z35W7z4v9z8w How to Get Good Marks in Mathematics

Sunday, 1 December 2019

How to Get Good Marks in Mathematics

How to Get Good Marks in Mathematics

1.गणित में अच्छे अंक कैसे प्राप्त करें(How to Get Good Marks in Mathematics) -

How to Get Good Marks in Mathematics
How to Get Good Marks in Mathematics 
विद्यार्थियों को गणित में अच्छे अंक लाने के लिए कुछ टिप्स हैं यदि उन टिप्स पर अमल किया जाए तो गणित में बहुत अच्छे अंक प्राप्त किए जा सकते हैं। गणित विषय ऐसा विषय है जिसमें पूरे में से पूरे अंक भी प्राप्त किए जा सकते हैं। यदि अच्छे अंक आते हैं तो विद्यार्थी अपने प्राप्तांक के प्रतिशत को बढ़ा सकते हैं। यहाँ विद्यार्थियों के लिए कुछ टिप्स का उल्लेख किया गया है।

यदि आर्टिकल पसन्द आए तो अपने मित्रों के साथ शेयर और लाईक करें जिससे वे भी लाभ उठाए ।आपकी कोई समस्या हो या कोई सुझाव देना चाहते हैं तो कमेंट करके बताएं। इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें। 

Also Read This Article-How Students Can Improve Their Skills Through a Mathematics Project 

2.पिछली कक्षाओं के सिलेबस की पुनरावृत्ति(Recap of Syllabus of Previous Classes) -

प्रतिवर्ष विद्यार्थियों की वार्षिक परीक्षा के बाद ग्रीष्मकालीन छुट्टियाँ आती है। इन छुट्टियों में विद्यार्थी अपनी पिछली कक्षाओं की गणित की पाठ्यपुस्तक को हल कर सकते हैं। जो चेप्टर आपको कठिन लगते हैं, उनको तो आप ग्रीष्मकालीन छुट्टियों में हल कर सकते हैं। पिछली कक्षाओं की गणित के सूत्रों के लिए एक छोटी नोटबुक तैयार कर लें और उसे यदा-कदा दोहराते रहे। पिछली कक्षाओं के चेप्टर को हल करने करने से आपको कई फायदे हैं। पहला फायदा तो यह है कि गणित विषय जिसे आप कठिन समझते हैं, देखते-देखते ही सरल होता जाएगा। दूसरा फायदा यह है कि आपके समय का सदुपयोग होगा। तीसरा फायदा यह है कि आप बुरी प्रवृत्तियों से बचे रहेंगे क्योंकि कहा गया है कि खाली दिमाग शैतान का घर होता है। चौथा फायदा यह है कि गणित विषय पर आपकी अच्छी पकड़ होने से आप आत्म-निर्भर होते जाएंगे, दूसरों पर निर्भर नहीं रहेंगे। आपको कई बार ऐसा लगता है कि क्या करें कोई गणित में सहयोग करने वाला है ही नहीं इसलिए गणित कठिन टाॅपिक हल करने में किसकी मदद लें। परन्तु यदि आप पिछली कक्षाओं की exercise हल कर लेंगे तो देखते ही देखते आपके पास महत्त्वपूर्ण टाॅपिक की नोटबुक तैयार हो जाएगी। आप आगे की कक्षाओं में गणित को पढ़ेगें तो आपका बैकग्राउंड कमजोर नहीं रहेगा। बहुत से सवालों में पिछली कक्षा के सूत्र, समीकरण, प्रमेय, सिद्धान्तों का प्रयोग होता है और यदि वे याद होते हैं तो आप सवाल को आसानी से हल कर सकते हैं।
Also Read This Article-How is the Science of Solving Mathematics Problems 

3.नियमित रूप से गणित का अभ्यास करें(Practice Mathematics Regularly) -

How to Get Good Marks in Mathematics
How to Get Good Marks in Mathematics 
आपको गणित तथा कठिन विषय पर पकड़ बनानी है तथा अच्छे अंक लाने हैं तो नियमित रूप से अभ्यास करें।
अच्छा तो यह होगा कि माता-पिता अपने बच्चों के साथ नियमित रूप से बैठें और स्वयं भी पढ़ें व बच्चों को भी पढ़ाएं। इससे बच्चों में अध्ययन करने के प्रति रुचि जाग्रत होगी। यदि माता-पिता गणित और कठिन विषय में किसी समस्या को हल करने में मदद करते हैं तो सबसे बढ़िया काम है। इसके कई फायदे हैं पहला फायदा तो यह है कि आपको ट्यूटर नहीं लगाना पड़ेगा।दूसरा फायदा यह है कि आपके पैसे की बचत होगी। तीसरा फायदा यह है कि आप मन से उनकी समस्या का समाधान करेंगे तो क्योंकि ट्यूटर प्रोफेशनल होते हैं वे सीमित शिक्षा ही प्रदान करेंगे परन्तु माता-पिता उनकी हर समस्या का समाधान करने में योगदान देंगे।

4.पाठ्यक्रम के अनुसार अध्ययन करें(Study by Syllabus) -

अधिकांश विद्यार्थी गणित विषय से घबराते हैं इसे आसान करने के लिए हम गणित विषय से सम्बन्धित टिप्स बताते रहते हैं। यदि गणित विषय में अच्छे अंक प्राप्त करने हैं तो हम जो टिप्स आपको बता रहे हैं, इन टिप्स का पालन करेंगे तो तो गणित में आप अच्छे अंक अर्जित कर सकते हैं। किसी भी परीक्षा के लिए यह सबसे जरूरी बात है कि यदि आपको सिलेबस नहीं पता तो आप अन्धेरे में तीर मार हैं। सबसे पहली और सबसे जरुरी बात यही है कि गणित के पाठ्यक्रम को देखकर ही तैयारी करें। पाठ्यक्रम से सम्बन्धित टाॅपिक नहीं है उनको तैयार करने में अपना समय बरबाद न करें। जो भी टाॅपिक सिलेबस में है उसकी व्यापक और गहराई से तैयारी करें।

5.गणित को समझकर याद करें(Understand and Remember mathematics) -

गणित रटने का विषय नहीं है बल्कि इसे समझकर बार-बार अभ्यास करें। सूत्रों, सिद्धान्तों, प्रमेयों को समझकर ही याद करें। सूत्रों के लिए अलग से नोटबुक तैयार करें और समय-समय पर उनकी पुनरावृत्ति करते रहें। जो टाॅपिक ज्यादा कठिन है उसे समझकर बार-बार अभ्यास करें।
गणित विषय को बोझ न समझें
गणित विषय को जो विद्यार्थी बोझ समझने लगते हैं वे इसे जैसे तैसे उत्तीर्ण करके पीछा छुड़ाना चाहते हैं परन्तु यदि हम गणित को आनन्द की अनुभूति करते हुए एक खेल की तरह हल करें तो गणित विषय हमारे लिए आसान हो जाता है। हमारी मानसिकता का इसमें बहुत प्रभाव पड़ता है, यदि हम मन से हार मान लेते हैं तो वह विषय हमारे लिए बहुत कठिन हो जाता है कहावत भी है कि मन के हारे हार है और मन के जीते जीत। अर्थात् यदि हम गणित को एन्‍जॉय करते हुए तथा प्रफुल्लित मन से हल करें तो मुश्किल लगनेवाले टाॅपिक भी सरल लगने लगेंगे। हमेशा सकारात्मक सोचे और हार न माने। जो मन से हार मान लेता है वह गणित में 50% तो गणित को हल करने से पहले ही असफल हो जाता है।ज्यों-ज्यों हम गणित को हल करते जाते हैं और कठिन सवालों को हल नहीं कर पाते हैं तो हमारी हिम्मत टूटती है। इस प्रकार बाकी 50%में से 25%हिम्मत हल करने पर टूट जाती है। विद्यार्थियों के सम्मुख आनेवाली समस्याओं का हल जब उन्हें दिखाई नहीं देता है और वे समस्याएं अनसुलझी रह जाती है तो हमारी रही सही हिम्मत भी टूट जाती है। विद्यार्थी बिल्कुल निराश हो जाते हैं और गणित विषय को जैसे तैसे हल करके उत्तीर्ण करना चाहते हैं। 
No. Social Media Url
1. Facebook click here
2. you tube click here
3. Twitter click here
4. Instagram click here
5. Linkedin click here
,

No comments:

Post a Comment

Please do not enter any spam link in the comment box.