Menu

what is Education and Theism in hindi

1.शिक्षा और आस्तिकता क्या है का परिचय (Introduction to What is Education and Theism),शिक्षा और आस्तिकता का क्या अर्थ है का परिचय (Introduction to What is meaning of education and theism):

  • शिक्षा और आस्तिकता क्या है (What is Education and Theism)।भगवान के अस्तित्व को स्वीकार करना और भगवान के विधि-विधान को स्वीकार करना और उसके विधि-विधान का पालन करना आस्तिकता है। आस्तिकता का बोध हमें शिक्षा द्वारा ही होता है। अर्थात् शिक्षा साधन है तो आस्तिकता साध्य है। आस्तिक व्यक्ति जीवन में मूल्यों को स्वीकार करता है तथा उसको जीता है। संसार में बहुत से लोग भगवान के अस्तित्व को स्वीकार तो करते हैं फिर भी दुःख और कष्ट सहते हैं। दरअसल भगवान को मानना, भगवान के अस्तित्व को स्वीकार करना। ही पर्याप्त नहीं है बल्कि उसके विधि-विधान का पालन करने से जीवन सुखद और आनन्दमय बनता है।बहुत से लोग पूजा-पाठ करते हैं, भजन, कीर्तन तथा नाना प्रकार के कार्य करते हैं फिर भी दुःख और कष्ट उठाते हैं। ऐसा क्यों होता है, जरा इसे समझे। जब तक व्यक्ति के जीवन का रूपांतरण नहीं होता है तब तक पूजा-पाठ इत्यादि करना यंत्रवत कार्य करना है।
  • श्रद्धा भक्तिपूर्ण भाव से हम कोई कार्य करते,बोध पूर्वक कोई कार्य करते हैं तभी हमारे जीवन का पूरी तरह रूपांतरण होता है। तभी हम भगवान के होने के अस्तित्व का अनुभव कर सकते हैं।आस्तिकता हमें आपस में भाईचारा,सहयोग,सहिष्णुता और समन्वय से रहना सीखती है। हम आपस में एक-दूसरे के सुख-दुःख सहयोग करने का प्रयास करते हैं।आपस में वैरभाव को छोड़कर सुख-शान्ति से रहते हैं। एक-दूसरे की सफलता से खुश होते हैं।लेकिन यह आदर्श स्थिति है। वास्तव मनुष्य एक-दूसरे को नीचा दिखाने, एक-दूसरे को अपमानित करने का कार्य करते हैं। अपने लाभ के लिए दूसरे को नुकसान पहुंचाने का कोई मौका नहीं चूकते है। वास्तविक में शिक्षा को जीवन में अपनाते ही नहीं है। शिक्षा को केवल डिग्री प्राप्त करने का सर्टिफिकेट समझते हैं।
  • डिग्री प्राप्त करने विद्यार्थी अनैतिक तरीको को अपनाने से नहीं चूकते हैं। इसीलिए हमारे पास भौतिक सुख-सुविधाओं के होते हुए भी सुखी नहीं है। जैसे-तैसे जीवन को काटते हैं। ऐसी शिक्षा शिक्षा नहीं है बल्कि कुशिक्षा है जो बालक-बालिकाओं को खुदगर्ज होना सीखाती है।
  • हमें शिक्षा के सही अर्थ को समझना होगा और उसी रूप में उसको ग्रहण करना होगा तभी हमारे जीवन का सच्चे अर्थों में उद्धार हो सकता है।वर्ना पशु-पक्षियों और हममें कोई अन्तर नहीं रह जाएगा।

2.शिक्षा और आस्तिकता क्या है (What is Education and Theism):

  • इस वीडियो में बताया गया है कि शिक्षा द्वारा बालक-बालिकाओं को आस्थावान बनाने तथा उसका अन्तर्बोध करने कराने का अभ्यास कराया जाना चाहिए। आस्थावान होने का फायदा आध्यात्मिक जगत में तो है ही सांसारिक जगत में भी आध्यात्मिक का लाभ है। हम जीवन में आनेवाली कई समस्याओं का समाधान कर सकते हैं और कठिनाइयों का सहज भाव से बिना प्रतिक्रिया धैर्यपूर्वक सहन कर सकते है।

what is Education and Theism in hindi || what is meaning of education and theism

via https://youtu.be/VM5AHw89R-c

  • आपको यह जानकारी रोचक व ज्ञानवर्धक लगे तो अपने मित्रों के साथ इस Video को शेयर करें। यदि आप इस वेबसाइट पर पहली बार आए हैं तो वेबसाइट को फॉलो करें और ईमेल सब्सक्रिप्शन को भी फॉलो करें जिससे नए आर्टिकल का नोटिफिकेशन आपको मिल सके । यदि वीडियो पसन्द आए तो अपने मित्रों के साथ शेयर और लाईक करें जिससे वे भी लाभ उठाए । आपकी कोई समस्या हो या कोई सुझाव देना चाहते हैं तो कमेंट करके बताएं। इस वीडियो को पूरा देखें।
  • उपर्युक्त वीडियो में शिक्षा और आस्तिकता क्या है (What is Education and Theism) के बारे में बताया गया है।
No. Social Media Url
1. Facebook click here
2. you tube click here
3. Instagram click here
4. Linkedin click here
5. Facebook Page click here
6. Twitter click here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *