Menu

CBSE introduced Applied Mathematics

1.सीबीएसई ने एप्लाइड मैथमेटिक्स की शुरुआत की,का परिचय (  Introduction to CBSE introduced Applied Mathematics)-

सीबीएसई ने अप्लाइड मैथमेटिक्स की शुरुआत की (CBSE introduced Applied Mathematics)।अब छात्र उच्च माध्यमिक स्तर पर अर्थात् 11वीं और 12वीं कक्षा में मैथमेटिक्स (041) और अप्लाइड मैथमेटिक्स (241) में से एक ऐच्छिक विषय गणित के रूप में चुन सकेंगे।
जिन छात्रों ने 10वीं सीबीएसई बोर्ड बेसिक मैथ (241) से परीक्षा दी है,वे छात्र अप्लाइड मैथमेटिक्स ही ले सकेंगे परंतु मैथमेटिक्स(041) का पेपर नहीं ले सकेंगे।जिन छात्रों ने दसवीं बोर्ड स्टैंडर्ड मैथ्स (041) से दी है ,वे छात्र मैथमेटिक्स (041) तथा अप्लाइड मैथमेटिक्स ( 241) में से कोई भी एक विषय ऐच्छिक विषय के रूप में चुन सकते हैं।
सीबीएसई बोर्ड ने 11वीं कक्षा में अप्लाइड मैथमेटिक्स को ऐच्छिक विषय के रूप में इस वर्ष से ही शामिल किया है।
अप्लाइड मैथमेटिक्स (241) को इस अकादमिक वर्ष 2020-21 से ऐच्छिक विषय के रूप में 11 वीं कक्षा के छात्र चुन सकते हैं ।केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई ) ने सीनियर सैकेण्डरी स्तर मैथमेटिक्स के सिलेबस में यह महत्त्वपूर्ण बदलाव किया है।अप्लाइड मैथमेटिक्स (241) को वैकल्पिक विषय के रूप में शुरुआत करने की घोषणा की।
आपको यह जानकारी रोचक व ज्ञानवर्धक लगे तो अपने मित्रों के साथ इस गणित के आर्टिकल को शेयर करें ।यदि आप इस वेबसाइट पर पहली बार आए हैं तो वेबसाइट को फॉलो करें और ईमेल सब्सक्रिप्शन को भी फॉलो करें जिससे नए आर्टिकल का नोटिफिकेशन आपको मिल सके ।यदि आर्टिकल पसन्द आए तो अपने मित्रों के साथ शेयर और लाईक करें जिससे वे भी लाभ उठाए ।आपकी कोई समस्या हो या कोई सुझाव देना चाहते हैं तो कमेंट करके बताएं। इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें।

Also Read This Article-Secondary Mathematics Paper Divided into Two Parts in CBSE 

2.सीबीएसई ने अप्लाइड मैथमेटिक्स की शुरुआत की (CBSE introduced Applied Mathematics)-

पहले इस अप्लाइड मैथमेटिक्स को कौशल विषय(skill subject) के रूप में चुना जाता था।परंतु उसके सिलेबस में बदलाव करके अब इसे कौशल विषय (skill subject) से हटाकर ऐच्छिक विषय के रूप में कर दिया गया है।
छात्रों को एप्लाइड गणित (Applied Mathematics) विषय के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए सीबीएसई बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाने की सलाह दी जाती है।
सीबीएसई बोर्ड नए सत्र की तैयारी में जुट चुका है।नए सत्र में विद्यार्थियों को गणित विषय के इन दोनों विषयों में ठीक से फर्क समझकर इसे चयन करना चाहिए।क्योंकि विद्यार्थी मैथमेटिक्स(041) और अप्लाइड मैथमेटिक्स ?(241) में से किसी एक का चयन ही कर सकेंगे।
जिन्होंने दसवीं बोर्ड बेसिक मैथ (241) से दी है वे केवल अप्लाइड मैथमेटिक्स (241) का ही चयन कर सकते हैं। जबकि 10 वीं स्टैंडर्ड मैथ से देने वाले छात्र दोनों में से किसी भी गणित को ऐच्छिक विषय के रूप में चुन सकेंगे।

3.मैथमेटिक्स (041) और अप्लाइड मैथमेटिक्स (241) में क्या अंतर है?(What is the difference between Mathematics (041) and Applied Mathematics (241)?)-

आखिर सीबीएसई बोर्ड ने अप्लाइड मैथमेटिक्स की शुरुआत की (CBSE introduced Applied Mathematics) इसमें तथा मैथमेटिक्स में क्या अंतर है? सीनियर सेकेंडरी में मैथमेटिक्स (041) सब्जेक्ट उन छात्रों के लिए सहायक है जो यूनिवर्सिटी लेवल पर मैथमेटिक्स, फिजिकल साइंस, इंजीनियरिंग इत्यादि पढ़ना चाहते हैं क्योंकि इनके लिए गणित विषय की व्यापक जरूरत होती है।
वहीं अप्लाइड मैथमेटिक्स (241) उन छात्रों के लिए है जो मैथ्स को सीख और समझकर अपने सब्जेक्ट्स में अच्छे प्रदर्शन के लिए इस्तेमाल करना चाहते हैं।यह सब्जेक्ट मैथमेटिक्स के अनुप्रयोग ( एप्लीकेशन) पर केन्द्रित है।
उच्चतर अध्ययन में जैसे अर्थशास्त्र, वाणिज्य, सामाजिक विज्ञान और कई अन्य क्षेत्रों में गणित का उपयोग होता है।यह पाया गया है गणित (041) का मौजूदा पाठ्यक्रम विज्ञान जैसे विषयों के अनुकूल है जबकि मैथमेटिक्स (041) विश्वविद्यालय शिक्षा में वाणिज्य ,सामाजिक विज्ञान तथा अर्थशास्त्र जैसे विषयों के ज्यादा अनुकूल नहीं है ।इसे ध्यान में रखते हुए अप्लाइड मैथमेटिक्स (241) को ऐच्छिक विषय के रूप में शामिल किया गया है।अप्लाइड मैथमेटिक्स (241) का उपयोग भौतिक विज्ञान , इंजीनियरिंग जैसे विषयों को छोड़कर अन्य क्षेत्रों जैसे वाणिज्य,सामाजिक विज्ञान व अर्थशास्त्र जैसे विषयों में किया जा सकता है।

Also Read This Article-online study tools for college students

4.क्या एक छात्र 11वीं में इन दोनों गणित विषयों को चुन सकता है?(Can a student choose both these math subjects in 11th standard?)-

छात्र मैथमेटिक्स (041) और एप्लाइड मैथमेटिक्स (241) दोनों ऐच्छिक विषयों में से सिर्फ एक विषय ही चुन सकता है ।दसवीं में बेसिक मैथ्स वाले छात्र केवल अप्लाइड मैथमेटिक्स (241) का चयन कर सकते हैं जबकि स्टैंडर्ड मैथ से देने वाले छात्र दोनों में से कोई भी एक विषय का चयन कर सकते हैं।

5.क्या छात्र 2020-21 के शैक्षणिक सत्र में कक्षा 11 में कौशल विषय (skill subject) के रूप में अनुप्रयुक्त गणित (Applied Mathematics) के लिए आवेदन कर सकता है?

कोई भी शैक्षणिक सत्र 2020-21 से 11वीं कक्षा में कौशल विषय (skill subject) के रूप में अप्लाइड मैथमेटिक्स (Applied Mathematics) की पेशकश कर सकेगा।
आशा है सीबीएसई ने अप्लाइड मैथमेटिक्स की शुरुआत की ( CBSE introduced Applied Mathematics),ठीक से समझ आ गया होगा। यदि सीबीएसई ने अप्लाइड मैथमेटिक्स की शुरुआत की (CBSE introduced Applied Mathematics),आर्टिकल में कोई बात समझ में नहीं आई है तो कमेंट करें।

No. Social Media Url
1. Facebook click here
2. you tube click here
3. Twitter click here
4. Instagram click here
5. Linkedin click here
6. Facebook Page click here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *