Menu

Now Students of Hindi Medium will not have Trouble Reading Mathematics

1.अब हिंदी मीडियम के छात्रों को नहीं होगी गणित पढ़ने में परेशानी का परिचय (Introduction to Now Students of Hindi Medium will not have Trouble Reading Mathematics):

  • अब हिंदी मीडियम के छात्रों को नहीं होगी गणित पढ़ने में परेशानी (Now Students of Hindi Medium will not have Trouble Reading Mathematics):इस आर्टिकल में बताया गया है कि हिन्दी माध्यम के गणित विद्यार्थियों को गणित पाठ्यक्रम को पढ़ाए जाने में आनेवाले अंग्रेज़ी शब्दों को समझने में परेशानी होती है। इसलिए आगरा विश्वविद्यालय में गणित विभाग के अध्यक्ष ने गणित शब्दकोष तैयार करने का निश्चय किया है। गणित विषय में थ्योरीटिकल (सिद्धान्त) का पार्ट बहुत कम होता है ज्यादातर प्रेक्टिकल पार्ट होता। इसलिए अन्य विषयों की तुलना में गणित, अंग्रेज़ी मीडियम में हो तो भी समझने में सरल होता है। लेकिन फिर भी कुछ तकनीकी शब्द ऐसे होते हैं जिनका अर्थ जाने बिना गणित के सम्बन्धित उस टाॅपिक को नहीं समझा जा सकता है। आधुनिक गणित के अधिकांश भाग की खोज यूरोप व पश्चिमी देशों में हुई है, इसलिए गणित की अधिकांश पुस्तकें अंग्रेज़ी में लिखी गई हैं और वे भी पाश्चात्य देशों द्वारा। यदि वास्तव में देखा जाए तो उन अंग्रेजी के तकनीकी शब्दों को हिन्दी में रूपांतरित किया जाए तो वे शब्द ओर जटिल हो जाते हैं। इसलिए ऐसे तकनीकी शब्द जो समझ में नहीं आते थे उनको अपनी नोट बुक में लिख लेना चाहिए और उन शब्दों को अध्यापक से समझना चाहिए। इसके अलावा इन शब्दों को अपने मित्रों के साथ वार्ता करनी चाहिए।कई गणित की ऐसी वेबसाइट्स भी मिल जाएगी।

Also Read This Article-Math Professor Explained to Students ‘Love Formula’,Student Made Video

  • जो इनका अर्थ समझाने में मदद कर सकती है। अब इन सबके लिए प्रयास तो खुद को ही करना पड़ेगा। जहाँ चाह होती है वहाँ राह भी मिल जाती है। कुछ गणित के शब्द निम्नलिखित है, इनसे भी मदद मिल सकती है और यदि आपको इनके अलावा भी अन्य शब्दकोष पता तब तो well and good.
  • (1.)गणित परिभाषा कोष-
    प्रकाशक – वैज्ञानिक तथा तकनीकी शब्दावली आयोग
    मानव संसाधन विकास मंत्रालय
    भारत सरकार, पश्चिमी खंड-7
    रामकृष्ण पुरम्, नई दिल्ली – 110066
  • (2.)गणित शब्द संग्रह
    वैज्ञानिक तथा तकनीकी शब्दावली आयोग
    पश्चिमी खंड-7,रामकृष्ण पुरम्
    नई दिल्ली – 110066
  • (3.)Mathematics Dictionary
    Written BY-JAMES /JAMES
    CBS PUBLISHERS & DISTRIBUTORS
    4596/1-A,11 DARYAGANJ, NEW DELHI-110002(INDIA)
  • इन शब्दकोषों के आधार पर आपको मदद मिलेगी। इसके अलावा भी आप गूगल पर सर्च कर सकते हैं।इस प्रकार आज के समय में ढेरों ऐसे विकल्प हैं जिनके आधार पर आप गणित शिक्षा में आनेवाली कठिनाइयों का समाधान प्राप्त कर सकते हैं।
    यदि आप अपनी गणितीय प्रतिभा को निखारना चाहते हैं तो उसके लिए आप में पेशन होना चाहिए। सुदृढ़ संकल्पशक्ति और पेशन के आधार पर गणित के पारिभाषिक शब्दों को समझ भी सकते हैं और समझने के लिए उपलब्ध साधनों का पता भी लगा सकते हैं। परन्तु यदि आप प्रयास ही नहीं करें और यह सोचते रहें कि कोई आकर आपकी मदद कर देगा तो आप इन्तजार ही करते रहेंगे।
  • आगरा विश्विद्यालय के गणित विभाग द्वारा गणित के शब्दकोश  को तैयार करने का निर्णय स्तुत्य है। इससे विद्यार्थियों को गणित में अंग्रेजी के जो शब्द समझ में नहीं आते हैं उनको समझने में मदद मिलेगी। गणित का अधिकांश साहित्य अंग्रेजी में होने के कारण हिन्दीभाषी विद्यार्थियों को कठिनाई आना स्वाभाविक है। आशा है यह शब्दकोश हिन्दीभाषी विद्यार्थियों के लिए सहायक सिद्ध होगा। विद्यार्थियों को इस शब्दकोश का भरपूर लाभ उठाना चाहिए और गणित में अंग्रेजी के जो तकनीकी शब्द हैं उनको इसकी सहायता से अपनी प्रतिभा को निखारना चाहिए।

यदि आर्टिकल पसन्द आए तो अपने मित्रों के साथ शेयर और लाईक करें जिससे वे भी लाभ उठाए ।आपकी कोई समस्या हो या कोई सुझाव देना चाहते हैं तो कमेंट करके बताएं। इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें।

2.अब हिंदी मीडियम के छात्रों को नहीं होगी गणित पढ़ने में परेशानी (Now Students of Hindi Medium will not have Trouble Reading Mathematics):

  • आगरा विविःMon, 22 Jan 2018
  • डॉ. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय में पढ़ने वाले छात्रों के लिए अच्छी खबर है। विश्वविद्यालय में गणित के पाठ्यक्रमों में पढ़ाए जाने वाले अंग्रेजी के कठिन शब्दों का हिंदी में शब्दकोष तैयार किया जाएगा। कोई शब्द छात्र-छात्राओं के समझ में नहीं आता तो वह शब्दकोश का सहारा ले सकेंगे।

Also Read This Article-Fifth Student Answered 1300 Mathematics Questions in 7 Minutes

  • शब्दकोष तैयार करने का प्रस्ताव विश्वविद्यालय के इंस्टीट्यूट ऑफ बेसिक साइंस स्थित गणित विभाग के अध्यक्ष डॉ. संजीव कुमार ने मानव संसाधन विकास मंत्रालय के वैज्ञानिक एवं तकनीकी शब्दावली आयोग को भेजा था। आयोग ने सहमति भी प्रदान कर दी है।
  • शब्दाकोष तैयार किए जाने के लिए विश्वविद्यालय में दो दिवसीय वैज्ञानिक एवं तकनीकी शब्दावली संगोष्ठी और प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। आयोग ने संगोष्ठी के लिए कुछ शर्तें रखी हैं और समय भी पूछा है। जल्द तिथि भी घोषित हो जाएगी।
  • डॉ. संजीव ने बताया कि गणित की सारी किताबें अंग्रेजी में हैं। अधिकतर किताबें विदेशी लेखकों की है। खासतौर पर यूरोपीय देशों के लेखकों की हैं। कई सारे ऐसे शब्द हैं, जिनको समझने में छात्र-छात्राओं को परेशानी होती है।
    खासतौर पर जो विद्यार्थी हिंदी माध्यम से पढ़कर आया हो। हिंदी की किताब पढ़ने वाले के लिए अंग्रेजी की किताबों से ही परेशानी होती है, उसमें से कठिन शब्द और परेशान करते हैं।
  • गणित समझने के बजाय विद्यार्थी इन कठिन शब्दों का अर्थ जानने के लिए परेशान होता है। ऐसे छात्रों की मदद के लिए शब्दकोष बनाया जाना है। अंग्रेजी शब्द का हिंदी में अर्थ लिखने के साथ उसकी व्याख्या भी होगी, जिससे विद्यार्थी उसे ठीक से समझ सके। बाकी संस्थानों और विश्वविद्यालय से संबद्ध कॉलेजों के लिए शब्दकोष मददगार साबित होगा।
  • उपर्युक्त आर्टिकल में अब हिंदी मीडियम के छात्रों को नहीं होगी गणित पढ़ने में परेशानी (Now Students of Hindi Medium will not have Trouble Reading Mathematics) के बारे में बताया गया है।

Now Students of Hindi Medium will not have Trouble Reading Mathematics

अब हिंदी मीडियम के छात्रों को नहीं होगी गणित पढ़ने में परेशानी
(Now Students of Hindi Medium will not have Trouble Reading Mathematics)

Now Students of Hindi Medium will not have Trouble Reading Mathematics

अब हिंदी मीडियम के छात्रों को नहीं होगी गणित पढ़ने में परेशानी
(Now Students of Hindi Medium will not have Trouble Reading Mathematics):
इस आर्टिकल में बताया गया है कि हिन्दी माध्यम के गणित विद्यार्थियों को गणित पाठ्यक्रम को
पढ़ाए जाने में आनेवाले अंग्रेज़ी शब्दों को समझने में परेशानी होती है।

No.Social MediaUrl
1.Facebookclick here
2.you tubeclick here
3.Twitterclick here
4.Instagramclick here
5.Linkedinclick here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *