Menu

Professor Delivered 2hour Zoom Lecture

1.गणित के प्रोफेसर ने 2 घंटे का जूम लेक्चर दिया (Professor Delivered 2hour Zoom Lecture),गणित के एक प्रोफेसर ने 2 घंटे का जूम लेक्चर दिया है (A Mathematics Professor has Delivered 2-hour Zoom Lecture)-

  • गणित के प्रोफेसर ने 2 घंटे का जूम लेक्चर दिया (Professor Delivered 2hour Zoom Lecture)। यह गणित प्रोफ़ेसर है सिंगापुर के जिनका नाम है डोंग वांग (Dong Wang)।वह नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ़ सिंगापुर (NUS) में गणित विभाग में प्रोफेसर हैं।
  • कोरोनावायरस से फैली महामारी कोविड-19 के कारण सभी शिक्षकों को ऑनलाइन कक्षाएं लेने के लिए मजबूर कर दिया है।
  • गणित के प्रोफेसर का एक वीडियो वायरल हो रहा है वह दो घंटे तक म्यूट क्लास लेते रहे और उन्हें इसका तनिक भी पता नहीं चला कि उनके लेक्चर को कोई सुन ही नहीं रहा है।म्यूट का यहां अर्थ है मूक,मौन,चुप,स्पीचलेस।
  • 2 घंटे बाद उन्होंने छात्रों से प्रश्न पूछा तो छात्रों ने जवाब दिया कि उनका ऑनलाइन लेक्चर म्यूट था तथा उन्होंने इसे नहीं सुना।
  • प्रोफेसर डोंग वांग ने जब अपने ऑनलाइन डिवाइस को चेक किया तो उन्हें इस बात का आभास हुआ।तब उन्होंने प्रतिक्रिया दी कि 2 घंटे बर्बाद कर दिए।अब वे अन्य किसी समय लेक्चर देंगे।
  • हालांकि प्रोफेसर डोंग वांग को लेक्चर देते समय छात्रों ने उन्हें सचेत करने का प्रयास किया परंतु उनका प्रयास व्यर्थ ही गया।
  • इस प्रकरण से हमें यही सबक मिलता है कि ऑनलाइन, आभासी दुनिया है तथा इसकी तुलना फिजीकल क्लास से नहीं की जा सकती है।
  • फिजीकल क्लास में छात्र-छात्राएं और शिक्षक आमने-सामने होते हैं तथा कोई भी इंटरेक्शन होता है तो आमने सामने होते है।
  • छात्र-छात्राएं किसी भी समस्या का समाधान तत्काल प्रतिक्रिया व्यक्त करके जान सकते हैं।शिक्षक को मानसिक व फिजीकल रूप से कक्षा में ही उपस्थित रहना होता है।
  • यदि शिक्षक का मन कहीं दूसरी ओर जा रहा हो तो तत्काल छात्र-छात्राएं अपनी प्रतिक्रिया द्वारा शिक्षक को कक्षा में मानसिक व फिजीकल रूप प्रजेन्ट रहने के लिए मजबूर कर देते हैं।
  • ऑनलाइन क्लास में छात्र-छात्राएं शिक्षक से बहुत दूर होते हैं।ऑनलाइन क्लास में छात्र-छात्राएं फिजीकल क्लास जैसी आमने-सामने प्रतिक्रिया व्यक्त नहीं कर सकते हैं।
  • सभी डिवाइस शिक्षक के नियंत्रण में होते हैं।इसलिए ऑनलाइन क्लास को अकेले शिक्षक के भरोसे छोड़ने के दुष्परिणाम भुगतने पड़ते हैं।
  • ऑनलाइन क्लास में डिवाइसेज पर नियंत्रण रखने व निगरानी का कार्य किसी शिक्षण संस्थान के संचालक के पास या वरिष्ठ व्यक्ति के पास होना चाहिए जिसे इस तरह जूम या म्यूट क्लाॅस से बचा जा सकता है।
  • हालांकि सिंगापुर के प्रोफेसर डोंग वांग को 2 घंटे बाद जब छात्रों ने इस ओर ध्यान दिलाया कि वे 2 घंटे से म्यूट पर थे तब थोड़ी देर बाद उन्हें अपनी इस गलती का एहसास हो गया।
  • उन्होंने कहा भी कि वे इस क्लास को अन्य समय लेंगे।
  • वास्तविक और आभासी दुनिया का मूलभूत फर्क यही है कि आभासी दुनिया में रहने वाले व्यक्तियों का लोगों से मेलजोल,आपसी संपर्क,सद्भाव समाप्त हो जाता है।उनमें तालमेल,समन्वय, सहिष्णुता, सहयोग,सद्भाव,संवाद जैसे गुणों का विकास नहीं हो पाता है।यदि अधिक समय तक ऑनलाइन या आभासी दुनिया में कोई भी व्यक्ति रहेगा तथा दुनिया से उसका संपर्क कट जाएगा तो उसका स्वभाव चिड़चिड़ा,अव्यावहारिक,असहिष्णु हो जाएगा।
  • हालांकि समय की मांग के अनुसार ऑनलाइन क्लासेज का प्रचलन बढ़ रहा है परन्तु ऑनलाइन क्लासेज, फिजिकल क्लासेज का विकल्प नहीं हो सकती है।
  • ऑनलाइन तथा फिजीकल क्लासेज दोनों के अपने-अपने गुण व दोष है।इसलिए सावधान,सतर्क व चौकस रहा जाए तो ऑनलाइन क्लासेज के दोषों को दूर किया जा सकता है।
  • आपको यह जानकारी रोचक व ज्ञानवर्धक लगे तो अपने मित्रों के साथ इस गणित के आर्टिकल को शेयर करें।यदि आप इस वेबसाइट पर पहली बार आए हैं तो वेबसाइट को फॉलो करें और ईमेल सब्सक्रिप्शन को भी फॉलो करें।जिससे नए आर्टिकल का नोटिफिकेशन आपको मिल सके ।यदि आर्टिकल पसन्द आए तो अपने मित्रों के साथ शेयर और लाईक करें जिससे वे भी लाभ उठाए ।आपकी कोई समस्या हो या कोई सुझाव देना चाहते हैं तो कमेंट करके बताएं।इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें।

Also Read This Article-Worlds Hottest Mathematics Teacher

2.म्यूट पर 2 घंटे के लिए सिंगापुर के गणित के प्रोफेसर का व्याख्यान (Singapore Mathematics Professor Lectures for 2 Hours on Mute),गणित के प्रोफेसर ने 2 घंटे का जूम लेक्चर दिया (Professor Delivered 2hour Zoom Lecture)-

  • प्रोफेसर 2 घंटे की क्लास लेता है, उसे पता चलता है कि वह पूरे समय म्यूट था (Professor takes a 2-hour class, realises he was on mute whole time)
  • Mute-मौन,मूक,चुप,स्पीचलेस।
  • सिंगापुर: कोरोनावायरस महामारी ने कक्षाओं को ऑनलाइन आयोजित करने के लिए मजबूर किया है। वास्तविक कक्षाओं से आभासी लोगों के लिए संक्रमण कई शिक्षकों के लिए आसान नहीं रहा है क्योंकि वे उन ऐप्स को मास्टर करने के लिए संघर्ष करते हैं जिन्हें उन्हें कक्षाओं के संचालन के लिए उपयोग करना है।
  • सिंगापुर के एक व्याख्याता ने गलती से म्यूट पर अपना पूरा ऑनलाइन व्याख्यान दिया,दो घंटे खुद से बात करते हुए बर्बाद कर दिए।त्रुटि का पता चलने पर प्रोफेसर की प्रतिक्रिया का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।
  • YouTube पर सिंगापुर की घटनाओं द्वारा अपलोड किया गया वीडियो, डोंग वांग को दिखाता है, जो NUS के गणित विभाग में एक एसोसिएट प्रोफेसर है,अपने छात्रों से पूछकर अपना व्याख्यान समाप्त करता है, अगर उनके पास कोई प्रश्न है।
    जब कोई भी उसका उत्तर नहीं देता है, तो वह पूछता है, “नहीं … उह … क्या हम अपनी कक्षा समाप्त कर सकते हैं?”
  • कुछ छात्रों ने वांग को सूचित किया कि वह व्याख्यान के अधिकांश समय के लिए म्यूट कर रहे थे।एक छात्र ने कहा, “हम 6:08 के बाद से आपसे कुछ नहीं सुन सकते।”
  • इस पर, हैरान वांग पूछता है,”किस बात से?”छात्र समय की पुष्टि करता है और वैंग उसके बगल में देखता है जैसे कि वर्तमान समय की पुष्टि करता है।
  • शिक्षक फिर पूछता है, “आपका मतलब है,आपने कब तक सुना?”एक छात्र का जवाब है कि उन्होंने उसे व्याख्यान के पहले कुछ मिनटों तक ही सुना।
  • छात्र का उल्लेख है कि शिक्षक की स्क्रीन जम गई और वे 6:08 के बाद से उससे कुछ भी नहीं सुन सकते थे।
  • लगता है कि प्रोफेसर को हल्की घबराहट हुई और फिर अपने छात्रों को सूचित किया कि वह बाद की तारीख में पाठ को फिर से पढ़ेगा।
  • सिंगापुर (Singapore) के एक प्रोफेसर (Proffesor) ने अनजाने में म्यूट पर अपना पूरा ऑनलाइन लेक्चर (Entire Online Lecture On Mute) दिया, और इसे लगभग दो घंटे बाद महसूस किया,जब छात्रों से प्रश्न लेने का समय था. अपनी गलती पर चकराता हुआ प्रोफेसर अब वायरल हो रहा है.मूल रूप से टिकटॉक पर वीडियो @queen_yx_ द्वारा पोस्ट किया गया.अब यही वीडियो सोशल मीडिया (Social Media) पर काफी तेजी से वायरल (Viral Video) हो रहा है.
    प्रोफेसर ने अपने स्टूडेंट्स से पूछा कि क्या उनके पास कोई सवाल हैं.इस पर एक स्टूडेंट ने जवाब दिया,’हम 6:08 के बाद से आपको नहीं सुन पा रहे हैं.’इतना सुनकर प्रोफेसर हैरान रह गया और आश्चर्यचकित होकर पूछा,’क्या?’स्टूडेंट उस वक्त का समय बताता है.प्रोफेसर पास में रखी घड़ी को देखते हैं, जिसमें 8 बज रहे थे.यानी दो घंटे से जो प्रोफेसर बोल रहे थे,वो स्टूडेंट्स को सुनाई नहीं दे रहा था.
  • वह अपने निराशा को छिपा नहीं सका और कैमरे पर हाइपरवेंटिलेट करता देखा गया.थोड़ी देर बाद, उन्होंने वास्तविकता को स्वीकार किया. प्रोफेसर ने कहा कि वह कुछ अन्य समय फिर से क्लास लेंगे.
  • वांग के छात्र होने का दावा करने वाले एक सामाजिक मीडिया उपयोगकर्ता ने टिप्पणी अनुभाग में कहा कि उन्होंने उसे सचेत करने की कोशिश की लेकिन उनके सभी प्रयास व्यर्थ थे।उपयोगकर्ता अज़ुसा चैन ने कहा,”मैं इस मॉड को लेने वाला एक छात्र हूं और हां,जब यह हुआ था तब मैं वहां था।क्लास शाम 6 बजे शुरू हुई और उसने शाम 6.08 बजे खुद को म्यूट कर लिया।छात्रों ने सभी तरह की चीजों को अनम्यूट करने और यहां तक ​​कि उसका फोन नंबर द्वारा कॉल करने से ध्यान हटाने की कोशिश की।हालांकि, उसने कोई जवाब नहीं दिया और सबक जारी रखा। “
  • चैन ने कहा,”प्रतिभागी की गिनती समय के साथ घटती चली गई, क्योंकि छात्र प्रोफेसर से संपर्क नहीं कर सकते थे और उनकी कोई अन्य पुनरावृत्ति नहीं थी।आप जो देख रहे हैं, वह 20+ छात्र हैं जो प्रोफेसर के वापस आने के लिए 2 घंटे तक धैर्यपूर्वक इंतजार करते थे।”
  • छात्र ने समझाया कि वांग ने एक iPad पर पूरा सबक लिया और इस तरह,”आप इस तरह के सेटअप पर कई चीजों के गलत होने की उम्मीद कर सकते हैं।”
  • चैन ने आगे कहा, “इस घटना के बाद, जब भी वह व्याख्यान का आयोजन कर रहे थे, तब उन्होंने अपना फोन उनके पास छोड़ दिया ताकि हम आपातकाल के मामले में उन्हें फोन कर सकें।”
  • इस प्रकार सिंगापुर (Singapore) के एक प्रोफेसर (Proffesor) ने अनजाने में म्यूट पर अपना पूरा ऑनलाइन लेक्चर (Entire Online Lecture On Mute) दिया।
  • इस आर्टिकल में गणित के प्रोफेसर ने 2 घंटे का जूम लेक्चर दिया (Professor Delivered 2hour Zoom Lecture),गणित के एक प्रोफेसर ने 2 घंटे का जूम लेक्चर दिया है (A Mathematics Professor has Delivered 2-hour Zoom Lecture) के बारे में बताया गया है।

Also Read This Article-IIT Delhi is largest employer of country

No.Social MediaUrl
1.Facebookclick here
2.you tubeclick here
3.Instagramclick here
4.Linkedinclick here
5.Facebook Pageclick here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *