Menu

Tedford receive Bruckman Prize in math

Contents hide
1 1.टेडफोर्ड ने गणित में ब्रुकमैन पुरस्कार प्राप्त किया (Tedford receive Bruckman Prize in math,Dr Tedford receives Bruckman Prize for mathematics paper)-

1.टेडफोर्ड ने गणित में ब्रुकमैन पुरस्कार प्राप्त किया (Tedford receive Bruckman Prize in math,Dr Tedford receives Bruckman Prize for mathematics paper)-

(1.)डॉ. टेडफोर्ड ने गणित के पेपर के लिए ब्रुकमैन पुरस्कार प्राप्त किया (Tedford receive Bruckman Prize in math,Dr Tedford receives Bruckman Prize for mathematics paper)
11/19/2020
(2.)स्टीवन टेडफोर्ड (Steven Tedford)
स्टीवन टेडफोर्ड,पीएचडी,गणित के प्रोफेसर और विभाग के अध्यक्ष,हाल ही में फाइबोनैचि अनुक्रम पर अपने काम के लिए पॉल ब्रुकमैन पुरस्कार प्राप्त किया।
(3.)डॉ. टेडफोर्ड ने फ्रैंकलिन और मार्शल कॉलेज में गणित विभाग में सहायक प्रोफेसर के रूप में अपना करियर शुरू किया।2008 में, वह गणित विभाग में सहायक प्रोफेसर के रूप में मेसेरिकोर्डिया विश्वविद्यालय आए।
(4.)फिबोनाची त्रैमासिक में प्रकाशित,द फिबोनासी एसोसिएशन के एक आधिकारिक प्रकाशन,”फाइबोनैचि ग्राफ” की शुरुआत समर अंडरग्रेजुएट रिसर्च फैलोशिप (एसयूआरएफ) परियोजना के विषय से हुई,जो तत्कालीन प्रमुख सांख्यिकी और गणित,लिंडन केन ’20 के साथ थी।टेडफोर्ड ने पहले केन के संकाय संरक्षक और 2018 की गर्मियों के दौरान संरक्षक के रूप में कार्य किया।
(4.)उन्होंने अपने शोधकर्ता का उपयोग पूर्णांक संख्याओं में किया, ताकि विषय पर अपने ज्ञान को बढ़ाया जा सके और सीखने के अवसर प्रदान किए जा सकें।लिटिल टेडफोर्ड को पता था कि न केवल उनके शोध का परिणाम एक राष्ट्रीय पत्रिका में प्रकाशित होने वाले विद्वानों के पेपर में होगा, बल्कि इससे उन्हें ब्रुकमैन पुरस्कार भी मिलेगा।
(5.)पेपर,”फाइबोनैचि आरेख”, एक अवयव या अंकों और रेखाओं से बने ग्राफ के साथ प्रत्येक अवयव का प्रतिनिधित्व करके फाइबोनैचि संख्याओं के लिए एक नया ग्राफिक दृष्टिकोण लेता है।टेडफोर्ड का शोध परिमित गणितीय वस्तुओं का अध्ययन है, जो आमतौर पर दहनशील विज्ञान (combinatorics) के क्षेत्र में होता है।उन्होंने ग्राफ़ का उपयोग उन गुणों को सही ठहराने के लिए किया जो अनुक्रम के लिए जाने जाते हैं।
(6.)जब नवंबर 2019 में पेपर प्रकाशित हुआ,तो टेडफोर्ड को यह नहीं पता था कि उन्हें ब्रुकमैन पुरस्कार के लिए माना जा रहा है, न ही उन्होंने प्रतिष्ठित पुरस्कार के लिए उम्मीदवार बनने का इरादा किया था।पॉल ब्रुकमैन के सम्मान में नामित, जिनके फाइबोनैचि संख्याओं के साथ एक लंबा और प्रतिष्ठित संबंध था, ब्रुकमैन पुरस्कार उन व्यक्तियों को प्रदान किया जाता है जो एक नया दृष्टिकोण विकसित करते हैं या सामान्यीकृत फाइबोनैचि संख्याओं या संबंधित गणितीय जीवों के क्षेत्र में परिणाम बढ़ाते हैं।प्रत्येक समान वर्ष के लिए दो विजेता चुने जाते हैं – एक लिखित पेपर के लिए; और फिबोनाची एसोसिएशन के द्वि-वार्षिक सम्मेलन में एक प्रस्तुति के लिए।डॉ.टेडफोर्ड ने सितंबर 2020 में पुरस्कार प्राप्त किया, और 2016 में अपनी स्थापना के बाद से फाइबोनैचि संख्याओं पर प्रकाशित पेपर के लिए ब्रुकमैन पुरस्कार के तीसरे विजेता हैं।
(7.)यूनिवर्सिटी ऑफ मिसेरिकोर्डिया (Misericordia University) में गणित कार्यक्रम के बारे में अधिक जानने के लिए, www.misericordia.edu/mathematics पर जाएं।
आपको यह जानकारी रोचक व ज्ञानवर्धक लगे तो अपने मित्रों के साथ इस गणित के आर्टिकल को शेयर करें।यदि आप इस वेबसाइट पर पहली बार आए हैं तो वेबसाइट को फॉलो करें और ईमेल सब्सक्रिप्शन को भी फॉलो करें।जिससे नए आर्टिकल का नोटिफिकेशन आपको मिल सके ।यदि आर्टिकल पसन्द आए तो अपने मित्रों के साथ शेयर और लाईक करें जिससे वे भी लाभ उठाए ।आपकी कोई समस्या हो या कोई सुझाव देना चाहते हैं तो कमेंट करके बताएं। इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें।

Also Read This Article-Mathematician Juan Bernardo Gutierrez

2.टेडफोर्ड ने गणित में ब्रुकमैन पुरस्कार प्राप्त किया का सारांश (Conclusion of Tedford receive Bruckman Prize in math,Dr Tedford receives Bruckman Prize for mathematics paper)-

(1.)टेडफोर्ड ने गणित में ब्रुकमैन पुरस्कार प्राप्त किया (Tedford receive Bruckman Prize in math,Dr Tedford receives Bruckman Prize for mathematics paper)।आइए इस पर चर्चा करें कि प्रतिभाएं कैसे विकसित होती है?
(2.) प्रतिभाशाली व्यक्ति ही सफल गणितज्ञ,संत,राजनेता, समाजसेवी, साहित्यकार, कलाकार, व्यवसायी, व्यवस्थापक होते देखे गए हैं।प्रतिभावान ही डाकू, चोर,ढग जैसे दुस्साहसपूर्ण कार्य करते हैं।
(3.)सैनानायकों के रूप मेें,लड़ाकू योद्धाओं के रूप में उन्हें ही अग्रिम पंक्ति में खड़ा देखा जा सकता है।क्रांतिकारी भी ऐसे ही स्तर के लोग बनते हैं।
(4.)प्रतिभा वस्तुतः संकल्पशक्ति, चिंतनशक्ति एवं जुझारूपन का नाम है।प्रतिभा के बल पर ही व्यक्ति सर्वथा प्रतिकूल परिस्थितियों के बीच भी उन्नति के शिखर पर जा पहुंचते हैं।
(5.)हर व्यक्ति में ऊर्जा का अदम्य स्रोत छिपा है।यदि इसे उचित रीति से विकसित किया जा सके तो उसका परिचय परिष्कृत प्रतिभा का चमत्कार है जो आज हर किसी के लिए संभव है।
(6.)प्रतिभा का विपुल भंडार हर व्यक्ति के अंतराल में भरा पड़ा है,पर उसके उभरने, प्रकट होने का अवसर प्राय: उन दबावों के कारण नहीं हो पाता जो बुराइयां उसके अंदर समाई हुई होती है।
(7.)टेडफोर्ड ने गणित में ब्रुकमैन पुरस्कार प्राप्त किया (Tedford receive Bruckman Prize in math,Dr Tedford receives Bruckman Prize for mathematics paper),उसके लिए उन्होंने अपनी प्रतिभा का संवर्धन किया है।
(8.)औसत आदमी मान बैठता है कि उसकी हस्ती नगण्य है। उससे कोई बड़े काम का बड़ा वजन नहीं उठ सकता है।
(9.)ऐसे व्यक्ति सोचते हैं कि खैरियत इसी में है कि जैसे भी कुछ दिन गुजर रहे हैं, उसी प्रकार संतोषपूर्वक समय काट लिया जाए।दुर्दिनों के साथ तालमेल बिठा लिया जाए।इस तरह की मानसिकता से व्यक्ति में विद्यमान क्षमताएं विकसित नहीं होती है बल्कि उसका पतन होता चला जाता है।
(10.)प्रतिभा को उभारने,उठाने का जब भीतर या बाहर से कोई प्रयत्न नहीं होता,तो आगे बढ़ने,ऊंचा उठने की संभावना ही कैसे बने?उस दिशा में कुछ ठोस प्रयत्न करने का प्रयास ही कैसे चले?
(11.)जब उत्साह ही मर जाता है तो फिर आगे बढ़ने का अवसर छप्पर फाड़कर आकाश से आंगन में कैसे आ सकता है?
(12.)कई गणितज्ञ,कलाकार, वैज्ञानिक,गुणी देखे जाते हैं पर ऐसे कम ही दिखाई देते हैं जिन्होंने अपने साहस और पौरुष के सहारे अवरोधों से टकराते हुए प्रगति का पथ प्रशस्त किया हो।
(13.)हर व्यक्ति के अन्तराल में सामर्थ्य का भंडार भरा पड़ा है परन्तु इसे दुर्भाग्य ही कहना चाहिए कि ऐसी प्रचंड सामर्थ्य हर किसी के भीतर होते हुए भी उसका सदुपयोग कर सकना तो दूर पहचानना नहीं बन पड़ता।
(14.)अपनी क्षमताओं, सामर्थ्य से अनभिज्ञ रहना और इसे अपने कंधे पर लादकर चलना,इसे ही कहते हैं प्रतिभा का अभाव।
(15.)डाॅ.स्टीवन टेडफोर्ड ने अपनी प्रतिभा को पहचानकर उसे सही दिशा दी जिसके आधार पर उन्होंने गणित में उत्कृष्ट कार्य किया।
(16.)अपनी प्रतिभा को निखारने में उन्होंने कोई कसर नहीं छोड़ी वरना संसार में बहुत से गणितज्ञ है,वे जीवनभर उसी हालत में पड़े रहते हैं तथा इसे अपनी नियति मान लेते हैं। अपने आपको उठाने,उभारने का प्रयास नहीं करते हैं।
(17.)डाॅ.स्टीवन टेडफोर्ड से हमें यही सीख लेनी चाहिए कि यदि हम भी अपने अन्दर सुप्त प्रतिभा को उभारने का प्रयास करें तो एकदिन अद्भुत व चमत्कारिक कार्य दुनिया के सामने प्रस्तुत कर सकते हैं।
अपनी प्रतिभा को उभारने, विकसित करने के कारण ही टेडफोर्ड ने गणित में ब्रुकमैन पुरस्कार प्राप्त किया (Tedford receive Bruckman Prize in math,Dr Tedford receives Bruckman Prize for mathematics paper)।

3.गणित में सर्वोच्च पुरस्कार क्या है? (What is the highest prize in mathematics?)-

फील्ड्स मेडल को लंबे समय से गणित के क्षेत्र में सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कार माना जाता है और अक्सर इसे गणित का नोबेल पुरस्कार कहा जाता है।नोबेल पुरस्कार के विपरीत, फील्ड्स मेडल केवल हर चार साल में प्रदान किया जाता है।

4. क्या गणित के लिए नोबल पुरस्कार है? (Is there a Nobel Prize for mathematics?)-

गणित के लिए कोई नोबेल पुरस्कार नहीं है,लेकिन कई गणितज्ञों ने पुरस्कार जीता है,आमतौर पर भौतिकी के लिए, लेकिन कभी-कभी अर्थशास्त्र के लिए, और साहित्य के लिए एक मामले में।उदाहरण के लिए, जब गणितज्ञ जॉन नैश ने 1994 में नोबेल पुरस्कार जीता, तो यह एक परिणाम के लिए था जिसका अर्थशास्त्र में एक बड़ा प्रभाव था।

5.गणित में नोबेल पुरस्कार किसने जीता? (Who won the Nobel Prize in mathematics?),नोबेल पुरस्कार गणित 2019 (Nobel prize mathematics 2019)-

डॉ. करेन उहलेनबेक (Dr. Karen Uhlenbeck) ने मंगलवार को 2019 एबेल पुरस्कार जीता – यह प्रतिष्ठित पुरस्कार पाने वाली पहली महिला बन गई,जिसे अक्सर गणित का नोबेल पुरस्कार कहा जाता है।सहकर्मियों द्वारा “मैरिकिक गणितज्ञ (maverick mathematician)” के रूप में देखा गया, डॉ।

6.फील्ड्स मेडल कौन देता है? (Who gives Fields Medal?)-

मौजूदा काम के लिए विशिष्ट गणितीय उपलब्धि और भविष्य की उपलब्धि के वादे को मान्यता देने के लिए अंतर्राष्ट्रीय कांग्रेस के गणितज्ञों के अवसर पर फील्ड्स मेडल हर चार साल में प्रदान किया जाता है।

7.गणित में नोबल पुरस्कार 2020 (Nobel prize in mathematics 2020)-

(1.) हिलेल फुरस्टनबर्ग (Hillel Furstenberg)
यरुशलम इज़राइल और संयुक्त राज्य अमेरिका (जर्मनी में पैदा हुआ)[University of Jerusalem Israel and  United States (born in  Germany)]
“समूह सिद्धांत, संख्या सिद्धांत और संयोजन विज्ञान में संभाव्यता और गतिविज्ञान से विधियों के उपयोग का नेतृत्व करने के लिए।”[“For pioneering the use of methods from probability and dynamics in group theory, number theory and combinatorics.”]
(2.) ग्रिगोरी मारगुलिस (Grigory Margulis)
येल विश्वविद्यालय (Yale University)
रूस और संयुक्त राज्य अमेरिका (Russia and  United States)

8.भारत में गणित में सर्वोच्च पुरस्कार (Highest award in mathematics in india)-

पुरस्कारों में फ़ील्ड्स मेडल (Fields Medal),गणित में सर्वोच्च पुरस्कार, रॉल्फ नेवान्लिना पुरस्कार (Rolf Nevanlinna Prize) और कार्ल फ्रेडरिक गॉस पुरस्कार (Carl Friedrich Gauss Prize) शामिल हैं।हैदराबाद, भारत में आयोजित अंतिम ICM में, दो नए पुरस्कार, चरन मेडल (Chern Medal) और लीलावती पुरस्कार (Leelavati Prize),मौजूदा तीन पुरस्कारों में जोड़े गए।

9.गणित में वूल्फ पुरस्कार (wolf prize in mathematics)-

इज़राइल में वुल्फ फाउंडेशन द्वारा गणित में वुल्फ पुरस्कार लगभग प्रतिवर्ष प्रदान किया जाता है।यह फाउंडेशन द्वारा स्थापित छह वुल्फ पुरस्कारों में से एक है और 1978 से सम्मानित किया गया है;अन्य कृषि, रसायन विज्ञान, चिकित्सा, भौतिकी और कला में हैं।

10.एबेल प्राइज (Abel prize)-

एबेल पुरस्कार की स्थापना नार्वे की सरकार ने 2002 में नील्स हेनरिक एबेल के जन्म की 200 वीं वर्षगांठ के अवसर पर की थी।

11.फील्ड्स मैडल प्राइज मनी (Fields medal prize money)-

फील्ड्स मेडल्स को हर चार साल में 40 वर्ष से कम उम्र के सबसे होनहार गणितज्ञों को प्रदान किया जाता है।प्रत्येक विजेता को $ 15,000 ($ 11,500; £ 8,800) नकद पुरस्कार मिलता है।

12.क्यों गणित के लिए कोई नोबेल पुरस्कार नहीं है? (Why there is no nobel prize for mathematics)-

नोबेल, एक आविष्कारक और उद्योगपति, ने गणित में केवल एक पुरस्कार नहीं बनाया क्योंकि वह गणित या सैद्धांतिक विज्ञान में विशेष रुचि नहीं रखता था।उनका मानव जाति के लिए सबसे बड़ा व्यावहारिक लाभ उन “ आविष्कारों या खोजों ” के लिए पुरस्कारों की बात करता है।
इस आर्टिकल में एबेल पुरस्कार,फील्ड्स मेडल तथा टेडफोर्ड ने गणित में ब्रुकमैन पुरस्कार प्राप्त किया (Tedford receive Bruckman Prize in math,Dr. Tedford receives Bruckman Prize for mathematics paper) के बारे में बताया गया है।

Also Read This Article-Mathematics Professor Mamokgethi Phakeng

No. Social Media Url
1. Facebook click here
2. you tube click here
3. Instagram click here
4. Linkedin click here
5. Facebook Page click here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *