Menu

How to reduce exam anxiety and stress?

1.परीक्षा की चिंता और तनाव को कैसे कम करें? (How to reduce exam anxiety and stress? )-

परीक्षा की चिंता और तनाव को कम करने ( to reduce exam anxiety and stress)के लिए विद्यार्थियों को कुछ खास बातों का ख्याल रखना होगा।हम परीक्षा की चिंता और तनाव को कम करने (to reduce exam anxiety and stress) के लिए कुछ टिप्स बता रहे हैं जिनका पालन करके स्टूडेंट्स चिंता और तनाव से मुक्त हो सकते हैं।
परीक्षा प्रारंभ होते ही कुछ विद्यार्थी तो निश्चिंत होकर परीक्षा की तैयारी में जुट जाते है जबकि कुछ विद्यार्थी परीक्षा के डर से चिंतित और तनावग्रस्त हो जाते हैं।जैसे-जैसे परीक्षा निकट आती जाती है तो उनकी समस्या बढ़ती जाती है।इस प्रकार के स्टूडेंट्स यह समझ ही नहीं पाते हैं कि परीक्षा की तैयारी कहां से प्रारंभ करें और बचे हुए इन दिनों को कुशलता के साथ कैसे उपयोग करें।
आपको यह जानकारी रोचक व ज्ञानवर्धक लगे तो अपने मित्रों के साथ इस गणित के आर्टिकल को शेयर करें ।यदि आप इस वेबसाइट पर पहली बार आए हैं तो वेबसाइट को फॉलो करें और ईमेल सब्सक्रिप्शन को भी फॉलो करें जिससे नए आर्टिकल का नोटिफिकेशन आपको मिल सके ।यदि आर्टिकल पसन्द आए तो अपने मित्रों के साथ शेयर और लाईक करें जिससे वे भी लाभ उठाए ।आपकी कोई समस्या हो या कोई सुझाव देना चाहते हैं तो कमेंट करके बताएं। इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें।

Also Read This Article-If you are afraid of mathematics then follow this formula

2.परीक्षा की चिंता और तनाव को कम करने के लिए चिंता और तनाव के असली कारण का पता लगाएं (Find the real cause of anxiety and stress to reduce exam anxiety and stress)-

सर्वप्रथम विद्यार्थी आत्म-विश्लेषण करें अर्थात यह पता लगाएं कि आखिर उनकी समस्या व डर की असली वजह क्या है?परीक्षा की चिंता और तनाव को कम करने ( to reduce exam anxiety and stress) के लिए अपने आपसे कुछ प्रश्न पूछे और उन प्रश्नों का उत्तर ढूंढने का प्रयास करें।वे प्रश्न है कि क्या परीक्षा के लिए आपकी सही ढंग से तैयारी है?क्या आपको परीक्षा में फेल हो जाने का डर सता रहा है?क्या आपके माता-पिता अच्छे अंक लाने के लिए आप पर दबाव डाल रहे हैं?क्या आप नहीं समझ पा रहे हैं कि परीक्षा की तैयारी कहां से और कैसे शुरू करें?

3.सकारात्मक सोच रखें (Keep positive thinking)-

परीक्षा की चिंता और तनाव को कम करने के लिए सकारात्मक सोच रखें।अपने मन में नकारात्मकता का प्रवेश न होने दें।सकारात्मक सोच और आत्म-विश्वास के साथ परीक्षा की तैयारी करें। सकारात्मक सोच आपको सदैव आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करती है। यदि आपकी परीक्षा के लिए तैयारी पूरी है तो डरने की कोई आवश्यकता नहीं है‌।यदि परीक्षा की तैयारी अधूरी है तो भी चिंता करने की कोई आवश्यकता नहीं है क्योंकि चिंता और तनाव से जो कुछ आपको याद है उसे भी भूल जाएंगे ।इसलिए चिंता और तनाव से लाभ तो कुछ होने वाला नहीं है बल्कि इससे नुकसान ही होता है।

Also Read This Article-How to get good marks in Mathematics in board exam?

4.अपना ध्यान पढ़ाई पर फोकस करें (Focus your attention on studies)-

अक्सर यह देखा जाता है कि दिमाग निष्क्रिय रहता है अर्थात् जब हम कुछ नहीं करते हैं तो दिमाग में फालतू की बातें घूमती रहती है।इसलिए जितनी उर्जा और समय चिंता और तनाव में व्यतीत करते हैं ,उस ऊर्जा और समय को पढ़ाई में लगाएं तो परिणाम अच्छा आ सकता है।मात्र चिंता और तनाव से तो हारना निश्चित है। यदि आप सफल होना चाहते हैं तो आपको कठिन परिश्रम करना पड़ेगा।इसलिए अपना ध्यान पढ़ाई पर फोकस करें।

5.एकाग्रता और सतर्कता के साथ पढ़ें (Read with concentration and alertness)-

पढ़ने के लिए एकाग्रता का होना आवश्यक है।इसलिए रोजाना एकाग्रता के लिए ध्यान व योग करें। ध्यान व योग परीक्षा की चिंता और तनाव को कम करने में मददगार साबित होता है।यदि चिंता और तनाव कम न हो रही हो तो अपने पढ़ने के तरीके में बदलाव करें।इफेक्टिव स्टडी प्लान पढ़ाई को आसान व रोचक बना देता है।

6.सीखने में विश्वास रखें (Believe in learning)-

सफलता और असफलता हमारे जीवन के अंग है ।लेकिन हमारे हाथ में केवल कर्म करना अर्थात परिश्रम करना ही होता है।कर्म का फल हमारे हाथ में नहीं होता है बल्कि परमात्मा के विधि विधान के अनुसार होता है।लेकिन कर्म करने वाले अर्थात् परिश्रम करने वाले को सफलता अवश्य मिलती है। इसलिए हमेशा कोशिश जारी रखें।

7.ध्यान व योग (Meditation and yoga)-

परीक्षा की चिंता और तनाव को कम करने ( to reduce exam anxiety and stress) के लिए पढ़ाई करें। पढ़ने में एकाग्रता के लिए ध्यान व योग का बहुत बड़ा योगदान होता है।इसलिए प्रातः जल्दी उठकर ध्यान व योग करें।ध्यान भ्रूमध्य में प्रकाश की ज्योति का कर सकते हैं।दूसरा तरीका है कि दीपक या मोमबत्ती के प्रकाश का मानसिक रूप से आंखें बंद करके ध्यान करें। तीसरा तरीका है कि सूर्य के प्रकाश का ध्यान करें।शुरू-शुरू में ध्यान भटकता है इसलिए घबराने की आवश्यकता नहीं है परंतु धीरे-धीरे एकाग्रता सधने लगती है। एकाग्रता ,ध्यान व योग हमें चिंता व तनाव से मुक्त कर देता है।

8.पर्याप्त नींद व संतुलित भोजन लें (Get enough sleep and a balanced diet)-

होटल का भोजन व चटपटा भोजन न लें बल्कि सादा व संतुलित भोजन लें। हो सके तो दूध और फल खाएं। परीक्षा की चिंता और भय को कम करने के लिए पर्याप्त नींद लें। यदि आप परीक्षा की तैयारी के कारण पर्याप्त नींद नहीं लेंगे तो बीमार हो सकते हैं।याद रखें स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मस्तिष्क का निवास होता है।

9.निष्कर्ष (conclusion)-

तो विद्यार्थियों ऊपर परीक्षा की चिंता और तनाव को कम करने (to reduce exam anxiety and stress ) के आसान टिप्स बताएं हैं ,उनका पालन करें।परीक्षा के कारण चिंता तो हो जाती है क्योंकि आपके पूरे साल भर की मेहनत का टेस्ट होता है और आपको उसका परिणाम मिलता है। लेकिन इससे ज्यादा जरूरी यह है कि चिंता व तनाव अपने आप पर हावी न होने दें। पूरे जोश और आत्मविश्वास के साथ परीक्षा में जुट जाएं।आपकी मेहनत और परीक्षा परिणाम अच्छा आएगा ही आएगा।

No. Social Media Url
1. Facebook click here
2. you tube click here
3. Twitter click here
4. Instagram click here
5. Linkedin click here
6. Facebook Page click here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *