Menu

How to prepare for an exam in a week?

1.एक सप्ताह में परीक्षा की तैयारी कैसे करें? (How to prepare for an exam in a week?)-

How to prepare for an exam in a week?
How to prepare for an exam in a week?

एक सप्ताह में परीक्षा की तैयारी करने (prepare for an exam in a week) के लिए कुछ खास बातों का ख्याल रखना होगा।यदि आप किसी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, आपके पास परीक्षा की तैयारी के लिए बहुत कम समय बचा है तो यह आर्टिकल आपके लिए है। इसमें ऐसी इफेक्टिव टिप्स का वर्णन किया गया है जिनका पालन करके आप कम समय में अच्छी तैयारी कर सकते हैं।

जब भी कोई परीक्षा शुरू होने वाली होती है तो बहुत से विद्यार्थी एक बहुत बड़ी समस्या का सामना करते हैं और वह समस्या है कि कम समय में बहुत ज्यादा सिलेबस को तैयार करना पड़ता है। जो विद्यार्थी या अभ्यर्थी समय से पूर्व तैयारी नहीं करते हैं तो उनको ख़ासतौर पर इस समस्या का सामना करना पड़ता है।

आनलाईन विद्यार्थी या अभ्यर्थी इस तरह के प्रश्नों का जवाब ढूंढते रहते हैं कि एक महीने,दो महीने,एक सप्ताह या दो सप्ताह में परीक्षा की तैयारी कैसे करें?नीचे कुछ टिप्स दिए जा रहे हैं जिनका पालन करके आसानी से आप तैयारी कर सकते हैं। परन्तु इन दिए गए टिप्स का दृढ़तापूर्वक पालन करेंगे तो ही आप अपनी तैयारी को ठीक से मैनेज कर पाएंगे।ये टिप्स प्रतियोगिता परीक्षाओं, बोर्ड की वार्षिक परीक्षाओं और अर्द्धवार्षिक परीक्षाओं इत्यादि में समान रूप से उपयोगी है।

आपको यह जानकारी रोचक व ज्ञानवर्धक लगे तो अपने मित्रों के साथ इस गणित के आर्टिकल को शेयर करें ।यदि आप इस वेबसाइट पर पहली बार आए हैं तो वेबसाइट को फॉलो करें और ईमेल सब्सक्रिप्शन को भी फॉलो करें जिससे नए आर्टिकल का नोटिफिकेशन आपको मिल सके ।यदि आर्टिकल पसन्द आए तो अपने मित्रों के साथ शेयर और लाईक करें जिससे वे भी लाभ उठाए ।आपकी कोई समस्या हो या कोई सुझाव देना चाहते हैं तो कमेंट करके बताएं। इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें।

Also Read This Article-Preparation Tips for Competition Examination

2.एक सप्ताह में परीक्षा की तैयारी करने (prepare for an exam in a week) के लिए साॅल्वड पेपर्स का अध्ययन करें-

किसी भी परीक्षा की तैयारी करने के लिए सबसे पहले सिलेबस का अध्ययन करके और साॅल्लड या अनसाॅल्वड पेपर्स का अध्ययन करें। सिलेबस के अनुसार साॅल्वड पेपर्स की तुलना करके यह जाने कि किस पाठ से कितने टाॅपिक परीक्षा में आए हैं। पुराने पेपर्स,अनसाल्वड पेपर्स को देखकर निम्न प्रश्नों के उत्तर जानने की कोशिश करें-

(1.)किस चैप्टर से कितने सवाल पूछे गए हैं?(2.)किस चैप्टर से सबसे ज्यादा सवाल पूछे गए हैं?(3.)किस चैप्टर से सबसे कम सवाल पूछे गए हैं?(4.)किस चैप्टर से कठिन सवाल पूछे गए हैं?(5.)किस चैप्टर से सरल सवाल पूछे गए हैं?
उपर्युक्त सवालों के जवाब मिलने पर आप आसानी से जान सकते हैं कि कौनसा चैप्टर परीक्षा की दृष्टि से सबसे महत्त्वपूर्ण है और कौनसा चैप्टर आप आसानी से तैयार कर सकते हैं तथा किस चैप्टर में सबसे ज्यादा परेशानी आ सकती है?

यदि आपके पास पूरा एक महीना परीक्षा की तैयारी के लिए बचा है तो ऊपर बताए गए बिंदुओं का जवाब जानने के लिए आप एक दिन का समय दे सकते हैं और केवल एक सप्ताह परीक्षा की तैयारी करने ( prepare for an exam in a week) के लिए बचा है तो इस पूरी रिसर्च में आप एक घंटे का समय ले सकते हैं।

3.पाठ को तैयार करने के लिए प्राथमिकता तय करें ( Set priority for preparing text)-

सिलेबस और साॅल्वड व अनसाॅल्वड पेपर्स की रिसर्च करने के बाद चैप्टर्स की प्राथमिकता तय करें।जो चैप्टर्स अधिक कठिन है उनको सबसे बाद में तैयार करें तथा जो चैप्टर्स सरल है उनको सबसे पहले तैयार करें।जिस चैप्टर्स से अधिक सवाल आते हैं और सरल भी है उसे सबसे पहले प्राथमिकता दें।जो चैप्टर्स अधिक कठिन है तथा उसमें से कम सवाल पूछे जाते हैं उसे सबसे बाद में प्राथमिकता दें।

एक बार टाइम टेबल सेट करने के बाद उसका सख्ती से पालन करें। टाइम टेबल में बार-बार बदलाव न करें। जिस चैप्टर के लिए जितना समय निर्धारित है ,उस चैप्टर को उस समय सीमा में कंप्लीट करें।

4.सरल टाॅपिक को पहले तैयार करें (Prepare simple topic first)-

सरल-सरल टाॅपिक को पहले तैयार करते जाएं जिससे आपका आत्मविश्वास बढ़ता जाएगा। कुछ विद्यार्थी या अभ्यर्थी पहले कठिन टाॅपिक को पढ़ने लगते हैं ,उनका तर्क होता है कि आसान चैप्टर को जल्दी से तैयार कर लेंगे और उनको बाद में आसानी से पढ़ा जा सकता है।बहुत चांसेज होते हैं कि कठिन टाॅपिक में अधिक समय लग जाता है और फिर सरल टाॅपिक के लिए समय ही नहीं बचता है। यदि सभी टॉपिक आसान है तो सबसे पहले उस आसान चैप्टर को तैयार करें जिसमें से अधिक सवाल परीक्षा में पूछे जाते हैं।

Also Read This Article-Tension during the exam,then remove the mind stress

5.टाॅपिक के पाइंट्स बनाए (Create points of topic)-

जब भी आप अध्ययन करें तो पॉइंट्स बनाकर पढ़ें।पाइंट्स बनाकर पढ़ने से रिवीजन जल्दी से कर सकते हैं ।दूसरा फायदा यह है कि पाइंट्स बनाकर पढ़ने से उसकी डिटेल आंसर आसानी से दे सकते हैं।एग्जाम के कुछ घंटों पूर्व उसका रिवीजन आसानी से कर सकते हैं।पाइंट्स बनाने में यह ध्यान रखें कि महत्त्वपूर्ण पाइंट्स ही बनाए।उन पाॅइंटस को याद कर लें।पाॅइनट्स बनाकर पढ़ने से वे आसानी से याद रहते हैं।

6.अपने पास आवश्यक चीजें ही रखें (Keep only the things you need)-

जब समय बहुत कम हो तो आप का एक-एक क्षण कीमती होता है।इसलिए जब अध्ययन करें तो अपने पास जरूरत की चीजें ही रखें जैसे सब्जेक्ट से जुड़ी किताबें, डिक्शनरी ,पानी की बोतल इत्यादि। अनावश्यक वस्तुएं अपने पास रखने से ध्यान भंग होता है।यदि आपकी पढ़ाई के लिए मोबाइल, लैपटॉप, कंप्यूटर की आवश्यकता नहीं है तो उन्हें अपने पास न रखें क्योंकि पास रहने से हम उनका इस्तेमाल करने लगते हैं और पता ही नहीं चलता है कि कितना समय हमारा बर्बाद हो गया है।

7.यदि बोरियत हो तो अपने साथी के साथ पढ़ें (Read with your partner if boredom)-

यदि पढ़ते समय आपको बहुत बोरियत महसूस हो रही हो तो अपने खास मित्र के साथ स्टडी करें।अधिक मित्रों के साथ अर्थात ग्रुप स्टडी करने से ध्यान भंग हो जाता है तथा वार्तालाप में आपका टाइम वेस्ट हो सकता है। आपको बोरियत हो रही हो तो ज्यादा समय का ब्रेक न लें बल्कि दो-चार मिनट का ब्रेक लेकर पुनः स्टडी करने लग जाएं। अपने मित्र के साथ स्टडी करें तो यह तय कर लें कि कितने टाॅपिक तैयार करने हैं।बोरियत से बचने के लिए सब्जेक्ट चेंज भी कर सकते हैं।ग्रुप स्टडी में ज्यादातर लाभ के स्थान पर नुकसान उठाना पड़ता है क्योंकि आपस में किसी टॉपिक पर वार्ता चालू हो जाती है तो खत्म नहीं होती है और हमारा बहुत समय वेस्ट हो जाता है।

8.पूर्ण विश्राम करें (Take a rest)-

अध्ययन करने का मतलब यह नहीं है कि आप रात-रात भर जागकर पढ़ रहें।इससे आप तनावग्रस्त हो सकते हैं और मस्तिष्क को आराम न मिलने के कारण आप जो याद करते हैं उसे भी भूल जाएंगे। इसलिए कम से कम 6 घंटे की नींद तो आपको लेनी ही चाहिए। यदि आप पूर्ण विश्राम नहीं करेंगे तो आपकी एकाग्रता भंग हो जाएगी।खान-पान भी संतुलित रखें ,ज्यादा चटपटा मसालेदार से आपका हाजमा खराब हो सकता है।इसलिए संतुलित भोजन लें ।रोजाना योगासन-प्राणायाम करें जिससे आपमें चुस्ती रहेगी और आलस्य नहीं आएगा।
फास्ट फूड तथा मैदा से बनी चीजें हमारे स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक होता है ,इसलिए ऐसी चीजें खाने से बचें। हल्का व संतुलित भोजन लें।

9.एक सप्ताह में परीक्षा की तैयारी कैसे करें का सारांश (Summary of how to prepare for an exam in a week)-

उपर्युक्त बताई गई टिप्स का पालन करके आप कम समय में अच्छी तैयारी कर सकते हैं और अच्छे अंक प्राप्त कर सकते हैं।इन सबमें महत्त्वपूर्ण बात यह है कि आप एक बार टाइम टेबल बनाले तो उसका सख्ती से पालन करें।बार-बार टाइम टेबल न बदलें।अक्सर विद्यार्थी या अभ्यर्थी टाइम टेबल बना लेते हैं और उसका पालन नहीं करते हैं तो दूसरा टाइम टेबल बनाने लगते हैं ,ऐसा करने से आपका समय तो बर्बाद होता है और एकाग्रता भी भंग होती है।दृढ़संकल्प के द्वारा आप अपने लक्ष्य को आसानी से प्राप्त कर सकते हैं। तो यह है एक सप्ताह में तैयारी करने ( prepare for an exam in a week) के टिप्स।

No.Social MediaUrl
1.Facebookclick here
2.you tubeclick here
3.Twitterclick here
4.Instagramclick here
5.Linkedinclick here
6.Facebook Pageclick here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *