Menu

How to get rid of sleep while reading?

1.पढ़ते समय आने वाली नींद को कैसे भगाएं दूर?(How to get rid of sleep while reading?)-

पढ़ते समय आने वाली नींद  को भगाएं दूर(to get rid of sleep while reading) ,के बारे में इस आर्टिकल में बताया गया है।इस आर्टिकल में ऐसी टिप्स बतायी गई है जिनका पालन करके पढ़ते समय आने वाली नींद को भगाएं दूर भगा (to get rid of sleep while reading) सकते हैं। इसके लिए आपको अपनी जीवन जीवन-शैली में कुछ महत्त्वपूर्ण बदलाव करने होंगे।क्या आपको पढ़ाई करते समय नींद परेशान करती है?क्या आप अक्सर किताबों पर मुंह रखकर सोए पाए जाते हैं?
पढ़ाई करते समय नींद आना एक बहुत ही आम समस्या है।जैसे ही हम पढ़ने बैठते हैं तो नींद आने लगती है जिसकी वजह से हमारा दिमाग काम करना बन्द कर देता है। आंखों में नींद घुलने पर कुछ समय तो जबरदस्ती पढ़ने की कोशिश करते हैं किन्तु अन्त में जब सबकुछ हमारे नियंत्रण में नहीं रहता तो बेबस होकर सोना ही पड़ता है या फिर कभी-कभी पता ही नहीं चलता कि कब आंख लग गई।नींद आने की इस समस्या के कारण विद्यार्थी चाहकर भी अपने स्टडी टारगेट को पूरा नहीं कर पाते।
विद्यार्थियों की इसी समस्या का समाधान करने के लिए कुछ ऐसी टिप्स बतायी जा रही है जो आपको बिना सोये प्रभावशाली तरीके से पढ़ाई करने में मददगार साबित होगा।
आपको यह जानकारी रोचक व ज्ञानवर्धक लगे तो अपने मित्रों के साथ इस गणित के आर्टिकल को शेयर करें ।यदि आप इस वेबसाइट पर पहली बार आए हैं तो वेबसाइट को फॉलो करें और ईमेल सब्सक्रिप्शन को भी फॉलो करें जिससे नए आर्टिकल का नोटिफिकेशन आपको मिल सके ।यदि आर्टिकल पसन्द आए तो अपने मित्रों के साथ शेयर और लाईक करें जिससे वे भी लाभ उठाए ।आपकी कोई समस्या हो या कोई सुझाव देना चाहते हैं तो कमेंट करके बताएं। इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें।

Also Read This Article:-SwayamPrabha Online Education Platform

2.पढ़ते समय आनेवाली नींद को दूर भगाने की पहली टिप्स है कि आप कम प्रकाश में न पढ़ें (The first tips to get rid of sleep while reading is that you do not read in low light)-

बहुत से विद्यार्थी एक स्टडी लैंप जलाकर ही पढ़ाई करते हैं।स्टडी लैंप की वजह से बाकी कमरे में अंधेरा रहता है।कम प्रकाश तथा शांत वातावरण के कारण विद्यार्थी को नींद आने लगती है। इसलिए कम प्रकाश में अध्ययन कभी न करें।पूरे कमरे में प्रकाश की उपस्थिति में अध्ययन करें।स्टडी रूम को पूरी तरह प्रकाशित करके अध्ययन करें।

3.बिस्तर पर लेटकर पढ़ने से बचें (Avoid reading while lying in bed)-

पढ़ाई करते समय आपके बैठने तथा पढ़ने का तरीका भी महत्त्व रखता है। बिस्तर पर लेटकर पढ़ने से आलस्य आ जाता है जो कि हमारी नींद को आमंत्रित करता है।
हमेशा कुर्सी पर पीठ सीधी करके तथा एकाग्रचित्त होकर पढ़ें। सामने टेबिल पर पुस्तक को रखकर पढ़ें। पुस्तक को गोद में रखकर न पढ़ें। कुर्सी पर बैठे समय भी अपने हाथ-पांव कुछ न कुछ हिलाते रहें जिससे आपके अन्दर सक्रियता बनी रहेगी।

4.नींद आते समय चहलकदमी करे (Walk while sleeping)-

यदि आपको झपकी या नींद आने लगे तो कुर्सी से उठकर एक गिलास पानी पी ले तथा कमरे में कुछ देर तक टहलें। इससे आपका आलस्य दूर हो जाएगा तथा आनेवाली नींद से भी छुटकारा मिल जाएगा। चहल-कदमी से आपका शरीर सक्रिय हो जाता है इसलिए नींद दूर हो जाती है।

5.संतुलित भोजन लें (Have a balanced diet)-

स्वादिष्ट भोजन की वजह से भोजन अत्यधिक मात्रा में करने या भारी भोजन करने से हमारे शरीर के अन्य अंगों की ऊर्जा भोजन पचाने में लग जाती है।इससे हमारा शरीर शिथिल हो जाता है तथा नींद आने लगती है।
इसका अर्थ यह भी नहीं है कि खाली पेट पढ़ने बैठ जाए।खाली पेट पढ़ने से हमारी याददाश्त कम हो जाती है तथा भोजन करने के तुरन्त बाद भी पढ़ने न बैठें।
हमेशा सादा व संतुलित भोजन करे।यदि कभी भारी तथा गरिष्ठ भोजन घर में बनाया जाए तो अत्यधिक मात्रा में भोजन न करके थोड़ी मात्रा में भोजन करें।
भारी तथा गरिष्ठ भोजन करने के तुरन्त बाद पढ़ने न बैठें बल्कि थोड़ी देर टहले।

6.पर्याप्त मात्रा में पानी पीएं (Drink plenty of water)-

पानी पीना आपकी पढ़ाई के साथ-साथ सेहत के लिए भी लाभदायक है।हर घंटे के बाद पानी पीने से आपको पिशाब के लिए जाना पड़ेगा जिससे आपके शरीर की निष्क्रियता दूर हो जाएगी और शरीर सक्रिय हो जाएगा।
पर्याप्त मात्रा में पानी पीने से दिमाग हाइड्रेटेड तथा तरोताजा रहता है। इससे आपकी सक्रियता बनी रहेगी और पाठ याद करने में सहायता मिलेगी।

7.जल्दी सोएं और जल्दी उठे (Sleep early and wake up early)-

जल्दी सोने और जल्दी उठने से आपको कई फायदे हैं।सुबह का वातावरण शांत रहता है तथा हमारा दिमाग भी तरोताजा रहता है इसलिए हम पढ़ाई अच्छे से कर पाते हैं।
हमारे भारतीय ऋषियों ने इसीलिए जल्दी सोने और जल्दी उठने का मूलमंत्र दिया था। अंग्रेजी में भी कहावत है कि “Early to bed, early to rise makes a man healthy, wealthy and wise”.जिसका तात्पर्य है कि जल्दी सोने और जल्दी उठने से शारीरिक तंदुरुस्ती, समृद्धि व दिमागी शक्ति में बढ़ावा होता है।
विद्यार्थी जीवन में इसका अधिक फायदा है।जल्दी सोने तथा जल्दी उठने से आप पर्याप्त नींद ले पाते हैं जिससे सुबह तरोताजा होकर उठेंगे।
उस समय आप पढ़ेंगे तो पर्याप्त नींद लेने के कारण आपको फिर से नींद नहीं आएगी।

8.दोपहर को थोड़ी झपकी ले लें (Take a nap in the afternoon)-

लगातार सुबह से रात तक पढ़ने और व्यस्त रहने से नींद आना स्वाभाविक है। इसलिए दोपहर को बिस्तर पर लेटकर सोने के बजाए कुर्सी पर बैठे-बैठे ही सिर को कुर्सी पर टिकाकर थोड़ी झपकी ले लें। इससे राहत मिलेगी तथा आपका शरीर पुनः पढ़ने के लिए तैयार हो जाएगा। कुर्सी पर बैठकर झपकी लेने से पूरी तरह नींद भी नहीं आएगी।

9.रात को अपना फेवरेट सब्जेक्ट पढ़ें (Read your favorite subject at night)-

रात को दिमाग थका हुआ रहता है, इसलिए नींद आने की संभावना बनी रहती है। इसलिए रात को अपना फेवरेट सब्जेक्ट पढ़ें। इससे आप नीरस व बोरियत महसूस नहीं करेंगे।नीरस व बोरियत में हमें जल्दी ही नींद आने लगती है। पढ़ते समय आनेवाली नींद को दूर भगाने के लिए (to get rid of sleep while reading) यह आठवीं टिप्स है।

10.बोल-बोलकर तथा लिखकर पढ़ें (Read by speaking and writing)-

यह तरीका पढ़ाई करते समय होने वाली बोरियत तथा आनेवाली नींद को दूर भगाने में काफी हद तक कारगर सिद्ध होता है।
हर विषय को कक्षा में अध्यापक के समान बोल-बोलकर पढ़ें। इससे आपका दिमाग सतर्क रहता है और नींद आने की संभावना कम हो जाती है।
इसके अलावा खुद को कांसेप्ट क्लीयर करने के कारण पढ़ा हुआ भी आसानी से याद हो जाता है।इसके साथ ही पाठ को मौखिक रूप से याद करने की बजाय मुश्किल सवालों या उत्तरों को लिखकर भी याद करें। इससे आपकी सर्तकता बनी रहेगी और चीजे याद करने में आसानी होगी।
यह पढ़ते समय आनेवाली नींद को दूर भगाने (to get rid of sleep while reading) की नवीं टिप्स है।

11.ध्यान व योग करें (Meditate and do yoga)-

रोजाना प्रात:काल कुछ समय ध्यान व योग करें। इससे आपका दिमाग सक्रिय रहेगा।इन्द्रियों को नियंत्रित करने में मदद मिलेगी।ध्यान व योग का अभ्यास ज्यों-ज्यों बढ़ता जाएगा तो आप खुद अपने आपमें बदलाव महसूस करेंगे।ध्यान व योग से न तो दिन में आलस्य महसूस होगा और न ही नींद आएगी।जब आप सोएंगे तभी नींद आएगी।यह पढ़ते समय आनेवाली नींद को दूर भगाने (to get rid of sleep while reading) की दसवीं टिप्स है।

Also Read This Article:-How to increase your ability to study?

No. Social Media Url
1. Facebook click here
2. you tube click here
3. Twitter click here
4. Instagram click here
5. Linkedin click here
6. Facebook Page click here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *