Menu

JEE-Advanced 2020 Topper Chirag Falor

1.JEE एडवांस्ड 2020 के टॉपर चिराग फालोर का परिचय (Introduction to JEE-Advanced 2020 Topper Chirag Falor)-

JEE एडवांस्ड 2020 के टॉपर चिराग फालोर (JEE-Advanced 2020 Topper Chirag Falor)रहे।
(1.)जेईई एडवांस 2020 का परिणाम 5 अक्टूबर को घोषित कर दिया गया है।
(2.)JEE एडवांस्ड 2020 के टॉपर चिराग फालोर (JEE-Advanced 2020 Topper Chirag Falor) ने संयुक्त प्रवेश परीक्षा एडवांस (Joint Entrance Examination Advanced) में 396 में से 352 अंक अर्जित किए।
(3.)विजयवाड़ा के गांगुला भुवन रेड्डी दूसरे स्थान पर और वैभव राज तीसरे स्थान पर रहे।लड़कियों में कनिष्का मित्तल (Kanishka Mittal) ने 17वीं रैंक हासिल की तथा 396 में से 315 अंक अर्जित किए।
(4.) JEE एडवांस्ड 2020 के टॉपर चिराग फालोर (JEE-Advanced 2020 Topper Chirag Falor) इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी बॉम्बे (IITB)जोन से हैं।
(5.)प्रतिभावान, जन्मजात विरले ही होते हैं।यह निरन्तर अभ्यास से अर्जित की जाती है।कुछ व्यक्तियों के व्यक्तित्व ऐसे साहसी,स्फूर्तिवान, सूक्ष्मदर्शी, संकल्पशक्तिमान,क्रियाकुशल तथा प्रभावशाली होते हैं, वे जिस काम को भी हाथ में ले, उसी आधार पर गतिशील बनाते चले जाते हैं और सफलता के उच्च शिखर पर जा पहुंचते हैं।इस विशेषता को ही प्रतिभा कहते हैं।
(6.)JEE एडवांस्ड 2020 के टॉपर चिराग फालोर (JEE-Advanced 2020 Topper Chirag Falor) के अनुसार पिछले 4 वर्ष से जेईई और एमआईटी की तैयारी कर रहे हैं।तात्पर्य है कि प्रतिभा की नींव बचपन से ही डाली जाती है।
(7.)जो बचपन से ही अपनी आंतरिक शक्तियों को जाग्रत कर स्वयं की उपयोगिता सिद्ध करने में लगा हुआ है,वह प्रतिभावान है।
(8.)अपने लिए तो उपयोगी बने ही साथ ही समष्टि के लिए भी उपयोगी बने।प्रतिभा का धनी न कभी हारता है और न कभी अभावग्रस्त होने की शिकायत करता है।
(9.)प्रतिभावान को किसी पर दोषारोपण करने की आवश्यकता नहीं पड़ती है कि उसे अमुक व्यक्ति ने सहयोग नहीं किया या उसकी सफलता के मार्ग को रोके रखा।
(10.)प्रतिभाशालीयों की गणना में वे ही आते हैं जो अपनी क्षमताओं को उभारने,विकसित करने में लगे रहते हैं।
(11.)JEE एडवांस्ड 2020 के टॉपर चिराग फालोर (JEE-Advanced 2020 Topper Chirag Falor) ने स्वयं बताया है कि वह सुबह से लेकर शाम तक अपने मिशन जेईई तथा एमआईटी की तैयारी में लगा रहता था।
(12.)स्पष्ट है कि जिसका लक्ष्य निश्चित हो तथा उस लक्ष्य को पाने के लिए प्राणप्रण से जुटा हुआ हो तो अन्तत: उसे उसका लक्ष्य मिल ही जाता है।
(13.)जेईई तथा एमआईटी जैसी प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी के लिए बालकों को बचपन से तैयारी शुरू करने की नींव डाल देनी चाहिए।
(14.)इन परीक्षाओं का डिफीकल्टी लेवल बढ़ता जा रहा है तथा इनमें कड़ी प्रतिस्पर्धा का सामना करना होता है।
(15.)लक्ष्य जितना ऊंचा होता है उसकी तैयारी के लिए उतनी ही कठिनाइयों का सामना करना पड़ता हैं।इसके लिए बार-बार अभ्यास करना पड़ता है।हमेशा उसके सामने वही लक्ष्य रहता है।
(16.)JEE एडवांस्ड 2020 के टॉपर चिराग फालोर (JEE-Advanced 2020 Topper Chirag Falor) द्वारा सफलता अर्जित करने के बारे में उसका खुद का क्या विचार है, इसका विवरण नीचे आर्टिकल में किया गया है।
(17.)जेईई एडवांस का परीक्षा परिणाम का लिंक भी नीचे आर्टिकल में दिया गया है।जेईई एडवांस में भाग लेने वाले अभ्यर्थी इस लिंक के द्वारा अपना परीक्षा परिणाम का पता लगा सकते हैं अथवा आईआईटी दिल्ली द्वारा आयोजित जेईई-एडवांस 2020 का परिणाम अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर भी देखा जा सकता है।
(18.)अपने बालकों को सुख-सुविधा उपलब्ध कराने वाले अभ्यर्थी इस प्रकार की प्रतियोगिता परीक्षाओं में अपना स्थान नहीं बना पाते हैं।
(19.)विद्या ग्रहण करने के लिए सुख-सुविधा तथा ऐशोआराम का त्याग करना ही होता है।सफलता तभी उनको हासिल होती है।
आपको यह जानकारी रोचक व ज्ञानवर्धक लगे तो अपने मित्रों के साथ इस गणित के आर्टिकल को शेयर करें।यदि आप इस वेबसाइट पर पहली बार आए हैं तो वेबसाइट को फॉलो करें और ईमेल सब्सक्रिप्शन को भी फॉलो करें।जिससे नए आर्टिकल का नोटिफिकेशन आपको मिल सके ।यदि आर्टिकल पसन्द आए तो अपने मित्रों के साथ शेयर और लाईक करें जिससे वे भी लाभ उठाए ।आपकी कोई समस्या हो या कोई सुझाव देना चाहते हैं तो कमेंट करके बताएं। इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें।

Also Read This Article-Neelkanta Bhanu Prakash of Hyderabad became world fastest Human calculator

2.JEE एडवांस्ड 2020 के टॉपर चिराग फालोर (JEE-Advanced 2020 Topper Chirag Falor)-

JEE एडवांस्ड 2020 के टॉपर चिराग फालोर (JEE-Advanced 2020 Topper Chirag Falor) तथा जेईई-एडवांस 2020 परीक्षा से संबंधित विवरण निम्न प्रकार है-
(1.)पुणे निवासी 18 वर्षीय चिराग फालोर इस संयुक्त प्रवेश परीक्षा में 396 में से 352 स्कोर करके टॉप किया है।
(2.)जेईई एडवांस 2020 का परीक्षा परिणाम सोमवार को यानि दिनांक 05.10.2020 को घोषित किया गया है।
(3.)चिराग फालोर का लक्ष्य आईआईटी में जाने का नहीं है बल्कि एमआईटी से डिग्री प्राप्त करने का है।
(4.)चिराग फालोर ने पहले ही मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एमआईटी ) में प्रवेश पा लिया है तथा इसी संस्थान से ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल करने की योजना बना रहा है।
(5.)जेईई परीक्षा को चिराग फलोर ने अपने कौशल का परीक्षण करने के लिए दी थी।
(6.)चिराग फालोर जेईई परीक्षा की तैयारी पिछले 4 साल से कर रहा था।इसलिए एमआईटी में प्रवेश की पुष्टि होने के बावजूद भी इस परीक्षा में शामिल हुआ।
(7.)पिछले एक माह से चिराग फालोर ने एमआईटी (MIT) के लिए नियमित रूप से भाग लेने के लिए सप्ताह में 6 दिन सुबह 5:30 बजे से शाम 4:30 बजे तक लगभग 11 घंटे बिताए तथा जेईई के लिए कुछ घंटे बिताए।
(8.)JEE एडवांस्ड 2020 के टॉपर चिराग फालोर (JEE-Advanced 2020 Topper Chirag Falor) पिछले दो वर्षों से कड़ी मेहनत कर रहा था।
(9.)लाॅकडाउन के दौरान चिराग फालोर ने तैयारी से एक ब्रैक लिया और पिछले 1 महीने से काफी समय अध्ययन करने और हल करने में बिताया।
(10.) चिराग फालोर जेईई-एडवांस 2020 के लिए पुरुष टाॅपर है जबकि महिला काॅमनर कनिष्का मित्तल 17वीं रैंक के साथ आईआईटी रुड़की जोन से ताल्लुक रखती है।
(11.)IIT-B जोन की जोन वाईज महिला टाॅपर 62वीं काॅमन रैंक के साथ अहमदाबाद की नियति मेहता है।
(12.)ऑल इंडिया टॉपर के अलावा ,अनुसूचित जाति (एससी)और एससी (विकलांगता वाले व्यक्ति) श्रेणियों के टाॅपर्स एवी उदय और यश पाटिल हैं।दोनों आईआईटी बॉम्बे जोन से संबंधित है।
(13.)27 सितंबर को आयोजित होने वाली जेईई-एडवांस परीक्षा के लिए लगभग 1.6 लाख छात्रों ने पंजीकरण कराया था और लगभग 1.5 लाख छात्रों ने इसमें भाग लिया था।इसमें 43 हजार से अधिक उम्मीदवार शामिल थे जिसमें 6707 लड़कियां शामिल थी।
(14.)आईआईटी में एक सीट भी हासिल करना बहुत कठिन है।इसमें विशाल पाठ्यक्रम की तैयारी करनी होती है।
(15.)दिल्ली के प्रगति पब्लिक स्कूल में तथा दसवीं तक सेंट अर्नोल्ड सेंट्रल स्कूल में पढ़ने वाले फालोर के अनुसार वह अगले साल जनवरी में वापिस अमेरिका जाने की योजना बना रहा है।
(16.)चिराग फालोर को 2020 के लिए बाल शक्ति पुरस्कार मिला था और उस समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा इसकी प्रशंसा की गई थी।

3.जेईई एडवांस 2020 के परिणाम की जांच कैसे करें? (How to check result of JEE Advanced 2020?)-

(1.)जेईई-एडवांस 2020 के परीक्षा परिणाम की जांच करने के लिए नीचे दी गई स्टेप्स का पालन करें और अपने परिणाम की जांच कर लें।
(2.) अपने परिणाम को डाउनलोड करें और भविष्य में उपयोग के लिए उसका प्रिंट ले लें।
(3.)JEE (एडवांस्ड) 2020 के परिणाम भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT) दिल्ली ने सोमवार को आधिकारिक वेबसाइट – jeeadv.ac.in पर घोषित कर दिए हैं।
(4.)आधिकारिक वेबसाइट – jeeadv.ac.in पर जाएं।
(5.)होमपेज पर जेईई एडवांस रिजल्ट 2020 ’लिंक पर क्लिक करें।
(6.)अपना जेईई एडवांस 2020 क्रेडेंशियल दर्ज करें जैसे कि पंजीकरण संख्या, जन्म तिथि, मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी।
(7.)इसे सबमिट करने पर, जेईई एडवांस का रिजल्ट आपकी स्क्रीन पर होगा।
(8.)अपना परिणाम डाउनलोड करें और भविष्य में उपयोग के लिए उसका एक प्रिंट लें।
JEE एडवांस्ड 2020 के टॉपर चिराग फालोर (JEE-Advanced 2020 Topper Chirag Falor) तथा जेईई-एडवांस परीक्षा,2020 से संबंधित परीक्षा का संक्षिप्त विवरण ऊपर उल्लेख कर दिया गया है।
आपको उक्त जानकारी कैसी लगी,अपनी प्रतिक्रिया द्वारा अवगत कराएं।

4.जेईई एडवांस 2020 का टॉपर कौन होगा? (Who will be the topper of JEE Advanced 2020?)-

चिराग फालोर
पहले से ही मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एमआईटी) का छात्र रहा पुणे का लड़का चिराग फालोर ने संयुक्त प्रवेश परीक्षा (एडवांस्ड) 2020 में टॉप किया है। जेईई (एडवांस्ड) कॉमन रैंक लिस्ट के लिए क्वालीफाइंग एग्रीगेट मार्क्स कम होकर पांच साल के निचले स्तर तक पहुंच गए हैं।

5. क्या जेईई एडवांस 2020 कठिन होगा? (Will JEE Advanced 2020 be tough?)-

JEE एडवांस्ड 2020: ‘फिजिक्स के दोनों पेपर कठिन’
जेईई मेन में 529 रैंक हासिल करने वाले नमन प्रताप ने कहा, ‘पिछले साल की तुलना में इस साल जेईई एडवांस की परीक्षा कठिन थी।मुझे पेपर 1 की तुलना में पेपर 2 कठिन लगा, लेकिन प्रश्न पैटर्न में कोई कठोर बदलाव नहीं हुआ।रसायन विज्ञान के प्रश्न अधिक प्रत्यक्ष थे। “

6.जेईई एडवांस 2020 के लिए क्वालीफाइंग पर्सेंटाइल क्या है? (What is the qualifying percentile for JEE Advanced 2020?)-

आमतौर पर, जेईई एडवांस्ड 2020 में उपस्थित होने के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता यह है कि उम्मीदवार को अंतिम कक्षा 12 की परीक्षा या समकक्ष योग्यता परीक्षा में कम से कम 75% कुल अंकों (अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, और पीडब्ल्यूडी के लिए 65%) या अपने संबंधित बोर्ड परीक्षाओं में सफल उम्मीदवारों के शीर्ष 20 परसेंटाइल में होने चाहिए।लेकिन इस साल के लिए,इस खंड को हटा दिया गया है।

7. क्या जेईई की तुलना में ऐम्स कठिन है? (Is AIIMS tougher than JEE advanced?)-

जेईई एडवांस्ड दुनिया की दूसरी सबसे कठिन परीक्षा है जबकि एम्स दुनिया की शीर्ष 25 सबसे कठिन परीक्षाओं में कहीं नहीं है।कठोरता, सवालों की गुणवत्ता और परीक्षण की स्थिति के मामले में JEE एडवांस्ड की तुलना में AIIMS आसान है।

8.जेईई-एडवांस्ड 2020 (JEE advanced 2020)-

जेईई (एडवांस्ड) 2020 में 10 + 2 के स्तर पर विदेश में पढ़ने वाले (अध्ययन कर रहे) विदेशी नागरिकों के लिए पंजीकरण शनिवार 5 सितंबर, 2020 से शुरू हुआ।अन्य सभी उम्मीदवारों के लिए, जेईई (एडवांस्ड) 2020 पंजीकरण शनिवार से शुरू (12 सितंबर, 2020)से शुरू हुआ।

9.आईआईटी जेईई क्या है? (what is IIT JEE?)-

संयुक्त प्रवेश परीक्षा – एडवान्सड (JEE-Advanced), पूर्व में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान-संयुक्त प्रवेश परीक्षा (IIT-JEE), भारत में प्रतिवर्ष आयोजित होने वाली एक शैक्षणिक परीक्षा है। यह भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान में प्रवेश के लिए एकमात्र शर्त है।

Also Read This Article-Math professor JigarkumarPatel Honored

No. Social Media Url
1. Facebook click here
2. you tube click here
3. Twitter click here
4. Instagram click here
5. Linkedin click here
6. Facebook Page click here
No Responses

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *