Menu

General term of Arithmetic progression

1.समान्तर श्रेढ़ी का व्यापक पद का परिचय (Introduction to General Term of Arithmetic Progression):

  • समान्तर श्रेढ़ी का व्यापक पद (General Term of Arithmetic Progression) में समान्तर श्रेढ़ी वह श्रेढ़ी है जिसका प्रत्येक पद अपने पूर्व पद में कोई नियत राशि जोड़ने अथवा घटाने से प्राप्त होता है।दूसरे शब्दों में समान्तर श्रेढ़ी एक ऐसा अनुक्रम है जिसके प्रत्येक पद का उसके पूर्ववर्ती पद से अन्तर सदैव स्थिर रहता है। इस स्थिर अन्तर को सार्वअन्तर कहते हैं। समान्तर श्रेढ़ी को संक्षेप में स. श्रे (A.P.) लिखते हैं।
  • आपको यह जानकारी रोचक व ज्ञानवर्धक लगे तो अपने मित्रों के साथ इस गणित के आर्टिकल को शेयर करें।यदि आप इस वेबसाइट पर पहली बार आए हैं तो वेबसाइट को फॉलो करें और ईमेल सब्सक्रिप्शन को भी फॉलो करें।जिससे नए आर्टिकल का नोटिफिकेशन आपको मिल सके । यदि आर्टिकल पसन्द आए तो अपने मित्रों के साथ शेयर और लाईक करें जिससे वे भी लाभ उठाए । आपकी कोई समस्या हो या कोई सुझाव देना चाहते हैं तो कमेंट करके बताएं।इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें।

Also Read This Article:Arithmetic progression

2.समान्तर श्रेढ़ी का व्यापक पद (General Term of Arithmetic Progression):

  • एक समान्तर श्रेढ़ी (Arithmetical Progression) का n वाँ पद जिसका प्रथम पद a तथा सार्वअन्तर d है व्यापक पद कहलाता है।
    T_{n}=\frac{n}{2}\left[2a+(n-1)d\right]
  • समान्तर श्रेढ़ी का व्यापक पद (General Term of Arithmetical Progression)
  • समान्तर श्रेढ़ी का व्यापक पद (General Term of Arithmetical Progression)
No.Social MediaUrl
1.Facebookclick here
2.you tubeclick here
3.Instagramclick here
4.Linkedinclick here
5.Facebook Pageclick here
6.Twitterclick here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *