Menu

How to prepare for JEE and NEET at home?

1.जेईई और नीट की घर बैठे तैयारी कैसे करें का परिचय(Introduction to How to prepare for JEE & NEET at home?)-

जेईई और नीट की घर बैठे तैयारी करने के लिए (prepare for JEE and NEET at home) कई आनलाईन माध्यम है।इन आनलाईन माध्यमों की सहायता से आप जेईई और नीट की घर बैठे तैयारी कर (prepare for JEE and NEET at home) सकते हैं।
एक तरफ दुनिया भर में कोरोनावायरस के कारण खौफ का माहौल कायम है।चीन से फैले इस वायरस के कारण कई मौतें हुई है।
कुछ लोग तथा देश अपने निवासियों को ऐसी बीमारी से लड़ने के लिए उनको अपनी मौत मरने के लिए छोड़ देते हैं। पाकिस्तान ने चीन से अपने निवासियों को लेने से मना कर दिया जबकि भारत ने अपने निवासियों के प्रति संवेदना दर्शाते हुए एक विशेष विमान से उन लोगों को भारत में लेकर आए और उनका इलाज कर रहे हैं।
कोरोनावायरस तथा कोरोना महामारी के कारण पूरा विश्व लाॅकडाउन की स्थिति में है।ऐसी स्थिति में विद्यार्थी स्कूलों में जाकर अध्ययन नहीं कर सकते हैं। अतः बहुत से शिक्षकों ने विचार किया कि कोरोना महामारी के कारण विद्यार्थियों के अध्ययन में रुकावट नहीं आनी चाहिए।लाॅकडाउन के कारण बहुत से विद्यार्थियों का अध्ययन प्रभावित हुआ है तथा उन्हें नुकसान उठाना पड़ रहा है।
वर्तमान में कोरोना वायरस के कारण पूरी दुनिया घरों में कैद होकर रह गई है।भारत में भी कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन का पालन किया जा रहा है। कोरोनावायरस जो चीन के वुहान शहर से फेलकर पूरी दुनिया में तबाही मचा रहा है।विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोराना को विश्व महामारी घोषित कर दिया है।
कहने का तात्पर्य है कि कुछ लोग किसी भी समस्या से लड़ने के लिए संघर्ष करते हैं,उसका समाधान ढूंढते हैं। कुछ लोग समस्या पैदा करते हैं और उसी का हिस्सा बने रहते हैं। जबकि कुछ लोग समाधान का हिस्सा बनते हैं और जो समस्याएं आती हैं उनका समाधान ढूंढते हैं।अब यह हमारे ऊपर निर्भर है हम समस्या का हिस्सा बनते हैं या समाधान का हिस्सा बनते हैं।
दुनिया में अधिकतर लोग अपने-अपने प्रोफेशन को छोड़कर घर में सिमट गए हैं। अपने काम के प्रति समर्पण, दीवानगी तथा प्रेम मुश्किल हालात और कठिनाइयों में ही पता चलता है ।
जेईई और नीट की घर बैठे तैयारी करने के लिए ( prepare for JEE and NEET at home) हम इस आर्टिकल में स्टाॅर्टअप एडविजो के बारे में बताने जा रहे हैं।स्टाॅर्टअप एडविजो को आईआईटी के टाॅपर्स ने संस्थान के पुराने छात्रों के साथ मिलकर शुरू किया है।
आपको यह जानकारी रोचक व ज्ञानवर्धक लगे तो अपने मित्रों के साथ इस गणित के आर्टिकल को शेयर करें ।यदि आप इस वेबसाइट पर पहली बार आए हैं तो वेबसाइट को फॉलो करें और ईमेल सब्सक्रिप्शन को भी फॉलो करें जिससे नए आर्टिकल का नोटिफिकेशन आपको मिल सके ।यदि आर्टिकल पसन्द आए तो अपने मित्रों के साथ शेयर और लाईक करें जिससे वे भी लाभ उठाए ।आपकी कोई समस्या हो या कोई सुझाव देना चाहते हैं तो कमेंट करके बताएं। इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें।

प्रश्न-क्या CBSE द्वारा कोविद 19 महामारी में कक्षा 9 से 12 के लिए पाठ्यक्रम को 30% तक कम करना एक अच्छा निर्णय है? क्या यह नया सिलेबस इंजीनियरिंग और मेडिकल परीक्षाओं में प्रवेश परीक्षा के लिए भी लागू होता है?

उत्तर-

(1.) कोरोनावायरस के कारण फैली महामारी के कारण पाठ्यक्रम को कम करना उचित ही है।
(2.) हमेशा के लिए पाठ्यक्रम को कम करना उचित नहीं है क्योंकि इसका दुष्प्रभाव प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी पर पड़ता है।
(3.) कोर्स कम करने पर छात्र-छात्राएं अन्तर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में पिछड़ते है। इसलिए कोर्स कम करने से छात्र-छात्राओं को नुकसान तो उठाना पड़ेगा।
(4.)हर डिग्री कोर्सेज के अलग-अलग नियम है इसलिए CBSE का कोर्स कम किया है तो यह नियम इसी पर लागू होगा।अगर इंजीनियरिंग और मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं का कोर्स कम करेंगे तभी प्रभावी होगा।
(5.) इंजीनियरिंग और मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं का सिलेबस और चयन की अलग प्रक्रिया और नियम है। इसलिए यदि इंजीनियरिंग और मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं का कोर्स कम करने का प्रावधान किया जाता है तभी इन पर लागू होगा।
(6.) इसलिए कोर्स कम करने पर भी छात्र-छात्राओं को आनलाइन माध्यमों का सहारा लेकर अपनी तैयारी करते रहना चाहिए। तैयारी करने में कोई कसर नहीं रखना चाहिए।
(7.)एडविजो एप, यूट्यूब चैनल पर वीडियो तथा अन्य बहुत सी वेबसाइट हैं जिनके माध्यम से आप प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी कर सकते हैं।

जेईई और नीट की घर बैठे तैयारी कर (prepare for JEE and NEET at home) की इस आर्टिकल में बताएं गए अनुसार तैयारी कर सकते हैं।आप अन्य प्रवेश परीक्षाओं की भी आनलाइन तैयारी कर सकते हैं।

2.जेईई और नीट की घर बैठे तैयारी करें (To prepare for JEE and NEET at home)-

आईआईटी गुवाहाटी के पूर्व छात्र रवि निशांत के स्टाॅर्टअप एडविजो में आईआईटी के टाॅपर्स प्रतियोगिता परीक्षा जेईई व नीट की तैयारी कर छात्रों के लिए” डाउट सेशन” चला रहे हैं। जिससे इन युवा छात्रों का उचित मार्गदर्शन हो और उपयुक्त तैयारी के अभाव में उनके सपने अधूरे न रह जाए।
इस स्टाॅर्टअप एडविजो के माध्यम से जेईई और नीट की तैयारी कर रहे छात्रों की समस्याओं और शंकाओं का समाधान किया जाता है।
आईआईटी के टाॅपर्स जूम के द्वारा एक घंटे का लाइव सेशन चलाते हैं जिसमें हर छात्र की समस्या का समाधान किया जाता है।एक सेशन में 8 से 12 छात्रों को बुलाया जाता है ताकि उनसे बेहतर तरीके से वार्ता की जा सके और उनकी शंकाओं को दूर किया जा सके।यह सेशन सोमवार से शनिवार तक सुबह 9 बजे से शाम 7 बजे तक चलता है।
कोई भी व्यक्ति सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक अधिकारिक व्हाट्सअप नम्बर +91 7002255622 पर अपने डाउट्स भेज सकता है। डाउट्स और प्रश्नों को छांटा जाता है और उनकी टीम (आईआईटीयंस,डाॅक्टर्स, सीनियर सब्जेक्ट एक्सपर्ट्स)को दे दिया जाता है।
प्रत्येक विषय (भौतिकी, रसायनशास्त्र, गणित, जीवविज्ञान)के लिए एक घंटे का सेशन होता है।
इस स्टाॅर्टअप एडविजो और अन्य आनलाईन एप तथा पोर्टल में एक खास अन्तर है।अन्य आनलाईन एप तथा पोर्टल से केवल छात्रों को पढ़ाया जाता है।जबकि स्टाॅर्टअप एडविजो के द्वारा छात्रों की शंकाओं और समस्याओं का समाधान किया जाता है।इस स्टाॅर्टअप एडविजो को 10 मई 2020 से शुरू किया है।
इसके अलावा स्टाॅर्टअप एडविजो के संचालक की योजना है कि वे वीकेंड में छात्रों के करियर से जुड़ी उलझनों को दूर करने के लिए आईआईटी,आईआईएम,एम्स और आईएएस अधिकारियों द्वारा सेशन कराएंगे।

Also Read This Article-how to get highest marks in board exam?

3.निष्कर्ष (Conclusion)-

कुछ अभ्यर्थियों की आदत होती है कि वे परीक्षा स्थगित होने के कारण अपनी परीक्षा की तैयारी भी स्थगित कर देते हैं।परीक्षा की तैयारी स्थगित करने के कारण ऐसे अभ्यर्थियों की विषय पर पकड़ कमज़ोर हो जाती है।जो अभ्यर्थी नियमित रूप से परीक्षा की तैयारी करते रहते हैं इनकी तुलना में जो परीक्षार्थी अपनी परीक्षा की तैयारी स्थगित कर देते हैं,ऐसे विद्यार्थी पिछड़ जाते हैं।
कोरोनावायरस से फैली महामारी के बजाय अन्य कई कारणों से भी परीक्षा स्थगित हो जाती है। परन्तु जो अभ्यर्थी किन्हीं भी कारणों से अपनी परीक्षा की तैयारी को स्थगित नहीं करते वे हमेशा लाभप्रद स्थिति में होते हैं।
यदि वर्तमान में परीक्षा नहीं भी होती है तो उनके ज्ञान में तो वृद्धि होती ही है।
किसी भी परीक्षा की तैयारी केवल परीक्षा केन्द्रित ही नहीं करनी चाहिए।बल्कि परीक्षा की तैयारी ज्ञान केन्द्रित करनी चाहिए।
परन्तु वस्तुत:हमारा फोकस एकमात्र परीक्षा पर रहता है।ऐसे अभ्यर्थी यदि सफल हो भी जाते हैं तो जीवन की दौड़ में कहीं न कहीं वे ठोकर खाते हैं।
ऐसे व्यक्ति फिर दूसरों से उसका समाधान पूछते फिरते हैं।स्वयं अनुभव अर्जित करते नहीं और दूसरो के सहारे अर्थात् बैसाखियों के सहारे चलते हैं।
परीक्षा अगर स्थगित होती भी है तो अभ्यर्थी को अपने आपको केन्द्र में रखकर सोचना चाहिए।उसे ओर अतिरिक्त समय मिलने का भरपूर फायदा उठाना चाहिए। इसलिए किसी कारणवश परीक्षा स्थगित भी हो जाती है तो जेईई तथा नीट की घर बैठे तैयारी करने के लिए (prepare for JEE and NEET at home) इस एप का भरपूर फायदा उठाएं।

लाॅकडाउन की स्थिति में भी जो छात्र जेईई तथा नीट की घर बैठे तैयारी करने के लिए (prepare for JEE and NEET at home) यह एडविजो स्टाॅर्टअप एक अच्छा माध्यम है।अब यह छात्रों पर निर्भर करता है कि वे इसका लाभ उठाते हैं या नहीं। दरअसल जहां चाह होती है वहां राह मिल जाती है।
जो छात्र इस उलझन में हैं कि जेईई और नीट को पढ़ाने वाले एप और पोर्टल तो मिल जाते हैं परन्तु उनकी समस्याओं का समाधान नहीं हो पाता है।ऐसे छात्र स्टाॅर्टअप एडविजो के माध्यम से जेईई और नीट की तैयारी में आनेवाली समस्याओं का समाधान इस स्टाॅर्टअप के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं।
इस स्टाॅर्टअप एडविजो की एक विशेषता ओर है कि इसका लाभ लेने के लिए आपको कोई शुल्क नहीं देना पड़ेगा। अर्थात् स्टाॅर्टअप एडविजो का लाभ आप फ्री में उठा सकते हैं।

4.लर्नफ्लिक्स ऐप के द्वारा समस्या समाधान (Troubleshooting with the Learnflix App)-

एस चांद पब्लिशर्स ने लर्नफ्लिक्स ऐप लाॅन्च किया है।इस ऐप के द्वारा कक्षा 6 से 10 तक की गणित और विज्ञान की पढ़ाई बहुत अच्छी तरह की जा सकती है।
एस चांद पब्लिशर्स एक प्रतिष्ठित पब्लिशर्स है। इसलिए इसमें धोखाधड़ी व फ्राड होने की कोई सम्भावना नहीं है।
यह एप सीबीएसई, आईसीएसई और अन्य स्टेट बोर्ड के सिलेबस के अनुरूप है। इसमें अनलिमिटेड प्रैक्टिस टेस्ट हैं। साथ ही एनीमेटेड वीडियो क्विज,रिवीजन नोट,सैंपल पेपर्स आदि की भी सुविधाएं हैं।
यह एप बच्चों के साथ-साथ अध्यापकों के लिए भी फायदेमंद है।अध्यापक इसका उपयोग रिमोट टीचिंग के लिए कर सकते हैं।
इस प्रकार आप स्टाॅर्टअप एडविजो के माध्यम से जेईई और नीट की घर बैठे तैयारी करने (prepare for JEE and NEET at home) और लर्नफ्लिक्स ऐप के द्वारा 6 से 10 तक गणित और विज्ञान की पढ़ाई कर सकते हैं।

Also Read This Article-What are top 7 mathematics careers?

No. Social Media Url
1. Facebook click here
2. you tube click here
3. Twitter click here
4. Instagram click here
5. Linkedin click here
6. Facebook Page click here

No Responses

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *