Menu

How to get best marks in mathematics?

1.गणित में सर्वश्रेष्ठ अंक कैसे प्राप्त करें (How to get best marks in mathematics?)-

How to get best marks in mathematics?

गणित में सर्वश्रेष्ठ अंक प्राप्त करने (get best marks in mathematics) के लिए हमारी शारीरिक स्थिति तथा मानसिक दोनों स्थितियों का प्रभाव पड़ता है।मानसिक स्थिति को मजबूत करके गणित में अच्छे अंक प्राप्त करने (get best marks in mathematics) के बारे में हम कई आर्टिकल पोस्ट कर चुके हैं।इस आर्टिकल में शारीरिक स्थिति को ठीक बनाकर गणित में सर्वश्रेष्ठ अंक प्राप्त करने (get best marks in mathematics) के तरीके बताए गए हैं। एक शोध में बताया गया है कि रीढ़ की हड्डी को सीधी रखकर तथा सीधा बैठकर गणित में सर्वश्रेष्ठ अंक प्राप्त किए (get best marks in mathematics) जा सकते हैं।
शारीरिक तथा मानसिक स्थिति में से मानसिक स्थिति का ज्यादा प्रभाव पड़ता है।इसलिए हम शारीरिक स्थिति को सुदृढ़ करके ही गणित में अच्छे अंक प्राप्त नहीं कर सकते हैं।अगर ऐसा होता तो सभी पहलवानों को गणित में अच्छे अंक प्राप्त होते।हम इस पोस्ट में शारीरिक स्थिति को सुदृढ़ करने के उपाय बता रहे हैं ,इसके साथ ही विद्यार्थियों को अपनी मानसिक स्थिति को सुदृढ़ करना चाहिए।
आपको यह जानकारी रोचक व ज्ञानवर्धक लगे तो अपने मित्रों के साथ इस गणित के आर्टिकल को शेयर करें ।यदि आप इस वेबसाइट पर पहली बार आए हैं तो वेबसाइट को फॉलो करें और ईमेल सब्सक्रिप्शन को भी फॉलो करें जिससे नए आर्टिकल का नोटिफिकेशन आपको मिल सके ।यदि आर्टिकल पसन्द आए तो अपने मित्रों के साथ शेयर और लाईक करें जिससे वे भी लाभ उठाए ।आपकी कोई समस्या हो या कोई सुझाव देना चाहते हैं तो कमेंट करके बताएं। इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें।

2.योगासन प्राणायाम करके”गणित में सर्वश्रेष्ठ प्राप्त करें”( “Get best marks in Mathematics” by doing Yogasan Pranayama)-

विद्यार्थियों को योगासन-प्राणायाम का नियमित रूप से अभ्यास करना चाहिए।योगासन के आठ अंग हैं- यम ,नियम ,आसन ,प्राणायाम ,प्रत्याहार ,ध्यान ,धारणा , समाधि।यम के अंतर्गत अहिंसा ,सत्य ,अस्तेय ,ब्रह्मचर्य अपरिग्रह शामिल हैं जबकि नियम में शौच ,संतोष ,तप,स्वाध्याय ,परमात्मा की भक्ति शामिल है। इस प्रकार योगासन में शारीरिक तथा मानसिक स्थिति दोनों को शामिल किया गया है।
आसन व प्राणायाम करने से मस्तिष्क पहले से अधिक सक्रिय हो जाता है जिससे गणित की कठिन समस्याओं को हम आसानी से हल कर पाते हैं।इसलिए नियमित रूप से प्रात:काल जल्दी उठकर शौच आदि से निवृत्त होकर रोजाना कम से कम आधे घंटे आसन व प्राणायाम करना चाहिए।आसन व प्राणायाम का नियमित रूप से अभ्यास करने पर मस्तिक और शरीर सुदृढ़ बनता है ,जिससे गणित की समस्याओं को शीघ्र हल करने में मदद मिलती है।महर्षि पतंजलि ने इस रहस्य को समझा था तथा सर्वसाधारण के हित के लिए योगासन का रहस्य तथा उससे होने वाले लाभ बताए थे।

Also Read This Article-What are smart ways to learn mathematics?

3.गणित में सर्वश्रेष्ठ अंक प्राप्त करने में सशक्त शारीरिक की स्थिति का प्रभाव (Effect of strong physical condition to get best marks in Mathematics)-

शिक्षा अर्थात् गणित शिक्षा बालक की सुप्त शक्तियों का जागरण है।स्वस्थ मस्तिष्क तथा सशक्त मस्तिष्क में ही गणित की कठिन समस्याओं को हल करने की क्षमता होती है ।परंतु स्वस्थ तथा सशक्त मस्तिष्क का विकास स्वस्थ शरीर के बिना संभव नहीं है।उत्तम आसन तथा प्राणायाम बनाए रखने वाला शरीर ही उत्तम स्वास्थ्य प्राप्त कर सकता है।
बहुत से विद्यार्थियों को गणित विषय से डर लगता है तथा वे गणित से दूर भागते हैं। लेकिन उनकी आकांक्षा यह भी होती है कि वे गणित में सर्वश्रेष्ठ अंक प्राप्त करें (Get best marks in mathematics)।नियमित रूप से योगासन-प्राणायाम करके सर्वोत्तम अंक प्राप्त कर सकते हैं। इसके लिए योगासन-प्राणायाम की निरंतर व दीर्घ अभ्यास करने की आवश्यकता होती है।कई विद्यार्थी पाच-दस दिन में ही इसके परिणाम प्राप्त करना चाहते हैं।परंतु योगासन -प्राणायाम से दीर्घकाल में परिणाम दृष्टिगोचर होता है।इसलिए बालकों को शुरू से ही योगासन-प्राणायाम का अभ्यास कराना चाहिए।
योगासन-प्राणायाम करने के कई फायदे हैं।इससे शरीर स्वस्थ रहता है , मस्तिष्क सशक्त व सुदृढ़ बनता है। निरंतर मस्तिष्क विकसित होता जाता है। इसलिए संतुलित रूप से योगासन-प्राणायाम का अभ्यास करने वाले विद्यार्थी पढ़ने में अव्वल रहते हैं।
भारतीय ऋषियों की यह परंपरा रही है कि दैनिक जीवन में उसकी उपयोगिता को व्यावहारिक रूप से परख करके ही वे जनसाधारण को चरित्र में अपनाने पर बल देते हैं। योगासन-प्राणायाम को भी महर्षि पतंजलि ने व्यावहारिक रूप से परख करके ही जनसाधारण को अपनाने पर बल दिया है।
इसलिए यदि विद्यार्थी गणित में सर्वश्रेष्ठ अंक प्राप्त करना ( get best marks in Mathematics) चाहते हैं तो योगासन-प्राणायाम को उन्हें अपने जीवन का अंग बनाना चाहिए।यह है सर्वोत्तम विधि,गणित में सर्वश्रेष्ठ अंक प्राप्त करने की (get best marks in Mathematics)।

Also Read This Article-How to Overcome Mathematics Phobia in Students

4.गणित में सर्वश्रेष्ठ अंक कैसे प्राप्त करें? (How to get best marks in mathematics?)-

Maths में नंबर लाना चाहते हैं, तो यह तरीका अपनाएं
Aug, 05 2018
आपको अगर गणित से डर लगता है तो आप सिर्फ अपने बैठने के तरीके में बदलाव कर इसका लाभ ले सकते हैं।
आपको अगर गणित से डर लगता है तो आप सिर्फ अपने बैठने के तरीके में बदलाव कर इसका लाभ ले सकते हैं। एक नए शोध के बाद छात्रों को यह सलाह दी गई है। जर्नल न्यूरो रेगुलेशन में प्रकाशित शोध में बताया गया है कि 50 फीसदी से ज्यादा प्रतिभागियों ने गणित की परीक्षा में सीधा बैठकर अच्छा अंक हासिल किया, जबकि झुककर बैठने वाले छात्र-छात्राएं ज्यादा सवाल हल नहीं कर पाए।
अमरीका में सैन फ्रांसिस्को स्टेट यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर और शोधकर्ता एरिक पेपर ने बताया, गणित से डरने वाले लोगों को बैठने के तरीके से बड़ा फायदा मिल सकता है। अध्ययन में कॉलेज के 125 छात्रों को शामिल कर यह देखा गया कि वे गणित में कैसा प्रदर्शन करते हैं। इस दौरान उन्हें परीक्षा के दौरान उनकी घबराहट का स्तर लिखने को कहा गया।
शोधकर्ताओं ने पाया कि सीधी अवस्था में बैठे 56 फीसदी छात्रों को गणित का प्रश्नपत्र हल करना आसान लगा। विश्वविद्यालय के सह प्राध्यापक रिचर्ड हार्वे ने कहा कि झुककर बैठने से दिमाग में पुरानी और बुरी यादें ताजा हो जाती हैं।
पेपर ने कहा, झुककर बैठने से उनकी सक्रियता कम हो जाती है और उनका दिमाग सही से काम नहीं कर पाता है और व्यक्ति कुछ भी स्पष्ट रूप से नहीं सोच पाता है। एथलीट, गायक और सार्वजनिक वक्ताओं को परीक्षा में सीधे बैठने की आदत के कारण उनका प्रदर्शन सुधरा।

No. Social Media Url
1. Facebook click here
2. you tube click here
3. Twitter click here
4. Instagram click here
5. Linkedin click here
6. Facebook Page click here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *