणित प्रतियोगिता का सारांश (Conclusion of Aryabhatta National Maths Competition):

  • आर्यभट दो प्रसिद्ध व्यक्ति हुए हैं।आर्यभट (प्रथम) पटना के समीप कुसुमपुर नामक नगर में 476 ई. में पैदा हुए थे। इनके तीन ग्रंथों का पता चलता है-दश गीतिका,आर्यभटीय और तन्त्र।इनमें आर्यभटीय सबसे प्रसिद्ध पुस्तक है।
  • आर्यभट (द्वितीय) एक ज्योतिष थे जिनका जन्म 950 ई. के लगभग हुआ था जिन्होंने महा-सिद्धांत नामक पुस्तक की रचना की।
  • इनमें आर्यभट (प्रथम) बहुत प्रसिद्ध गणितज्ञ थे।इस प्रतियोगिता को आर्यभट्ट के नाम पर रखने का मकसद है कि गणित में हमारे होनहार छात्र-छात्राओं की पहचान हो सके और पहचान करके उन युवाओं को आगे बढ़ाया जा सके।
  • इस गणित प्रतियोगिता से हम हमारे महान गणितज्ञों के कार्यों से परिचित हो सके।हमें गणित में आगे बढ़ने की प्रेरणा मिल सके।
  • जैसा कि हम जानते हैं कि गणित का प्रारंभ गिनने की प्रणाली से हुआ।जब भारत में दशमलव का जन्म हुआ तब अन्य प्राचीन सभ्यताओं को दस पर आधारित संख्या प्रणाली का ज्ञान नहीं था।
  • कुछ विद्वानों का मत है कि वेदों में संख्या प्रणाली के अंक शून्य (0) का उल्लेख नहीं मिलता है।उस समय संख्या प्रणाली को अंकों में न लिखकर शब्दों व वाक्यों में लिखा जाता था।भारत में हड़प्पा काल में दशमलव प्रणाली काम में लाई जाती थी।इस काल के बाटों और मापों पर 0.05,0.1,0.2,0.5,5,10,20,50,100,200 तथा 500 की संख्या अंकित पाई गई।
  • वैदिक काल में प्रचलित गणित की जानकारी वैदिक पुस्तकों में उपलब्ध है।हवन एवं पूजा विधि में गणित एवं ज्यामिति का उपयोग होता था।
  • वेदव्यास (1000 BC) द्वारा रचित नारद-विष्णु पुराण में अंकगणित संक्रियाओं जैसे-जोड़,बाकी,गुणा,भाग,वर्ग,घन,वर्गमूल,घनमूल आदि का विस्तृत उल्लेख है।रेखागणित के ज्ञान का वर्णन बौधायन का रचित ‘सूल्व सूत्र’ (800 BC) में पाया गया है। इस शास्त्र में वैदिक युग में हवन हेतु वेदियां बनाने का भी वर्णन है।वेदी निर्माण हेतु ज्यामिति के वर्ग,त्रिभुज,आयत आदि का उपयोग होता था।ऐसा अनुमान है कि ज्यामिति का ज्ञान हड़प्पा काल से ही उपलब्ध था।ज्यामिति के आधारभूत सिद्धांतों का व्यावहारिक ज्ञान का प्रयोग वेदियों के निर्माण में एकदम सही और निश्चित प्रकार से होता था।
  • आर्यभट (प्रथम) ने बीजगणित का आविष्कार किया। ऋग्वेद में संख्या की सबसे बड़ी इकाई के लिए शब्द है अयुत (10,000) और सबसे बड़ी संख्या है षष्टि :सहस्र (60,000)।यजुर्वेद परार्ध (1,000,000,000,000) तक की संख्याएं-संज्ञाएं गिनाई गई है।
  • बड़ी-बड़ी दशगुणोत्तर या शतगुणोत्तर संख्याओं को नाम देते चले जाने में कोई खास बात नहीं है जबकि आपको यह ज्ञात हो जाए कि संख्याओं की गिनती का कोई अंत नहीं है। संख्याओं के अनन्त होने का ज्ञान होने पर शब्द गढ़ने का काम कोई भी कर सकता है।
  • आर्यभट (प्रथम) (500 ई.) ने दशगुणोत्तर संज्ञा दी है:एक ,दश,शत,सहस्र,अयुत (दस हजार),नियुत (लाख),प्रयुत (दस लाख),कोटि,अर्बुद (दस कोटि) और वृंद (अरब)।
  • हमारे लिए यह गौरव की बात है कि ईसा की पांचवी सदी में आर्यभट (प्रथम) ने गणित की रचना कर भारत को गणित तथा खगोलशास्त्रों के क्षेत्र में अग्रणी होने का श्रेय प्रदान किया।आज सारे संसार में भारतीय अंक-पद्धति का व्यवहार होता है।परंतु हमारे पूर्वजों का यह महान् आविष्कार हमें कुछ सोचने के लिए झकझोरता है।
  • जो प्राचीन भारत ज्ञान-विज्ञान में सर्वोपरि था तथा सिरमौर था,आज विश्व में उसका स्थान कहां और क्या है? भास्कराचार्य (द्वितीय) (जन्म 1114 ई.) के बाद 700 साल तक हमारे देश में एक भी उच्च कोटि का गणितज्ञ पैदा नहीं हुआ।हमारे देश के विद्वानों ने हमारी प्राचीन धरोहर अंक पद्धति से कोई विशेष लाभ नहीं उठाया।हमारे विद्वान पुराणपंथी ही बने रहे।
  • वहीं 10वीं शताब्दी के बाद भारतीय अंक पद्धति का यूरोप में प्रचार हुआ तो वहां के गणितज्ञों ने खूब लाभ उठाया। वहां गणित ने तेजी से उन्नति की।आधुनिक गणित का विकास यूरोप में हुआ।
  • कई विद्वान इसका कारण यह मानते हैं कि भारत में गणित का विकास ब्राह्मणेतर विद्वानों द्वारा हुआ इसलिए इस पर ध्यान नहीं दिया गया।इसका एक कारण यह भी हो सकता है कि इसका सामान्य जनमानस में व्यावहारिक उपयोग गणना तक ही सीमित था।यह भी कारण हो सकता है कि प्राचीनकाल में गणित का करियर में विशिष्ट योगदान न रहा हो।एक अन्य कारण यह भी हो सकता है कि राजा-महाराजाओं ने गणित के ज्ञान को प्रश्रय नहीं दिया हो।कारण जो भी रहा हो शायद नियति को यही मंजूर था।

4.आर्यभट राष्ट्रीय गणित प्रतियोगिता (Aryabhatta National Maths Competition) के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न:

प्रश्न:1.आर्यभट राष्ट्रीय गणित प्रतियोगिता क्या है? (What is Aryabhatta National Maths Competition?)

उत्तर-आर्यभट राष्ट्रीय गणित प्रतियोगिता देश में छात्र समुदाय के नेताओं को बढ़ावा देने और बनाने के लिए एआईसीटीएसडी के मिशन का एक हिस्सा है।इस प्रतियोगिता के माध्यम से हम छात्र समुदाय से भविष्य के भारत के महान प्रौद्योगिकी वैज्ञानिक – 2021 की तलाश कर रहे हैं।

प्रश्न:2.मैं एआईसीटीएसडी की तैयारी कैसे करूँ? (How do I prepare for AICTSD?)

उत्तर-चरण 1–CPQS पंजीकरण फॉर्म भरें।
चरण 2-CPQS प्रोसेसिंग शुल्क का भुगतान करें।केवल  290 /-रुपए।
चरण 3 – फॉर्म और प्रोसेसिंग शुल्क भरने के बाद,आपको 48 घंटे के भीतर अपने पंजीकृत ई-मेल आईडी पर एक ऑटो पावती मिलेगी जिसमें “पूर्ण अभ्यास प्रश्न सेट (सीपीक्यूएस) [Complete Practice Question Set (CPQS)]” डाउनलोड लिंक और पासवर्ड प्रदान किया जाएगा।
इस पूर्ण अभ्यास सेट की प्रैक्टिस करें।अभ्यास सेट की प्रैक्टिस करने से पूर्व निम्नलिखित प्रक्रिया को अपनाएं-
सबसे पहले आपको इसका सिलेबस पता होना चाहिए।  सिलेबस कॉपी प्राप्त करें।परीक्षा के लिए पुस्तकें प्राप्त करें। विषय की सभी अवधारणाओं को अच्छी तरह से समझें।  नोट्स बनाएं।लगभग 30 प्रश्नों का रोजाना अभ्यास करें।नवीनतम प्रश्न-पत्र के अनुसार तैयारी करें।

प्रश्न:3. मैं आर्यभट राष्ट्रीय गणित प्रतियोगिता के लिए कैसे आवेदन करूं? (How do I Apply for Aryabhatta National Maths Competition?),मैं आर्यभट परीक्षा के लिए पंजीकरण कैसे कर सकता हूँ? (How can I Register for Aryabhatta Exam?)

उत्तर-स्टेप:1.ऑनलाइन आवेदन फार्म भरें (ऑफिशियल वेबसाइट aictsd.com पर जाकर)
स्टेप:2.आवेदन प्रक्रिया शुल्क 290 रुपए का भुगतान करें।
स्टेप:3.ऑनलाइन आवेदन पत्र और आवेदन प्रक्रिया शुल्क भुगतान करने के बाद आपको 48 घंटे के भीतर एआईसीटीएसडी से हॉल टिकट नंबर (केवल हॉल टिकट नंबर) के साथ आपके पंजीकृत ईमेल आईडी पर पंजीकरण पुष्टिकरण पावती(Acknowledgement) मिल जाएगी।
ऑनलाइन परीक्षा लिंक आपको आपके पंजीकृत मोबाइल नंबर पर ऊपर दी गई तालिका में उल्लेखित कार्यक्रम के अनुसार एसएमएस के माध्यम से प्रदान किया जाएगा।

प्रश्न:4.आर्यभट राष्ट्रीय गणित प्रतियोगिता पिछले वर्ष के प्रश्न पत्र (Aryabhatta National Maths Competition Previous Year Question Paper),आर्यभट गणित प्रतियोगिता 2021 सैंपल पेपर (Aryabhatta Maths Competition 2021 Sample Paper)

उत्तर-एआईसीटीएसडी द्वारा एक “पूर्ण अभ्यास प्रश्न सेट (सीपीक्यूएस) [Complete Practice Question Set (CPQS)]” तैयार किया है जो निश्चित रूप से “आर्यभट राष्ट्रीय गणित प्रतियोगिता 2021 (Aryabhatta National Maths Competition 2021)” को पास करने में आपकी मदद करेगा।

प्रश्न:5.आर्यभट राष्ट्रीय गणित प्रतियोगिता के विजेता (Aryabhatta National Maths Competition Winners)

उत्तर-ऑनलाइन परीक्षा से केवल शीर्ष 20 छात्रों को ऑनलाइन लाइव साक्षात्कार के लिए चुना जाएगा।इन 20 छात्रों में से 3 छात्रों को ऑनलाइन साक्षात्कार के आधार पर विजेता घोषित किया जाएगा।

उपर्युक्त प्रश्नों के उत्तर द्वारा आर्यभट राष्ट्रीय गणित प्रतियोगिता 2021(Aryabhatta National Maths Competition 2021) के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

No.Social MediaUrl
1.Facebookclick here
2.you tubeclick here
3.Instagramclick here
4.Linkedinclick here
5.Facebook Pageclick here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *