Menu

Best 8 tips to improve your memory

1.अपनी याददाश्त बढ़ाने के लिए बेस्ट 8 टिप्स (Best 8 tips to improve your memory)-

अपनी याददाश्त बढ़ाने के लिए बेस्ट ऑफ 8 टिप्स (Best 8 tips to improve your memory) इस आर्टिकल के माध्यम से जानेंगे। इन 8 तरीकों को अपनाने से आपके मस्तिष्क की सक्रियता और एकाग्रता में वृद्धि होती है जिससे पढ़ा हुआ पाठ या टाॅपिक को याद रखने में आसानी होती है।
अक्सर छात्र बार-बार याद करने पर भी उसे भूल जाते हैं। कभी किसी का नाम,फोन या मोबाइल नंबर ,रखी हुई कोई चीज, पुस्तकों को रखकर भूल जाते हैं।दिनभर में बहुत से कार्य करते हैं परंतु कई बार बहुत ही आवश्यक कार्य को हम भूल जाते हैं।
इन सबका कारण है हमारे दिमाग का निष्क्रिय होना अर्थात् एक्टिव व चुस्त न रहना।जैसे शरीर को स्वस्थ रखने के लिए योगासन-प्राणायाम व कसरत तथा उचित पोषण की जरूरत होती हैं उसी प्रकार हमारे मस्तिष्क को ठीक तरह से काम करने के लिए कुछ खास प्रशिक्षण की जरूरत होती है।अपनी याददाश्त बढ़ाने के लिए बेस्ट 8 टिप्स (Best 8 tips to improve your memory) बताएंगे जिनकी सहायता से आप अपने मस्तिष्क की कार्यक्षमता में वृद्धि कर सकते हैं और पढ़े हुए पाठ तथा टाॅपिक को याद करने में मदद मिल सकती है।
आपको यह जानकारी रोचक व ज्ञानवर्धक लगे तो अपने मित्रों के साथ इस गणित के आर्टिकल को शेयर करें ।यदि आप इस वेबसाइट पर पहली बार आए हैं तो वेबसाइट को फॉलो करें और ईमेल सब्सक्रिप्शन को भी फॉलो करें जिससे नए आर्टिकल का नोटिफिकेशन आपको मिल सके ।यदि आर्टिकल पसन्द आए तो अपने मित्रों के साथ शेयर और लाईक करें जिससे वे भी लाभ उठाए ।आपकी कोई समस्या हो या कोई सुझाव देना चाहते हैं तो कमेंट करके बताएं। इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें।

Also Read This Article-How to increase memory in examination?

2.अपनी याददाश्त बढ़ाने के लिए बेस्ट 8 टिप्स में प्रथम टिप्स है कि आप योगासन-प्राणायाम करें (Among the best 8 tips to improve your memory, the first tip is that you do yoga asana-pranayama)-

यह बात आवश्यक रूप से जान लें कि स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मस्तिष्क निवास करता है। शारीरिक कसरत हमारी मस्तिष्क की क्षमता को प्रभावित करती है। शारीरिक कसरत में योगासन-प्राणायाम सबसे अच्छा व प्रभावी तरीका है।छात्रों को बॉडी बिल्डर बनना नहीं है इसलिए कठोर कसरत न करने के बजाय योगासन-प्राणायाम सरल व सुलभ तरीका है जिससे शरीर स्वस्थ रहता है। मस्तिष्क पर की गई रिसर्च में यह बात सामने आई है कि योगासन-प्राणायाम से मस्तिष्क में नए न्यूरॉन सेल की उत्पत्ति होती है।ये न्यूराॅन सेल मस्तिष्क में सूचना का आदान-प्रदान और विश्लेषण करते हैं जिससे याददाश्त व मस्तिष्क की क्षमता में सुधार होता है।
कसरत से न्यूरोट्रांसमीटर नाम के रसायन के रिसाव में तेजी आती है।ये रसायन तंत्रिका कोशिकाओं के बीच सिग्नल का आदान प्रदान करते हैं।इसलिए कसरत व योगासन-प्राणायाम के इन फायदों को जानते हुए मस्तिष्क की क्रियाशीलता को बढ़ाने के लिए शारीरिक एक्सरसाइज जरूर करें।योगासन-प्राणायाम के अलावा आप वाकिंग, स्विमिंग,डासिंग इत्यादि कर सकते हैं।

3.ध्यान व योग करें (Meditate and do yoga)-

Best 8 tips to improve your memoryBest 8 tips to improve your memor

रोजाना शौच आदि नित्यकर्मों से निवृत्त होकर ध्यान व योग करें।ध्यान से हमारे मस्तिष्क की विभाजित ऊर्जा को एकाग्र करने में सहायता मिलती है।दिनभर के कार्यकलापों तथा सांसारिक प्रपंचों के कारण हमारे मस्तिष्क में विचारों की भिन्न-भिन्न दिशाओं में क्रियाशीलता बंटी हुई रहती है।ध्यान के द्वारा इन विचारों की श्रृंखला को एकाग्र करने में मदद मिलती है।ध्यान के द्वारा हमारा मन एकाग्र हो जाता है।जब हम मन की पूर्ण क्षमता अर्थात् एकाग्र होकर अध्ययन करते हैं तो पढ़ा हुआ लंबे समय तक तथा स्थाई रूप से याद रहता है।
ध्यान, दोनों भोंहो के मध्य अर्थात् भ्रूमध्य जिसे आज्ञाचक्र भी कहते हैं, में प्रकाश का एकटक लगातार करना होता है। ध्यान प्रकाश की ज्योति ,सूर्य के प्रकाश ,दीपक की ज्योति तथा अपने इष्टदेव का भी कर सकते हैं।प्रारंभ में मन इधर-उधर भटकता है अतः घबराकर ध्यान करना नहीं छोड़ना चाहिए बल्कि सतत अभ्यास करते रहना चाहिए। धीरे-धीरे एकाग्रता सधने लगती है।

4.संतुलित भोजन करें (Eat a balanced diet)-

विद्यार्थियों को चटपटे,चरपरे, होटलों के भोजन,जंक फूड खाने से परहेज करना चाहिए।इस तरह का भोजन करने से शरीर में उष्णता बढ़ती है जिससे ब्रह्मचर्य खंडित हो जाता है। इस तरह के भोजन से शरीर का किसी तरह का पोषण भी नहीं होता है बल्कि नुकसान ही होता है।छात्रों को पढ़ा हुआ याद करने के लिए ब्रह्मचर्य का कठोरता से पालन करना चाहिए।
कभी-कभी इस तरह का भोजन करना ठीक है परंतु आदतन इस प्रकार का भोजन नहीं करना चाहिए।आप जिस तरह का खानपान करते हैं उसका सीधा असर आपकी स्मरणशक्ति पर पड़ता है।
भोजन में हरी-शाक सब्जी तथा पर्याप्त मात्रा में चिकनाई मानसिक व शारीरिक स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है।भोजन में चिकनाई अर्थात् घी लेने से हमारी लौंगटर्म मेमोरी लम्बे समय तक चीजों को याद रखने वाले दिमागी हिस्से के विकास में मदद मिलती है।ड्राई फ्रूट्स,फल वगैरह भी मस्तिष्क की तंदुरुस्ती के लिए लाभदायक है।अपनी याददाश्त बढ़ाने के लिए बेस्ट 8 टिप्स (Best 8 tips to improve your memory) में यह तीसरी टिप्स है।

Also Read This Article-How do students use brain 100 percent?

5.पर्याप्त नींद लें (Get enough sleep)-

हर छात्र की क्षमता अलग-अलग होती है इसलिए वे स्वयं इस बात का निर्धारण कर सकते हैं कि कितने समय की नींद लेने से उनके मस्तिष्क व शरीर को आराम मिलता है तथा अपने आपको तरोताजा महसूस करता है।
सामान्यतः प्रतिदिन 6 से 7 घंटे की मस्तिष्क की थकान मिटाने के लिए पर्याप्त होती है।सोते समय हमारा दिमाग दिनभर में पड़ी हुई तथा ज्ञान की बातों को मजबूत करता है।
विशेषज्ञों का मानना है कि नींद के दौरान हमारे नर्वस सिस्टम की इकाई माने जाने वाले न्यूरॉनस के बीच संबंध मजबूत हो पाते हैं जिससे पढ़े हुए पाठ या टाॅपिक को याद रख पाते हैं।अपनी याददाश्त बढ़ाने के लिए बेस्ट 8 टिप्स में यह चौथी टिप्स है।

6.चिंता व तनाव से मुक्त रहें (Be free from anxiety and stress)-

पढ़ाई के दबाव के कारण छात्रों पर चिंता ,दबाव और तनाव हावी हो जाते हैं जो छात्रों के मस्तिष्क को बुरी तरह प्रभावित करते हैं।इनके कारण मानसिक एकाग्रता और स्मरणशक्ति में कमी आ जाती है।चिंता ,दबाव व तनाव के कारण हमारे रक्त प्रवाह में कोर्टिसोल(cortisol) नामक हार्मोन जिसे कि स्ट्रेस हार्मोन भी कहा जाता है ,का रिसाव बढ़ जाता है जो कि दिमाग के कुछ हिस्सों खासकर हिप्पोकैंपस(Hippocampus) जहांshort term memory स्टोर होती है,को बुरी तरह प्रभावित करता है। इस तरह लंबे समय तक चिंता, दबाव व तनाव में रहने पर पढ़ा हुआ पाठ तथा टाॅपिक को याद रखने की क्षमता खत्म होने लगती है।
चिंता ,दबाव व तनाव से मुक्त रहने के लिए ध्यान व योग करें।इसके लिए हंसने व मुस्कुराने से भी चिंता, दबाव व तनाव को कम करने में मदद मिलती है।अपनी याददाश्त बढ़ाने के लिए बेस्ट 8 टिप्स (Best 8 tips to improve your memory) में यह पांचवीं टिप्स है।

7.मल्टीटास्किंग से बचें (Avoid multitasking)-

आधुनिक युग में हर कोई इतना व्यस्त हो गया है तथा हर कोई इतनी भागदौड़ करता है कि एक साथ एक समय में वह कई कार्यों को निपटाना चाहता है। बहुत से कार्यों को एक साथ करने से गलती करने व भूलने की संभावना बन जाती है।उदाहरण के लिए आप दोनों हाथों से कार का हैंडिल पकड़कर कार चलाते हुए अपने कानों से मोबाइल से आने वाली कॉल को भी सुन रहे हैं और बात कर रहे हैं।मोबाइल फोन को सुनने के दौरान संभव है आपकी कार दुर्घटनाग्रस्त हो जाए या टक्कर लग जाए अथवा अपना संतुलन खो सकते हैं। दरअसल हम एक समय में बहुत से कार्यों को करना चाहते हैं लेकिन हमारा मस्तिष्क मल्टीटास्किंग नहीं कर पाता है।बल्कि दिमाग का फोकस कभी एक काम पर तथा कभी दूसरे काम की ओर बदलता रहता है ।जिससे हमारा मन किसी एक कार्य पर पूर्णरूप से एकाग्रचित्त नहीं हो पाता है।इसलिए हम दोनों कार्य एक साथ एक समय पर एक कर रहे हैं तो उसे सही तरीके और पूर्ण कुशलता के साथ नहीं कर पाते हैं।इसलिए एक समय पर एक ही काम करें।यह है अपनी याददाश्त बढ़ाने के लिए बेस्ट 8 टिप्स (Best 8 tips to improve your memory) में छठ्ठी टिप्स।

8.लिखकर याद करें (Remember by writing)-

हम लिखकर याद करते हैं तो हमारी दो इंद्रियां काम करती है,हाथ व आंखें।हम हमारी जितनी इंद्रियों को एक ही काम पर लगाएंगे तो उस कार्य को अधिक कुशलता से कर सकते हैं।पढ़कर याद करने में केवल एक इंद्रिय अर्थात् आंख ही काम करती है।इसलिए पेन-पेपर की सहायता से लिखकर याद किया हुआ अधिक स्थाई व लंबे समय तक रहता है।
लिखकर याद करने से टॉपिक में आने वाली कठिनाइयों को समझ पाते हैं।हमारी कांसेप्ट क्लियर करने में मदद मिलती है।इसलिए लिखकर याद करने से हमारी याददाश्त बढ़ती है। अपनी याददाश्त बढ़ाने के लिए बेस्ट 8 टिप्स (Best 8 tips to improve your memory) में यह सातवीं टिप्स है।

9.मस्तिष्क को चुनौतीपूर्ण कार्य में व्यस्त रखें (Engage the brain in challenging tasks)-

यदि आपके सामने चुनौतीपूर्ण समस्याएं व कठिनाइयां आती हैं तो दिमाग उनको हल करने में अधिक सक्रिय हो जाता है। उदाहरणार्थ पहेलियां हल करना ,क्रॉसवर्ड हल करना, गणित की जटिल समस्याओं को हल करना, दिमागी खेल को हल करना।जब हमारी दिमाग की कार्य क्षमता से अधिक चुनौती वाली समस्या सामने आती है तो उसको हल करने में हमारे मस्तिष्क की कार्यक्षमता और स्मरणशक्ति बढ़ती है।यदि हम चुनौतीपूर्ण कार्यों को करने व हल करने से कतराते है तो हमारे दिमाग की कार्यक्षमता व स्मरणशक्ति बढ़ती जाती है।हमारा मस्तिष्क जितना सक्रिय रहता है तो उतनी ही उसकी कार्यक्षमता व स्मरणशक्ति बढ़ती है।अपनी याददाश्त बढ़ाने के लिए बेस्ट 8 टिप्स (Best 8 tips to improve your memory) में यह अंतिम टिप्स है।

10.याद की गई बातों की पुनरावृति करें (Recap what was remembered)-

अपनी याददाश्त बढ़ाने के लिए बेस्ट 8 टिप्स (Best 8 tips to improve your memory) के अतिरिक्त यह बोनस टिप्स है।अक्सर जब हम किसी पाठ को याद करते हैं तो कुछ दिनों बाद उसको भूल जाते हैं।मस्तिष्क में एक बार याद किए पाठ या टाॅपिक को पुनः हासिल करना बहुत मुश्किल है।इसलिए समय-समय पर याद किए हुए पाठ या टाॅपिक की पुनरावृत्ति करते रहे।प्रतिदिन कुछ समय अपनी पुरानी याद की गई बातों या टाॅपिक के लिए अवश्य दें ।बार-बार अभ्यास करने और पुनरावृत्ति करने से पाठ या टॉपिक स्थाई रूप से तथा लंबे समय तक याद रहता है।यदि पुनरावृत्ति करते समय पाठ या टॉपिक याद नहीं आ रहा हो तो उसे अपने नोट्स या पुस्तक से पुनः देखें और याद करें।
सभी विद्यार्थियों के मस्तिष्क की कार्यक्षमता व स्मरणशक्ति अलग-अलग होती है।इसलिए अपनी क्षमता व स्मरणशक्ति को पहचानते हुए समय-समय पर याद किए हुए पाठों और टाॅपिक्स की पुनरावृत्ति करते रहें।
किसी भी पाठ या टाॅपिक को याद करते समय अपनी दैनिक जीवन की किसी वस्तु से लिंक करके उसे याद करने की कोशिश करें।

11.निष्कर्ष (Conclusion)-

यदि उपर्युक्त अपनी याददाश्त बढ़ाने के लिए बेस्ट 8 टिप्स (Best 8 tips to improve your memory) और बोनस टिप्स का पालन करेंगे तो निश्चित रूप से आपकी मस्तिष्क की कार्यक्षमता और स्मरणशक्ति को बढ़ाने में मदद मिलेगी।
इन अपनी याददाश्त बढ़ाने के लिए बेस्ट 8 टिप्स (Best 8 tips to improve your memory) और बोनस टिप्स में सबसे महत्त्वपूर्ण टिप्स है ध्यान व योग करना।यदि आप नियमित रूप से शौचादि से निवृत्त होकर ध्यान व योग करेंगे तो आपकी स्मरणशक्ति आश्चर्यजनक रूप से बढ़ेगी।ध्यान व योग निर्विचार होने की प्रक्रिया है जिसमें मस्तिष्क की सारी ऊर्जा एकत्रित होने की क्षमता उत्पन्न हो जाती है। जिस प्रकार आतिशी सीसा सूर्य की बिखरी हुई किरणों को एकत्रित करके कागज को जला देता है ,उसी प्रकार ध्यान व योग से हमारी कार्यक्षमता अनेक गुना बढ़ती जाती है।
ध्यान व योग से हमारा मस्तिष्क सक्रिय होकर अनेक जटिल समस्याओं को हल करने में सक्षम होता है।आप स्वयं इसको अपने जीवन में पालन करके और परिणाम को देखें। इससे आश्चर्यजनक रूप से हमारी क्षमता कई गुना बढ़ जाती है।तो आप अपनी याददाश्त को बढ़ाने के लिए बेस्ट 8 टिप्स (Best 8 tips to improve your memory) का इस्तेमाल करें और अपने दिमाग की कार्यक्षमता को बढ़ाएं।

No.Social MediaUrl
1.Facebookclick here
2.you tubeclick here
3.Twitterclick here
4.Instagramclick here
5.Linkedinclick here
6.Facebook Pageclick here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *